अमेरिका की चेतावनी के बाद बदले भारत के सुर, कनाडा के PM Justin Trudeau ने फिर साधा निशाना

Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
5/5 - (2 votes)

अमेरिका की चेतावनी के बाद बदले भारत के सुर, कनाडा के PM Justin Trudeau ने फिर साधा निशाना

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो (Justin Trudeau) ने एक बार फिर भारत पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा है कि खालिस्तानी आतंकवादी गुरपतवंत सिंह पन्नू की हत्या की कथित साजिश को लेकर अमेरिका की चेतावनी के बाद भारत के सुर बदल गए हैं.

ट्रूडो ने कहा कि उन्हें लगता है कि जब से अमेरिका ने पन्नू की हत्या की कथित साजिश में एक भारतीय नागरिक के शामिल होने को लेकर भारत को चेतावनी दी है. भारत और कनाडा के रिश्ते थोड़े नरम हो गए हैं और भारत के सुर बदल गए हैं.

उन्होंने कहा है कि भारत को शायद यह एहसास हो गया है कि वह हमेशा आक्रामक रुख नहीं अपना सकता. यही कारण है कि अब भारत में सहयोग को लेकर खुलेपन की भावना है, जो पहले कम थी। ट्रूडो ने कहा कि भारत अब समझ गया है कि कनाडा के खिलाफ मोर्चा खोलने से समस्याएं हल नहीं होंगी.

कनाडा भारत से टकराव नहीं चाहता

ट्रूडो ने इस बात पर भी जोर दिया कि कनाडा फिलहाल इस मुद्दे पर भारत से टकराव नहीं चाहता है. कनाडा सिर्फ अपने लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करना चाहता है।

पन्नू को लेकर अमेरिका ने क्या आरोप लगाए हैं?

अमेरिका ने पिछले महीने दावा किया था कि भारत ने कथित तौर पर गुरपतवंत सिंह पन्नू की हत्या की साजिश रची थी, जिसे नाकाम कर दिया गया था. पन्नू अमेरिकी नागरिक हैं. जबकि भारत सरकार उसे आतंकवादी घोषित कर चुकी है. पन्नू के खिलाफ भारत में दो दर्जन मामले दर्ज हैं.

इस मामले को लेकर अमेरिकी न्याय विभाग ने न्यूयॉर्क डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में केस भी दायर किया है. इसमें निखिल गुप्ता नाम के एक भारतीय नागरिक और एक अज्ञात भारतीय सरकारी अधिकारी पर पन्नू की हत्या की योजना बनाने का आरोप लगाया गया है.

डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में दायर अभियोग के मुताबिक, निखिल गुप्ता पर एक लाख डॉलर नकद के बदले न्यूयॉर्क में एक अमेरिकी नागरिक की हत्या की सुपारी देने का आरोप लगाया गया है. आरोप है कि भारत सरकार के एक अधिकारी ने इस हत्या के लिए गुप्ता को सुपारी दी थी. इसमें सरकारी अधिकारी का नाम नहीं लिया गया है. इसे CC-1 नाम दिया गया है.

अभियोग में कहा गया है कि सीसी-1 के निर्देश पर गुप्ता ने हत्या के लिए हत्यारे की तलाश शुरू कर दी। इसी दौरान गुप्ता की मुलाकात एक व्यक्ति से हुई. इस शख्स ने गुप्ता को एक हिटमैन (सुपारी किलर) से मिलवाया. लेकिन असल में ये दोनों अमेरिकी सरकार के लिए काम करने वाले खुफिया सूत्र थे.

अभियोग में निखिल गुप्ता को ‘अंतरराष्ट्रीय मादक पदार्थ तस्कर’ बताया गया है. इस हत्या की साजिश रचने के आरोप में गुप्ता को अमेरिका के अनुरोध पर जून 2023 में चेक गणराज्य से गिरफ्तार किया गया था।

अमेरिका की चेतावनी के बाद बदले भारत के सुर, कनाडा के PM Justin Trudeau ने फिर साधा निशाना

(देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले पढ़ें Talkaaj (बात आज की) पर , आप हमें Facebook, Twitter, Instagram, Koo और  Youtube पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Google News Follow Me
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
Print
TalkAaj

TalkAaj

Talkaaj.com is a valuable resource for Hindi-speaking audiences who are looking for accurate and up-to-date news and information.

Leave a Comment

Top Stories