Search
Close this search box.

Ayushman Bharat Yojana: अब ‘आयुष्मान कार्ड ’ मुफ्त पाएं, जानिए मुफ्त इलाज, 5 लाख का बीमा लेने के लिए कहां और कैसे बनेगा कार्ड

Ayushman Bharat Yojana
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
Reddit
LinkedIn
Threads
Tumblr
Rate this post
  • Ayushman Bharat Yojana: अब ‘आयुष्मान कार्ड ’ मुफ्त पाएं, जानिए मुफ्त इलाज, 5 लाख का बीमा लेने के लिए कहां और कैसे बनेगा कार्ड
  • पहले आयुष्मान कार्ड (Ayushman cards)  बनाने में 30 रुपये लगते थे और कागज बन जाता था, अब पीवीसी कार्ड मिलेगा।

Ayushman Bharat Yojana: आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (PM-JAY) के लाभार्थियों के लिए सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है। अब आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थी अपने ‘आयुष्मान कार्ड ‘ (Ayushman cards) मुफ्त में ले सकते हैं, अर्थात अब इसके लिए कोई शुल्क नहीं देना होगा। पहले इस कार्ड के लिए 30 रुपये लिए जाते थे।

आयुष्मान कार्ड कहां मिलेगा

लाइव मिंट की एक रिपोर्ट के अनुसार, केवल इस कार्ड के माध्यम से लाभार्थी अपना इलाज नि: शुल्क करवा सकते हैं। लाभार्थियों को देश भर के कॉमन सर्विस सेंटर (CSCs) में आयुष्मान भारत कार्ड (Ayushman cards) मिलता है। हालांकि, इस कार्ड को डुप्लिकेट करने के लिए, आपको 15 रुपये का भुगतान करना होगा।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) ने लाभार्थियों को मुफ्त कार्ड देने का फैसला किया ताकि इस योजना के तहत सेवा वितरण की प्रक्रिया को सुव्यवस्थित और सुगम बनाया जा सके।

ये भी पढ़े:- RBI ने बैंकों के नाम पर फर्जी कॉल और संदेशों पर चिंता व्यक्त की, शेयर किए ये सेफ्टी टिप्स

सरकार ने कहा कि आयुष्मान कार्ड पीएम-जेएवाई के किसी भी अस्पताल में पाया जा सकता है। अब इसे मुफ्त में जारी किया जाएगा। यह एक तरह का पीवीसी कार्ड है जिसे पेपर कार्ड पर लाया जा रहा है। इस कार्ड को कई सालों तक आसानी से रखा जा सकता है।

आयुष्मान भारत योजना क्या है? (What is Ayushman Bharat Yojana in Hindi)

आयुष्मान भारत को प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (Pradhan Mantri Jan Arogya Yojana AB-PMJAY) या राष्ट्र स्वास्थ्य सुरक्षा योजना (National Health Protection Scheme) या मोदीकेयर (ModiCare) के नाम से भी जाना जाता है। केंद्र सरकार इस योजना के तहत देश के 10 करोड़ परिवारों को सालाना 100 मिलियन रुपये का स्वास्थ्य बीमा प्रदान कर रही है।

ये भी पढ़े:- चेतावनी! लीक हुए इन Popular Apps के 300 मिलियन यूजर्स का पासवर्ड, लिस्‍ट में आपका नाम भी तो नहीं

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now
Google News Follow Me

इलाज के लिए आयुष्मान कार्ड जरूरी है

इस योजना के तहत, देश के दस करोड़ गरीब परिवारों को प्रति परिवार 5 लाख रुपये तक के कैंसर और बीमा कवर सहित 1300 से अधिक बीमारियों का मुफ्त इलाज किया जा रहा है। अगर आपका नाम इस योजना के तहत आता है और आप इसका लाभ लेना चाहते हैं, तो आपके पास ‘आयुष्मान कार्ड’ होना चाहिए। इस कार्ड को आयुष्मान भारत योजना गोल्डन कार्ड (Ayushman Bharat Yojana Golden Card) के नाम से भी जाना जाता है।

आयुष्मान कार्ड बनाना आसान

यदि आपका नाम आयुष्मान भारत योजना में है और आप गोल्डन कार्ड प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपको इस योजना में शामिल अस्पताल या सार्वजनिक सेवा केंद्र से संपर्क करना चाहिए। ग्रामीण क्षेत्रों में कार्ड बनाने के लिए लोक सेवा केंद्र बनाए गए हैं, जहाँ आप इस कार्ड को बनवा सकते हैं। इसे बनाने के लिए, आप 30 रुपये का भुगतान करते थे, लेकिन अब यह मुफ्त होगा और आपको राशन कार्ड, आधार कार्ड और मोबाइल नंबर देना होगा।

ये भी पढ़े:- अब SBI आपकी शादी में मदद करेगा, आपको आसानी से पैसा मिलेगा, इस योजना के बारे में सबकुछ जानिए

आयुष्मान भारत में एक नया प्रावधान किया गया है। नया नियम यह है कि योजना से जुड़े परिवार में शादी करने वाली नवविवाहित बहू को अन्य स्वास्थ्य सेवाएं लेने के लिए किसी कार्ड या दस्तावेज की आवश्यकता नहीं होगी। ऐसी महिलाएं अपने पति का आधार कार्ड दिखाकर सभी सुविधाओं का लाभ उठा सकेंगी। बता दें कि पहले ऐसी महिलाओं को विवाह प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती थी।

सबसे पहले इस लिंक https://mera.pmjay.gov.in/search/login पर क्लिक करें। इसके बाद अपना मोबाइल नंबर डालें। फिर कैप्चा जोड़ें। फिर ओटीपी जनरेट करें। फिर ओटीपी नंबर डालें। फिर राज्य का चयन करें। उसके नाम या जाति की श्रेणी के आधार पर खोजें। इसके बाद अपना विवरण दर्ज करें और खोजें।

ये भी पढ़े:- Credit Card उपयोगकर्ताओं को इन महत्वपूर्ण बातों को जानना चाहिए, भविष्य में परेशानी नहीं आएगी 

आयुष्मान भारत हेल्पलाइन नंबर

आप इन नंबरों पर पता कर सकते हैं कि आप आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थी हैं या नहीं। हेल्पलाइन 14555 है। इस पर मरीज आयुष्मान भारत योजना के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना की एक और हेल्पलाइन नंबर 1800 111 565 भी है। यह संख्या 24 घंटे चालू होगी।

ये भी पढ़े:- अगर WhatsApp के नए नियमों को स्वीकार नहीं किया गया तो 120 दिनों के बाद अकाउंट को डिलीट कर दिया जाएगा, कई मुश्किलें उठानी होंगी

Talkaaj: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें Talkaaj ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए Talkaaj फेसबुक पेज लाइक करें

Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
LinkedIn
Reddit
Picture of TalkAaj

TalkAaj

Hello, My Name is PPSINGH. I am a Resident of Jaipur and Through This News Website I try to Provide you every Update of Business News, government schemes News, Bollywood News, Education News, jobs News, sports News and Politics News from the Country and the World. You are requested to keep your love on us ❤️

Leave a Comment

Top Stories