Search
Close this search box.

Google की बढ़ी टेंशन! ‘BharOS’, Made in India Operating System आया, एंड्रॉयड की होगी छुट्टी 

'BharOS', Made in India Operating System
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
Reddit
LinkedIn
Threads
Tumblr
Rate this post

Google की बढ़ी टेंशन! ‘BharOS’, Made in India Operating System आया, एंड्रॉयड की होगी छुट्टी 

Made in India Operating System: भारत अब स्वदेशी मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम BharOS की मदद से Android और iOS को टक्कर देने जा रहा है। आईआईटी मद्रास द्वारा तैयार इस मोबाइल ओएस को अब भारत सरकार से हरी झंडी मिल गई है।

पिछले कुछ वर्षों में भारत लगभग हर क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनने की ओर बढ़ा है और अब एक नए मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम का प्रवेश हुआ है। यानी फोन में एंड्रॉयड और आईओएस जैसे ऑपरेटिंग सिस्टम इस्तेमाल करने की जगह अब ‘Made in India’ सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया जाएगा। लंबे समय से चर्चा में चल रहे इस ऑपरेटिंग सिस्टम का नाम BharOS रखा गया है और सरकार ने इसे हरी झंडी दे दी है.

भारत के स्वदेशी मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम भरोस का आईटी मंत्री अश्विनी वैष्णव और शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने सफलतापूर्वक परीक्षण किया और उन्होंने इसे वीडियो कॉल के हिस्से के रूप में हरी झंडी दिखाई। बता दें, इस मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम को IIT मद्रास से जुड़ी एजेंसी ने तैयार किया है और इसे कोई भी ओरिजिनल इक्विपमेंट मैन्युफैक्चरर (OEM) मोबाइल डिवाइस का हिस्सा बना सकता है।

READ ALSO | Top 10 Best Laptops For Video Editing & Photo Editing in Complete Details

इस कंपनी ने भरोस तैयार किया

नया मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम BharOS, JandK Operations Pvt Ltd द्वारा IIT Madras के सहयोग से विकसित किया गया है। दावा है कि इसे किसी भी कमर्शियल हैंडसेट में आराम से इस्तेमाल किया जा सकता है। डिवेलपर्स के मुताबिक, इस ओएस की मदद से यूजर्स को फोन इस्तेमाल करते समय बेहतर प्राइवेसी और सिक्यॉरिटी मिलेगी। फीचर्स के मामले में यह Android को सीधी टक्कर दे सकता है।

BharOS
BharOS

कोई भी प्री-इंस्टॉल्ड ऐप नहीं मिलेगा

स्वदेशी मोबाइल ऑपरेटिंग सिस्टम को जो चीज बेहतर बनाती है, वह है इसका नो डिफॉल्ट ऐप्स (NDA) व्यवहार। यानी इसमें ऐंड्रॉयड की जगह ज्यादा स्टोरेज स्पेस मिलेगा और फोन में कई ऐप्स पहले से इंस्टॉल नहीं होंगे। यानी यूजर्स को फोन में ऐसा कोई ऐप रखने या इस्तेमाल करने के लिए बाध्य नहीं किया जाएगा, जिसे वे इस्तेमाल नहीं करना चाहते। इसकी तुलना में एंड्रॉयड फोन में कई ऐप्स पहले से इंस्टॉल होते हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Google News Follow Me

सॉफ्टवेयर अपडेट मिलते रहेंगे

डिवेलपर्स ने बताया है कि BharOS को नेटिव ‘ओवर द एयर’ (OTA) अपडेट दिया जाएगा। यानी किसी तरह की लंबी प्रक्रिया से गुजरे बिना फोन में लेटेस्ट सॉफ्टवेयर वर्जन अपने आप इंस्टॉल हो जाएगा। यह ओएस प्राइवेट ऐप स्टोर सर्विसेज (PASS) के साथ भरोसेमंद ऐप इंस्टॉल करने में सक्षम होगा और यह सुनिश्चित करेगा कि यह मैलवेयर या ऐसे खतरों से पूरी तरह सुरक्षित है। हालांकि शुरुआत में BharOS का इस्तेमाल सिर्फ उन्हीं एजेंसियों द्वारा किया जाएगा जिन्हें बेहतर प्राइवेसी की जरूरत है।

Posted by Talkaaj.com

click here

10 करोड़ो पाठकों की पहली पसंद Talkaaj.com अब किसी और की ज़रूरत नहीं

Talkaaj

 

READ ALSO | 2023 Best Laptop Brands in India Details Review 

READ ALSO | Top 10 Best Smartwatches Under 10000 In India – Buyer’s Guide Review

READ ALSO | Life Insurance: There are 8 types of policies available, take a plan according to your need

If you liked this article then do like and share it.

Thanks for reading this article till the end…

???????? Join Our Group For All Information And Update, Also Follow me For Latest Information????????

???? WhatsApp                       Click Here
???? Facebook Page                  Click Here
???? Instagram                  Click Here
???? Telegram                   Click Here
???? Koo                  Click Here
???? Twitter                  Click Here
???? YouTube                  Click Here
???? Google News                  Click Here
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
LinkedIn
Reddit
Picture of TalkAaj

TalkAaj

Hello, My Name is PPSINGH. I am a Resident of Jaipur and Through This News Website I try to Provide you every Update of Business News, government schemes News, Bollywood News, Education News, jobs News, sports News and Politics News from the Country and the World. You are requested to keep your love on us ❤️

Leave a Comment

Top Stories