Homeटेक ज्ञानPhone में Bank विवरण हो तो , इसे तुरंत हटाएं, BlackRock खाता...

Phone में Bank विवरण हो तो , इसे तुरंत हटाएं, BlackRock खाता खाली कर देगा

Phone में Bank विवरण हो तो, इसे तुरंत हटाएं, BlackRock खाता खाली कर देगा

न्यूज़ डेस्क :- अगर आप भी अपने बैंक अकाउंट का पासवर्ड, एटीएम पिन या इंटरनेट बैंकिंग की जानकारी अपने फोन में सहेज कर रखते हैं, तो यह खबर सिर्फ आपके लिए है, क्योंकि एंड्रॉइड फोन के लिए एक नया वायरस आ गया है, जो केवल आपके बैंक की जानकारी से संबंधित है। केवल चोरी करता है इस वायरस का नाम ब्लैकरॉक है।

BlackRock Android मैलवेयर

भारत सरकार की साइबर एजेंसी ने भी लोगों को BlackRock Android मैलवेयर के बारे में चेतावनी दी है। यह मैलवेयर लगभग 337 एंड्रॉइड ऐप से जानकारी चुराने में सक्षम है। जिन ऐप्स से यह डेटा चुरा सकते हैं उनमें जीमेल, अमेज़न, नेटफ्लिक्स और उबर जैसे ऐप के नाम शामिल हैं।

ये भी पढ़े :-लड़कियों की शादी की उम्र की समीक्षा कर रही सरकार, जल्द लेंगे फैसला PM Modi

मोबाइल सुरक्षा फर्म ThreatFabric को सबसे पहले BlackRock मालवेयर के बारे में बताया गया। BlackRock मालवेयर किसी भी आम मालवेयर की तरह ही डेटा चोरी करता था। यह मालवेयर स्ट्रेन Xerxes के सोर्स कोड पर आधारित है।

1597401997 malrhv

बैंक ऑनलाइन धोखाधड़ी

यह मालवेयर किसी ऐप में लॉगिन के दौरान यूजर्स का डेटा चुरा लेता था। उदाहरण के लिए, यदि आप पासवर्ड और उपयोगकर्ता आईडी दर्ज करके अपने फोन में बैंकिंग ऐप में लॉग इन कर रहे हैं, तो यह मैलवेयर इसे रिकॉर्ड करने के लिए उपयोग किया जाता है। वह तकनीक जिसके द्वारा डेटा चोरी करने के लिए उपयोग किए जाने वाले मैलवेयर को ओवरले कहा जाता है।

ये भी पढ़े :-PM Modi स्वतंत्रता दिवस पर बोले – भारत को ‘Make for World’ मंत्र के साथ आगे बढ़ना है

1597401977 malhbftg

Android मैलवेयर

इस तकनीक के तहत, मैलवेयर ऐप उपयोगकर्ताओं के साथ एक नकली वेब पेज पर लॉगिन करते हैं, जबकि उपयोगकर्ता इसे मूल पृष्ठ मानता है। यह मालवेयर यूजर से मैसेजिंग, कैमरा, गैलरी आदि का एक्सेस लेता था। यह मैलवेयर यूजर को नकली गूगल अपडेट नोटिफिकेशन देने के लिए भी इस्तेमाल करता था।

ये भी पढ़े :-E passport (ई-पासपोर्ट) अगले साल से सभी को जारी किया जाएगा, कैसा होगा E passport देखे रिपोर्ट

1597402016 malbdfg

BlackRock से कैसे बचें

यह ऐप आमतौर पर एंटीवायरस ऐप्स को चकमा देता है। ऐसे में आपके लिए यही अच्छा होगा कि आप अपने फोन में किसी भी थर्ड पार्टी स्टोर या सोर्स से कोई भी ऐप डाउनलोड न करें। साथ ही थर्ड पार्टी ब्राउजर ऐप का इस्तेमाल करने से बचें और फोन में इंस्टॉल करने से पहले बैंक ऐप को चेक कर लें।

ये भी पढ़ें:-Ram Mandir दान पर धोखाधड़ी से बचने के लिए LOGO पेटेंट कराएगा ट्रस्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments