Christmas Day History: मैरी क्रिसमस क्यों मनाया जाता है? जानिए इसका इतिहास | Christmas Kyu Manaya Jata Hai

Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
5/5 - (1 vote)

Christmas Day History: मैरी क्रिसमस क्यों मनाया जाता है? जानिए इसका इतिहास | Christmas Kyu Manaya Jata Hai

Christmas 2023 History, Origin, Facts in Hindi (Christmas Kyu Manaya Jata Hai): क्रिसमस का त्योहार नए साल की शुरुआत से 5 दिन पहले मनाया जाता है। इस त्यौहार को सभी लोग मिलकर बहुत धूमधाम से मनाते हैं। क्रिसमस को बड़ा दिन भी कहा जाता है. ईसाई धर्म की मान्यताओं के अनुसार इस दिन जीसस यानी प्रभु ईसा मसीह का जन्म हुआ था। इसलिए इस दिन लोग प्रभु यीशु की पूजा करने के लिए चर्चों में एकत्रित होते हैं और यीशु के जन्म की कहानी की झांकियां प्रस्तुत की जाती हैं। जानिए क्रिसमस का इतिहास (Christmas History In Hindi)।

Best Happy Christmas Day Wish Quotes Shayari in Hindi And English

बच्चों के लिए क्रिसमस कहानी (Christmas Story for Kids)

Christmas Day History: मैरी क्रिसमस क्यों मनाया जाता है? जानिए इसका इतिहास | Christmas Kyu Manaya Jata Hai

बच्चों का पसंदीदा त्योहार क्रिसमस हर साल 25 दिसंबर को मनाया जाता है। वैसे तो यह ईसाई धर्म का त्योहार है, लेकिन इसकी लोकप्रियता के कारण अन्य धर्मों के लोग भी इस त्योहार को बड़ी धूमधाम से मनाते हैं। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इस दिन ईसा मसीह का जन्म हुआ था। इसलिए इस दिन चर्चों में प्रभु यीशु की जन्म कथा की झांकियां प्रस्तुत की जाती हैं। ईसा मसीह बच्चों से बहुत प्यार करते थे। इसीलिए क्रिसमस पर बच्चों के लिए विशेष उपहार खरीदे जाते हैं और उन्हें आश्चर्यचकित किया जाता है। अब जानिए क्रिसमस की कहानी.

क्रिसमस का इतिहास (Christmas History In Hindi)

क्रिसमस के इतिहास को लेकर इतिहासकारों में हमेशा मतभेद रहा है। कई इतिहासकारों के अनुसार यह त्यौहार प्रभु यीशु के जन्म के बाद मनाया जाने लगा। तो कई लोगों का मानना है कि यह त्योहार ईसा मसीह के जन्म से भी पहले से मनाया जाता रहा है। कुछ इतिहासकारों का मानना है कि क्रिसमस त्यौहार रोमन त्यौहार सैंक्चुमालिया का एक नया रूप है। सैनकुनेलिया एक रोमन देवता है। कहा जाता है कि जब ईसाई धर्म की स्थापना हुई तो लोग यीशु को अपना भगवान मानकर सैंक्चुअरी को क्रिसमस डे के रूप में मनाने लगे।

क्रिसमस डे 25 दिसंबर को ही क्यों मनाया जाता है? Christmas Day 25 December Ko Kyu Manate Hain)

जानकारी के मुताबिक, लोग इस त्योहार को 98 से मनाते आ रहे हैं. लेकिन साल 137 में रोमन बिशप ने आधिकारिक तौर पर क्रिसमस त्योहार मनाने की घोषणा की. हालाँकि, उस समय इसे मनाने के लिए कोई निश्चित दिन तय नहीं किया गया था। लेकिन बाद में साल 350 में रोमन पादरी जूलियस ने 25 दिसंबर को क्रिसमस डे घोषित कर दिया।

एक अन्य मान्यता के अनुसार पहले धर्मगुरु 25 दिसंबर को Christmas Day मनाने के लिए तैयार नहीं थे. क्योंकि यह रोमन जाति के एक त्यौहार का दिन था, जिसमें लोग सूर्य देव की पूजा करते थे। क्योंकि ऐसा माना जाता था कि इसी दिन सूर्य का जन्म हुआ था। लेकिन जब ईसाई धर्म फैलने लगा तो यह माना जाने लगा कि यीशु सूर्य देव के अवतार थे और फिर इस तरह से यीशु की पूजा की जाने लगी। बच्चों के लिए क्रिसमस कहानी

सांता क्लॉज़ कौन है? (Who Santa Claus Really Is)

ईसाई धर्म के प्रभु यीशु की मृत्यु के 280 वर्ष बाद संत निकोलस का जन्म हुआ। संत निकोलस बहुत अमीर थे. वे अपनी दयालुता और उदारता के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने हमेशा गरीबों की मदद की. यहां तक कि उन्होंने अपनी सारी संपत्ति भी जरूरतमंदों की सेवा में समर्पित कर दी। वही संत निकोलस आज सांता क्लॉज़ के नाम से जाने जाते हैं। वह बच्चों से बहुत प्यार करता था और उन्हें बहुत सारे उपहार देता था।

ईसाई धर्म में क्रिसमस त्योहार का महत्व (Christmas Festivals Significance)

जिस तरह हिंदुओं के लिए दिवाली और मुसलमानों के लिए ईद का त्योहार खास होता है, उसी तरह ईसाई धर्म के लोगों के लिए क्रिसमस का त्योहार बहुत महत्वपूर्ण होता है। ईसाई लोग इस दिन को अपने पसंदीदा देवता यीशु के जन्मदिन के रूप में मनाते हैं। ईसाई समुदाय के लोग क्रिसमस की तैयारी 15 दिन पहले से ही शुरू कर देते हैं. इस दिन शुभकामनाओं के प्रतीक के रूप में चर्चों में क्रिसमस ट्री सजाये जाते हैं। लोग एक-दूसरे को मिठाइयाँ, चॉकलेट, क्रिसमस ट्री देते हैं।

Christmas Day History: मैरी क्रिसमस क्यों मनाया जाता है? जानिए इसका इतिहास | Christmas Kyu Manaya Jata Hai

NO: 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट Talkaaj.com (बात आज की)

(देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले पढ़ें Talkaaj (बात आज की) पर , आप हमें FacebookTwitterInstagramKoo और  Youtube पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Google News Follow Me
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
LinkedIn
Picture of TalkAaj

TalkAaj

हैलो, मेरा नाम PPSINGH है। मैं जयपुर का रहना वाला हूं और इस News Website के माध्यम से मैं आप तक देश और दुनिया से व्यापार, सरकरी योजनायें, बॉलीवुड, शिक्षा, जॉब, खेल और राजनीति के हर अपडेट पहुंचाने की कोशिश करता हूं। आपसे विनती है कि अपना प्यार हम पर बनाएं रखें ❤️

Leave a Comment

Top Stories