Home मनोरंजन Big News : पद्मश्री से कलाकारों को घर खाली करने का नोटिस,...

Big News : पद्मश्री से कलाकारों को घर खाली करने का नोटिस, कलाकार ने कहा – देश का नाम रोशन करने का ये सिला मिला

Big News : पद्मश्री से कलाकारों को घर खाली करने का नोटिस, कलाकार ने कहा – देश का नाम रोशन करने का ये सिला मिला नोटिस में कहा गया है कि 31 दिसंबर तक सरकारी आवास खाली कर दिया जाना चाहिए। यह नोटिस बिरजू महाराज सहित कई कलाकारों को दिया गया है, जिसमें जतिन दास, पंडित भजन सोपोरी, रीता गांगुली और उस्ताद एफ। वासिफुद्दीन डागर शामिल हैं।

कोरोना काल में जहां सरकार मकान मालिकों को ये कह रही है कि वो किरदार से घर खाली ना करवाएं, सभी कलाकार इस बात से आहत हैं कि सरकार ने देश के बड़े कलाकारों के साथ क्या किया। देश के ये बड़े कलाकार, जिन्हें पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया है, उन्हें इस बात का दुख है कि आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय ने उन्हें सरकारी घर खाली करने का नोटिस दिया है।

ये भी पढ़े :- भारत (India) के ये दो शहर दुनिया में सबसे सस्ते हैं, आप अपना घर बना सकते हैं

नोटिस में कहा गया है कि 31 दिसंबर तक सरकारी आवास खाली कर दिया जाना चाहिए। यह नोटिस बिरजू महाराज सहित कई कलाकारों को दिया गया है, जिनमें जतिन दास, पंडित भजन सोपोरी, रीता गांगुली और उस्ताद एफ। वासिफुद्दीन डागर शामिल हैं।

कई कलाकारों ने सरकार के इस फैसले के खिलाफ कड़ी आपत्तियां जारी की हैं। ये कलाकार सरकार से ऐसा नहीं करने का अनुरोध कर रहे हैं। देश के सर्वश्रेष्ठ पद्म श्री पुरस्कार से सम्मानित संतूर वादक पंडित भजन सोपोरी को भी सरकारी आवास खाली करने का सरकार का फरमान मिला है। उन्हें सरकार द्वारा 2004 में घर आवंटित किया गया था। अब जब उन्हें घर खाली करने का नोटिस मिला, तब से वह बहुत दुखी हैं। उन्होंने बताया कि यह नोटिस ऐसे समय में मिला है जब देश में कोरोना की स्थिति काफी खराब है।

ये भी पढ़े :-जितनी पढ़ाई, उतना पैसा : निजी स्कूल (School) उतनी ही शुल्क लेंगे, जितना कोर्स पूरा कराया; शिक्षा मंत्री और संचालकों के बीच बातचीत में निर्णय

पंडित भजन सोपोरी के अनुसार, ये सरकारी घर प्रख्यात कलाकार कोटे के तहत कलाकारों को दिए गए थे। उनकी प्रक्रिया यह थी कि हर 3 साल में एक हलफनामा दिया जाता था और घर में एक्सटेंशन उपलब्ध होते थे। अगर किसी ने इस दौरान एक घर खरीदा, तो उसे सरकारी घर वापस करना पड़ा, लेकिन अधिकांश कलाकारों के पास अपना घर नहीं है।

वे कहते हैं कि एक कलाकार पूरी दुनिया में देश का नाम रोशन करता है। सरकार को कलाकारों के साथ ऐसा नहीं करना चाहिए। भजन सोपोरी कहते हैं कि उन्हें 250 से अधिक पुरस्कार मिले हैं। वे लगभग 60 वर्षों से प्रदर्शन कर रहे हैं। उनका कहना है कि सरकार को इस मुद्दे पर विचार करना चाहिए।

ये भी पढ़े :- Akshay Kumar ने यूट्यूब पर 500 करोड़ का मानहानि नोटिस भेजा, जिससे सुशांत सिंह के फर्जी वीडियो बनाकर 15 लाख की कमाई

पंडित भजन सोपोरी के पुत्र भी एक संतूर वादक हैं। उन्हें राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय कई पुरस्कार भी मिले हैं। वे कहते हैं कि जब से पिछले 10 महीनों में कोरोना देश में आया है, कलाकारों की हालत बहुत खराब है। कोई कमाई नहीं करने के बावजूद, कलाकार अपने संबंधित क्षेत्रों में काम कर रहे हैं। वे भी सरकार के इस फैसले से खुश नहीं हैं।

पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित शास्त्रीय गायक उस्ताद एफ। वासिफुद्दीन डागर को भी आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय से यह नोटिस मिला है। उन्हें भी 31 दिसंबर तक अपना घर खाली करना होगा। वे कहते हैं कि हम समय पर किराया दे रहे हैं। भले ही हम देश का नाम रोशन कर रहे हों, लेकिन अगर हमें यह सिलसिला मिला तो दुख होगा।

ये भी पढ़े : पुराने iPhone Slow करना ऐपल को भारी पड़ा, कंपनी को 45.54 बिलियन का जुर्माना!

देश और समाज के लिए इतना कुछ करने के बाद, मंत्रालय के इस व्यवहार से सभी हस्तियां आहत हैं। सभी को सरकार से उम्मीद है कि इस फैसले पर फिर से विचार किया जाएगा।

ये भी पढ़े :

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

सरकार Home Loan पर 2.67 लाख रुपये का लाभ दे रही है

सरकार Home Loan पर 2.67 लाख रुपये का लाभ दे रही है यह शादियों का मौसम है, अगर आपकी भी शादी होने वाली है और...

रजनीकांत (Rajinikanth) जनवरी में अपनी राजनीतिक पार्टी लॉन्च करेंगे

रजनीकांत (Rajinikanth) जनवरी में अपनी राजनीतिक पार्टी लॉन्च करेंगे Talkaaj Desk: रजनीकांत (Rajinikanth) का यह फैसला इसलिए भी बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि तमिलनाडु चुनाव 2021(Tamil...

85 वर्षीय बुजुर्ग अपनी जमीन PM Modi के नाम करना चाहती हैं, वजह है भावुक करने वाली

85 वर्षीय बुजुर्ग अपनी जमीन PM Modi के नाम करना चाहती हैं, वजह है भावुक करने वाली 85 साल की बिट्टन देवी यूपी के मैनपुरी जिले...

MDH ग्रुप के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी का निधन, 98 वर्ष की आयु में अंतिम सांस ली

MDH ग्रुप के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी का निधन, 98 वर्ष की आयु में अंतिम सांस ली MDH समूह के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी (Mahashay...

Recent Comments