गृहिणियों को भी फाइल करनी होगी ITR? जानें नियम और जरूरी जानकारी

by ppsingh
138 views
ITR - Income Tax Return filing rules for women 
5/5 - (2 votes)

गृहिणियों को भी फाइल करनी होगी ITR? जानें नियम और जरूरी जानकारी | Income Tax Return filing rules for women 

Income Tax Return Filing Rules for Housewives: क्या गृहिणी को इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) दाखिल करना चाहिए या नहीं? इसका जवाब सीधा हां या नहीं में नहीं दिया जा सकता, बल्कि यह समझने योग्य है। कई बार गृहिणियों को विभिन्न स्रोतों से धन प्राप्त होता है। अगर आपके बैंक अकाउंट में पैसा आ रहा है, तो इसका स्रोत आपको पता होना चाहिए। साथ ही, यह धन नियमित आय मानी जाएगी या नहीं, इसके भी नियम हैं।

आयकर रिटर्न का महत्व

आयकर रिटर्न फाइल करने का मतलब सिर्फ सरकार को टैक्स चुकाना नहीं है। किसी भी वित्त वर्ष के अंत में आयकर रिटर्न फाइल करके आप सरकार या इनकम टैक्स विभाग को यह जानकारी देते हैं कि आप टैक्स देने के दायरे में आते हैं या नहीं। आयकर रिटर्न भरना और इनकम टैक्स जमा करना दो अलग बातें हैं।

मकान का किराया हाउसवाइफ के खाते में आता है…

अगर आप गृहिणी हैं और आपके नाम पर मकान का किराया (Home Rent) आपके बैंक खाते में आता है, तो आपको इसके बारे में जानकारी होनी चाहिए। अगर आपके पति विदेश में रहते हैं और वह आपको हर माह एकमुश्त रकम आपके बैंक खाते में भेजते हैं, या फिर आपको विभिन्न तोहफों के रूप में बैंक में रकम मिलती है, तो आपको आयकर रिटर्न भरना होगा या नहीं, इस पर विचार करना चाहिए।

टैक्स मामलों के जानकार की राय

टैक्स मामलों के जानकार कंसल्टेंट प्रशांत जैन का कहना है कि अगर हाउसवाइफ (या फिर हाउस हसबैंड) की कोई इनकम नहीं है, तो उन्हें आईटीआर फाइल करने की जरूरत नहीं है। लेकिन, अगर गृहिणी की कोई इनकम है जो किराए (रेंटल इनकम) से आ रही है, एफडी या अन्य बैंक सेविंग से प्राप्त ब्याज से है, या फिर शेयर बाजार में निवेश से डिविडेंड मिल रहा है, तो उन्हें आईटीआर भरना होगा।

पति विदेश में काम करते हैं, पत्नी को भेजते हैं पैसा…

अगर आपके पति विदेश में रहते हैं और वह आपको हर माह एकमुश्त रकम आपके बैंक खाते में भेजते हैं, तो क्या आपको रिटर्न फाइल करना होगा? इस पर प्रशांत जैन कहते हैं कि पति द्वारा पत्नी को दिए गए पैसे को छूट (एग्जेम्पशन) में रखा गया है। लेकिन अगर इस पैसे को पत्नी निवेश करती हैं और इससे उन्हें रिटर्न या ब्याज प्राप्त होता है, तो उन्हें आईटीआर फाइल करना होगा। अगर यह कमाई इनकम टैक्स स्लैब के दायरे में आती है, तो अपनी स्लैब के हिसाब से टैक्स भी कटवाना होगा।

निष्कर्ष

आयकर रिटर्न फाइल करना किसी भी व्यक्ति के लिए जरूरी है, अगर उनकी आय सरकार द्वारा निर्धारित सीमा के तहत आती है। गृहिणियों को भी इस नियम का पालन करना चाहिए और अपनी आय के स्रोतों के बारे में सही जानकारी रखनी चाहिए। इससे न केवल वे कानूनी रूप से सुरक्षित रहेंगी, बल्कि उन्हें अपनी वित्तीय स्थिति का भी सही आकलन होगा।

#NO: 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट Talkaaj.com (आज की बात )

(देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले पढ़ें Talkaaj (बात आज की) पर, आप हमें FacebookTwitterInstagramKoo और  Youtube पर फ़ॉलो करे)

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now
Google News Follow Me

You may also like

Leave a Comment

TalkAaj (Aaj Ki Baat)

TalkAaj पर पढ़ें हिन्दी न्यूज़ देश और दुनिया से, जाने व्यापार, मनोरंजन, सरकारी योजना ,शिक्षा, जॉब, खेल और राजनीति के हर अपडेट. Read all Hindi …
Contact us: Talkaajnews@gmail.com

Edtior's Picks

Latest Articles

Top 10 Mobile Brands in India 2024 Best Places To Visit In Singapore 2024 ये बैंक दे रहा सबसे सस्‍ता पर्सनल लोन ‘Pak में जैसे PM बदलते हैं, वैसे बीवियां…’ शोएब की तीसरी शादी से डरी एक्ट्रेस! Relationship Tips In Hindi The 10 Richest States in America Best Camera Mobile Phones Under 30,000 (2023) OTT: ए-रेटेड फिल्में जो सिनेमाघरों में हुई हिट कोलकाता देश का सबसे सुरक्षित शहर क्यों है? Top 10 Wealthiest States in the US