Homeटेक ज्ञानइन 5 खतरनाक App को अपने फोन से तुरंत करें डिलीट, नहीं...

इन 5 खतरनाक App को अपने फोन से तुरंत करें डिलीट, नहीं तो Hacked हो जाएगा अकाउंट

इन 5 खतरनाक App को अपने फोन से तुरंत करें डिलीट, नहीं तो Hacked हो जाएगा अकाउंट

अगर आप अपने पर्सनल डेटा को लीक (Hacked) होने से बचाना चाहते हैं तो तुरंत अलर्ट हो जाएं। आपके फोन में कई ऐसे ऐप्स हो सकते हैं, जिन पर मालवेयर का अटैक हुआ हो। ऐसे में आपकी प्राइवेसी खतरे में पड़ जाती है। Google ने हाल ही में अपने प्लेटफॉर्म से 9 ऐसे App को बैन कर दिया है, जो यूजर्स का डेटा चोरी-छिपे चुरा रहे थे। लेकिन अगर आप अब भी उन ऐप्स का इस्तेमाल कर रहे हैं तो उन्हें तुरंत डिलीट कर दें।

फेसबुक यूजर्स का डेटा खतरे में

हाल ही में, शोधकर्ताओं ने एक नया एंड्रॉइड ट्रोजन फ्लाईट्रैप (Android Trojan Flytrap) देखा है, जिसके माध्यम से 140 से अधिक देशों के फेसबुक उपयोगकर्ताओं के खाते हैक (Facebook Account Hack) किए जा रहे हैं।

आप ही चोरी में मदद करते हैं

Zimperium zLabs की मोबाइल थ्रेट रिसर्च टीम के अनुसार, मार्च 2021 से, मैलवेयर Google Play Store, थर्ड पार्टी ऐप स्टोर और साइडलोड किए गए App से दुर्भावनापूर्ण ऐप्स के माध्यम से फैल गया है। यह मैलवेयर बहुत ही आसान ट्रिक पर काम करता है। सबसे पहले, यह पीड़ित को अपने फेसबुक क्रेडेंशियल्स (Facebook Credentials) का उपयोग करके दुर्भावनापूर्ण ऐप में लॉगिन करता है, फिर यह उपयोगकर्ताओं का डेटा चुरा लेता है।

यह भी पढ़िए | Call Recording on WhatsApp: WhatsApp पर भी कर सकते हैं Call Recording, बस करना है ये काम

इन ऐप्स को डाउनलोड करने से बचें

शोध में यह भी पता चला कि फ्लाईट्रैप नेटफ्लिक्स कूपन कोड (Netflix Coupon Code), गूगल एडवर्ल्ड कूपन कोड (Google adworld Coupon Code)और बेस्ट फुटबॉल टीम वोटिंग (Best Football Team Voting)  और प्लेयर जैसे विभिन्न प्रकार के मोबाइल ऐप का उपयोग करता है। करता है।

सवाल और जवाब का खेल

इस ऐप को डाउनलोड करने के बाद यह यूजर्स को बेवकूफ बनाता है और कई सवाल पूछता है। इन सभी का जवाब देने के बाद यह यूजर्स को फेसबुक लॉगइन पेज पर ले जाता है, जिसके लिए वह वोट करने के लिए फेसबुक अकाउंट से लॉग इन करने को कहता है।

चोरी किया गया डेटा कहाँ सहेजा जाता है?

आपको बता दें कि मालवेयर जावास्क्रिप्ट इंजेक्शन का इस्तेमाल करता है, जिससे यह यूजर्स की फेसबुक आईडी, लोकेशन, ईमेल एड्रेस और आईपी एड्रेस तक पहुंच लेता है। फिर चोरी की गई जानकारी को फ्लाईट्रैप (Flytrap) के कमांड और कंट्रोल सर्वर में स्थानांतरित कर दिया जाता है।

यह भी पढ़िए | क्या है AI, जिसका इस्तेमाल तेजी से बढ़ रहा है, जानिए इसके फायदे और नुकसान

गूगल की कार्रवाई

Ziperium ने Google को तीन खतरनाक ऐप्स के बारे में चेतावनी दी है जो Google Play Store के माध्यम से फ्लाईट्रैप मैलवेयर स्थानांतरित कर रहे थे। Google ने तब दुर्भावनापूर्ण ऐप्स पर शोध किया और सत्यापित किया और उन्हें Google Play Store से हटा दिया।

Google ने इन ऐप्स को अपने प्लेटफॉर्म से हटाया

गूगल ने अपनी पड़ताल में पाया कि निम्नलिखित ऐप्स यूजर्स का डेटा चुरा (Hacked) रहे हैं, जिसके बाद संबंधित कार्रवाई करते हुए उन्हें गूगल प्ले स्टोर से प्रतिबंधित कर दिया गया।

– GG Voucher (com.luxcarad.cardid)
– Vote European Football (com.gardenguides.plantingfree)
– GG Coupon Ads (com.free_coupon.gg_free_coupon)
– GG Voucher Ads (com.m_application.app_moi_6)
– GG Voucher (com.free.voucher)
– Chatfuel (com.ynsuper.chatfuel)
– Net Coupon (com.free_coupon.net_coupon)
– Net Coupon (com.movie.net_coupon)
– EURO 2021 Official (com.euro2021)

यह भी पढ़िए | हैकर्स (Hackers) नहीं चुरा पाएंगे आपकी निजी जानकारी, इन 4 बातों का ध्यान रखें

यह भी पढ़िए:- इलेक्ट्रॉनिक मीडिया क्या है? | What Is Electronic Media

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए –

TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Whatsapp से जुड़े
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Telegram से जुड़े
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Instagram से जुड़े
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Youtube से जुड़े
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप को Twitter पर फॉलो करें
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Facebook से जुड़े
TalkAaj (बात आज की) के Application Download करे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments