HomeदेशEthanol Blend Petrol : कारों के लिए इथेनॉल-पेट्रोल मिश्रण E20 को मंजूरी,...

Ethanol Blend Petrol : कारों के लिए इथेनॉल-पेट्रोल मिश्रण E20 को मंजूरी, प्रदूषण कम होगा और खर्च भी

Ethanol Blend Petrol : कारों के लिए इथेनॉल-पेट्रोल मिश्रण E20 को मंजूरी, प्रदूषण कम होगा और खर्च भी 

Petrol Diesel Latest News: महंगे पेट्रोल से राहत पाने के लिए, सरकार के भीतर एक मंथन प्रक्रिया चल रही है, इस बीच, सरकार ने एक ठोस कदम उठाया है, जिससे उपभोक्ताओं के साथ-साथ किसानों, उद्योग और सरकार को भी लाभ होगा। सरकार ने ई 20 पेट्रोल के इस्तेमाल की अनुमति दी है। समझें कि यह क्या है, और इससे कैसे लाभ होगा।

पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों के बीच एक राहत की खबर यह है कि बाइक और कारों में ई 20 पेट्रोल के उपयोग की अनुमति दी गई है। E20 का मतलब एक पेट्रोल है जिसमें 20 प्रतिशत इथेनॉल (Ethanol Blend Petrol) मिलाया जाएगा। सड़क और परिवहन मंत्रालय ने ई 20 का उपयोग करने के लिए एक अधिसूचना जारी की है।

ये भी पढ़े:- चेतावनी! अगर गाड़ी में किया यह काम तो 15000 रुपए का कटेगा चालान (Challan) और 2 साल की होगी जेल

E20 पेट्रोल का उपयोग करने की अनुमति

मंत्रालय ने कहा है कि E20 एक पेट्रोल है, जो पर्यावरण के लिए भी अच्छा है क्योंकि यह कार्बन मोनोऑक्साइड और हाइड्रोकार्बन का उत्सर्जन सामान्य पेट्रोल की तुलना में बहुत कम करता है। इस ईंधन के लिए, कार और बाइक निर्माताओं को अलग से यह बताना होगा कि कौन सा वाहन E20 के लिए उपयुक्त है, इसके लिए वाहन में एक स्टिकर भी लगाना होगा।

E20 पेट्रोल के फायदे

आपको बता दें कि 2014 में, 1 प्रतिशत से कम इथेनॉल को पेट्रोल में मिश्रित किया गया था, अर्थात, इसे जोड़ा गया था, फिर इसे 8.5 प्रतिशत तक बढ़ाया गया था, अब लक्ष्य 10 प्रतिशत इथेनॉल को पेट्रोल में जोड़ना है। पेट्रोल में इथेनॉल मिलाने के कई फायदे हैं।

1. पहला फायदा यह है कि भारत की पेट्रोलियम पर निर्भरता बहुत हद तक कम हो जाएगी। वर्तमान में, भारत अपनी तेल आवश्यकता का 83% आयात करता है।
2. यदि कार्बन डाइऑक्साइड (CO2) कम हो जाता है, तो वायुमंडल को नुकसान भी कम हो जाएगा।
3. इथेनॉल के अधिक उपयोग से किसानों को लाभ होगा, उनकी आय बढ़ेगी, क्योंकि इथेनॉल गन्ने, मक्का और कई अन्य फसलों से बनाया जाता है।
4. चीनी मिलों को आय का एक नया स्रोत मिलेगा जिससे वे अपना कृषि बकाया चुकाने में सक्षम होंगे।
5. इथेनॉल काफी किफायती है, इसलिए उपभोक्ताओं को भी पेट्रोल की बढ़ती कीमतों से कुछ राहत मिलने की उम्मीद है।

ये भी पढ़े :- खुशखबरी: EPFO ​​खाताधारकों के लिए एक बड़ी बात, नौकरी छोड़ने के बाद, उन्हें पुरानी कंपनी में नहीं करनी पडे़गी मिन्नत

2025 तक 20% इथेनॉल सम्मिश्रण का लक्ष्य

आपको बता दें कि सरकार ने 2030 तक 20 प्रतिशत इथेनॉल सम्मिश्रण पेट्रोल का लक्ष्य रखा था, लेकिन अब इसे पांच साल पहले केवल 2025 में हासिल करने की योजना है। पिछले साल, सरकार ने 2022 तक पेट्रोल में 10 प्रतिशत इथेनॉल सम्मिश्रण का लक्ष्य रखा था। चालू इथेनॉल आपूर्ति वर्ष में, जो अक्टूबर में शुरू होता है, पेट्रोल में 8.5% इथेनॉल सम्मिश्रण होता है, जिसे 2022 तक बढ़ाकर 10% कर दिया जाएगा।

सरकार द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, 2025 तक 20 प्रतिशत इथेनॉल सम्मिश्रण के लिए, 1200 करोड़ शराब / इथेनॉल की आवश्यकता होगी। 700 मिलियन लीटर इथेनॉल बनाने के लिए, चीनी उद्योग को 6 मिलियन टन अधिशेष चीनी का उपयोग करना होगा। जबकि अन्य फसलों से 500 मिलियन लीटर इथेनॉल बनाया जाएगा।

ये भी पढ़े:- Big News : ये महत्वपूर्ण कार्य को 31 मार्च से पहले निपटा लें, अन्यथा परेशान होना पड़ सकता है

ये भी पढ़े:- अब ड्राइविंग लाइसेंस (Driving Licence) का रिन्यू RTO के चक्कर लगाए बिना किया जाएगा, ये 18 सेवाएं घर से ऑनलाइन उपलब्ध होंगी

Talkaaj: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें Talkaaj ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए Talkaaj फेसबुक पेज लाइक करें

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए Talkaaj टेलीग्राम पेज लाइक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments