Homeहेल्थ डेस्कHeath Desk | मिट्टी के बर्तन में खाना क्यों बनाना चाहिए? यदि...

Heath Desk | मिट्टी के बर्तन में खाना क्यों बनाना चाहिए? यदि आप लाभ जानते हैं, तो आपको अपनी अज्ञानता पर पछतावा होगा!

Heath Desk | मिट्टी के बर्तन में खाना क्यों बनाना चाहिए? यदि आप लाभ जानते हैं, तो आपको अपनी अज्ञानता पर पछतावा होगा!

Heath Desk | मिट्टी के बर्तन में खाना पकाने से भोजन में आयरन, फास्फोरस, कैल्शियम और मैग्नीशियम की मात्रा पाई जाती है, जो शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं।

पुराने समय में लोग मिट्टी के बर्तन में खाना बनाते थे। धीमी आंच पर धीरे-धीरे पके इस खाने का स्वाद लाजवाब था. हालांकि समय बदलने के साथ ही किचन में मिट्टी के बर्तनों की जगह स्टील के बर्तनों ने ले ली है। लेकिन आज हम आपको मिट्टी के बर्तन में बने खाने के फायदे बता रहे हैं, जिसे जानकर आपको शायद अपनी इस नासमझी पर पछतावा होगा कि आप अब तक इन बातों को क्यों नहीं जानते थे!

मिट्टी के बर्तनों में खाना पकाने के फायदे (Benefits)

आयरन, कैल्शियम आदि मिलते हैं: मिट्टी क्षारीय प्रकृति की होती है। इससे मिट्टी के घड़े में भोजन का पीएच स्तर सही रहता है। यह न सिर्फ खाने को हेल्दी बनाता है बल्कि खाने का स्वाद भी बढ़ाता है। मिट्टी के बर्तन में खाना पकाने से भोजन में आयरन, फास्फोरस, कैल्शियम और मैग्नीशियम भी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, जो शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है।

यह भी पढ़िए:- Health Tips : वजन घटाने और आंखों के लिए बेहद फायदेमंद है सौंफ का पानी, एक्सपर्ट ने बताया कैसे करें सेवन, जानिए फायदे

भोजन के पोषक तत्व रहते हैं सुरक्षित

मिट्टी के बर्तनों में छोटे छेद आग और नमी को समान रूप से प्रसारित करने की अनुमति देते हैं। इससे भोजन के पोषक तत्व संरक्षित रहते हैं। यही कारण है कि मिट्टी के बर्तनों में बने भोजन में पोषक तत्व अन्य बर्तनों में बने भोजन से अधिक पाए जाते हैं।

दिल के लिए फायदेमंद

दरअसल, मिट्टी के बर्तनों में तेल का प्रयोग कम होता है। इसका कारण यह है कि मिट्टी के बर्तनों में खाना पकाने की प्रक्रिया धीमी होती है और यह अधिक समय तक चलती है। इसलिए भोजन में प्राकृतिक तेल और प्राकृतिक नमी होती है। जिससे खाने में ज्यादा तेल इस्तेमाल करने की जरूरत नहीं होती है। चूंकि इसमें ज्यादा तेल का इस्तेमाल नहीं होता, इसका सीधा सा मतलब है कि यह हमारे दिल के लिए भी अच्छा है।

यह भी पढ़िए:- गर्मियों में काढ़े की जगह ये Summer Drinks पिएं, इम्यूनिटी भी मजबूत होंगी

खाना स्वादिष्ट बनता है 

इस बात से शायद ही कोई इंकार कर सकता है कि मिट्टी के बर्तनों में खाना स्वादिष्ट बनता है। खाने का स्वाद अच्छा होता है। साथ ही मिट्टी के बर्तन जेब के लिए भी किफायती होते हैं। सबसे बड़ी बात यह है कि यह प्रकृति के लिए भी फायदेमंद है। क्योंकि मिट्टी के बर्तन मिट्टी से बनते हैं और वापस मिट्टी में मिल जाते हैं। इसलिए मिट्टी के बर्तनों में खाना बनाना हमारे लिए और प्रकृति के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है।

यह भी पढ़े:- Kiwi का सेवन अच्छी नींद से लेकर आपके पाचन और त्वचा को बेहतर बनाने में फायदेमंद होता है।

मिट्टी के बर्तनों का उपयोग कैसे करें?

सबसे पहले मिट्टी का बर्तन लाकर उस पर सरसों का तेल, रिफाइंड आदि खाने का तेल लगाकर बर्तन में तीन चौथाई पानी भरकर धीमी आंच पर ढक दें। 2-3 घंटे तक पकने के बाद इसे उतार लें और ठंडा होने दें। इससे मिट्टी का घड़ा सख्त और मजबूत होगा। साथ ही गमले में रिसाव नहीं होगा और मिट्टी की महक भी गमले से चली जाएगी।

यह भी पढ़िए:- चाय के साथ इन चीजों का सेवन भूलकर भी नही करना चाहिए | Do Not Forget To Consume These Things With Tea

बर्तन में खाना पकाने से पहले उसे पानी में डुबोकर 15-20 मिनट के लिए रख दें। उसके बाद उसमें खाना सुखाकर पकाएं, मजा लें।

इस आर्टिकल को शेयर करें

ये भी पढ़े:- 

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें और  टेलीग्राम पर ज्वाइन करे और  ट्विटर पर फॉलो करें .डाउनलोड करे Talkaaj.com पर विस्तार से पढ़ें व्यापार की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments