Homeदेश5 लाख रुपये जीतने का मौका दे रही है Central Government, बस...

5 लाख रुपये जीतने का मौका दे रही है Central Government, बस 25 जून से पहले करना होगा ये काम

5 लाख रुपये जीतने का मौका दे रही है Central Government, बस 25 जून से पहले करना होगा ये काम

केंद्र सरकार (Central Government) ने लोगों को 5 लाख रुपये जीतने का मौका दिया है. इस पुरस्कार राशि को जीतने के लिए आपको एक प्रतियोगिता में भाग लेना होगा।

केंद्र सरकार (Central Government) ने लोगों को 5 लाख रुपये जीतने का मौका दिया है. इस पुरस्कार राशि को जीतने के लिए आपको एक प्रतियोगिता में भाग लेना होगा। जिसके लिए सरकार ने मुकाबला रखा है। जिसमें आपको यह राशि इनाम के तौर पर दी जाएगी। भारत सरकार और संयुक्त राष्ट्र SDG के स्वच्छ भारत मिशन के समर्थन में, हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड ने इन्वेस्ट इंडिया, स्टार्टअप इंडिया और AGNIi के सहयोग से “ग्रैंड वाटर सेविंग चैलेंज” शुरू की है।

यह भी पढ़े:- Whatsapp : बेगुनाह लोग जा सकतें है जेल, मैसेज ट्रेस करने के लिए हर मैसेज को ट्रेस करना होगा

करना है ये काम

इस प्रतियोगिता में भारतीय शौचालय के लिए एक अभिनव फ्लश सिस्टम तैयार करना होगा। प्रतियोगिता का मुख्य उद्देश्य शौचालय की स्वच्छता और स्वच्छता के साथ-साथ पानी की बचत का ध्यान रखना है। स्वच्छता का सीधा प्रभाव व्यक्ति के स्वास्थ्य पर पड़ता है। यह अभिनव समाधान स्वच्छता के साथ-साथ पानी के उपयोग को भी कम कर सकता है, जो समय की मांग है

यह बहुत बड़ी इनामी राशि है

पहला पुरस्कार: इस चुनौती में प्रथम आने वाली टीम या व्यक्ति को 5 लाख रुपये की राशि दी जाएगी।

द्वितीय पुरस्कार: प्रतियोगिता में द्वितीय उपविजेता को रुपये का इनाम मिलेगा। 2.50 लाख।

यहां रजिस्टर करें

प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए आपको https://www.startupindia.gov.in/content/sih/en/ams-application/challenge.html?applicationId=6050cc03e4b03f92cbc8c95e इस लिंक पर जाना होगा।

प्रतियोगिता में भाग लेने वाली प्रविष्टियां स्टार्टअप इंडिया हब पर जमा की जा सकती हैं। DPIIT (उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग) द्वारा पंजीकृत स्टार्टअप और शैक्षणिक संस्थान इस प्रतियोगिता में भाग ले सकते हैं।

यह भी पढ़े:- सतर्क हो जाइए 1 June से बदल जाएंगे ये 5 नियम, जानें डिटेल्स

25 जून आखिरी तारीख है

भाग लेने वाले प्रतियोगियों को 25 जून 2021 तक स्वयं द्वारा बनाए गए मॉडल को जमा करना होगा।

AICTE ने हिंदी के साथ-साथ अन्य भारतीय भाषाओं में इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने की अनुमति दे दी है

इस आर्टिकल को शेयर करें

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें और  टेलीग्राम पर ज्वाइन करे और  ट्विटर पर फॉलो करें .डाउनलोड करे Talkaaj.com पर विस्तार से पढ़ें व्यापार की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments