Homeटेक ज्ञानकोरोना वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) के नाम पर फ्रॉड, आधार (Aadhaar) और ओटीपी...

कोरोना वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) के नाम पर फ्रॉड, आधार (Aadhaar) और ओटीपी (OTP) मांग रहे फोन करके 

कोरोना वैक्सीन (Coronavirus Vaccine) के नाम पर फ्रॉड, आधार (Aadhaar) और ओटीपी (OTP) मांग रहे फोन करके 

Talkaaj Desk:- जबकि देश में कोरोना वायरस के खिलाफ कोरोनावायरस वैक्सीन (coronavirus vaccine) का काम जोर-शोर से शुरू हो गया है, धोखेबाजों ने टीकाकरण के नाम पर धोखाधड़ी का एक नया खेल शुरू किया है।

केंद्र सरकार ने देश भर के लोगों को कोविद टीकाकरण ओटीपी घोटाले (Covid vaccination OTP scam) से सतर्क रहने की सलाह दी है। जालसाज लोगों को फोन कर कोरोना वैक्सीन के नाम पर आधार कार्ड नंबर और ओटीपी मांग रहे हैं। सरकार का कहना है कि ऐसी किसी भी कॉल पर भरोसा नहीं करना चाहिए।

ये भी पढ़े:- अब Voter ID भी होगी डिजिटल: आज से आप नए वोटर ID की PDF कॉपी डाउनलोड कर सकेंगे, पुराने मतदाताओं के लिए यह सुविधा 1 फरवरी से शुरू होगी

नया स्कैम क्या है

PIB FactCheck के आधिकारिक ट्विटर हैंडल ने इस संबंध में नागरिकों को चेतावनी जारी की है। यह बताया गया है कि कुछ धोखेबाज लोगों (विशेषकर बुजुर्गों) को कॉल करते हैं और खुद को ड्रग अथॉरिटी ऑफ इंडिया (Drug Authority of India) को बताते हैं। वे कोविद टीका वितरण के नाम पर सत्यापन के लिए आधार कार्ड और एक ओटीपी मांगते हैं। आपकी जानकारी का उपयोग धोखा देने के लिए किया जा सकता है। इसलिए फोन पर इस तरह की जानकारी किसी को न दें।

ये भी पढ़े:- Fact Check:क्या मार्च के बाद बंद हो जाएंगे 5,10 और 100 रुपए के नोट, जानिए क्या है दावे का सच

यदि आप OTP जैसी जानकारी देते हैं, तो जालसाज आपके आधार से जुड़ा बैंक खाता खाली कर सकता है। सरकार के अनुसार ड्रग अथॉरिटी ऑफ इंडिया (Drug Authority of India) नाम का कोई विभाग नहीं है। यह पूरी तरह से फर्जी है। हालांकि, ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) नाम का एक संगठन है, जिसे देश में दवाओं और चिकित्सा उपकरणों के लिए अनुमति और लाइसेंस प्राप्त है।

ये भी पढ़े:-सावधान! क्या आपको यह मैसेज आया तो नहीं? गृह मंत्रालय ने Alert भी जारी किया

इस तरह से हो रही धोखाधड़ी

सिर्फ फोन के जरिए ही नहीं, लोगों को ईमेल के जरिए भी ठगा जा रहा है। कई धोखेबाज लोगों को ईमेल भेज रहे हैं और टीकाकरण के पंजीकरण के नाम पर एक फॉर्म भर रहे हैं, जिसमें उनकी व्यक्तिगत जानकारी मांगी गई है। केंद्र सरकार ही नहीं, कई राज्यों की सरकार और स्थानीय पुलिस भी लोगों को इस तरह की धोखाधड़ी से दूर रहने की सलाह दे रही है।

ये भी पढ़े:- रेलवे (Railways) ने जारी किया अलर्ट, अगर नहीं मानी तो 6 महीने की जेल होगी, भारी जुर्माना लगाया जाएगा

ये भी पढ़े:-ये 5 एप्स आपके फ़ोन (Phone) में नहीं होने चाहिए, इनके जरिए हो सकती है हैकिंग

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments