Kuwait fire Accident: कुवैत में आग दुर्घटना में 41 भारतीयों की मौत!

by ppsingh
29 views
Kuwait fire Accident
5/5 - (1 vote)

Kuwait fire Accident: कुवैत में आग दुर्घटना में 41 भारतीयों की मौत!

Kuwait Building Fire: कुवैत से दिल दहला देने वाली खबर आ रही है, कुवैत के दक्षिणी शहर मंगाफ की एक इमारत में आग लग गई है, इस घटना में 41 लोगों की मौत हो गई है। विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा, “कुवैत शहर में आग लगने की घटना की खबर सुनकर गहरा सदमा लगा है।

Kuwait Fire: कुवैत के मंगफ इलाके में लगी भीषण आग में अब तक 41 कर्मचारियों की मौत हो चुकी है। इनमें से कई भारतीय हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस भीषण आग में 40 से ज्यादा भारतीयों की मौत हो चुकी है। आग छह मंजिला इमारत की रसोई में लगी थी, जिसमें 196 कर्मचारी रहते थे। इस बीच, अरब टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, प्रत्यक्षदर्शियों ने अल-मंगफ इमारत में लगी भीषण आग के दौरान तबाही और अफरातफरी की भयावह कहानी बयां की है।

जान बचाने के लिए इमारत से कूदा, गिरकर मर गया

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि इमारत में आग की लपटें इतनी तेज थीं कि कोई भी पास जाने से डरता नहीं था, इमारत में दरारों से धुआं उठता देख हर तरफ डर और दहशत का माहौल था। चारों तरफ चीख-पुकार मची हुई थी, एक प्रत्यक्षदर्शी ने बेहद दर्दनाक पल का जिक्र करते हुए बताया कि इमारत में रहने वाला एक कर्मचारी आग से बचने के लिए हताशा में पांचवीं मंजिल से कूद गया। बालकनी के किनारे से टकराते ही उसकी मौत हो गई और वह जमीन पर गिर गया।

सोते हुए लोगों की मौत

यह घटना सुबह हुई, इसलिए ज्यादातर लोग सो रहे थे, बिल्डिंग में मौजूद कई लोगों को पता ही नहीं चला कि आग लगी है, जब वे उठे तो पूरी बिल्डिंग धुएं से भरी हुई थी, जिसमें वे सभी फंस गए और सांस नहीं ले पा रहे थे, कई लोगों की दम घुटने से मौत हो गई।

बिल्डिंग में नीचे आने के रास्ते बंद थे

मौके पर मौजूद दमकलकर्मियों ने आग पर जल्दी काबू पाने की कोशिश की, जिसकी वजह से कई लोगों की जान बच गई, नहीं तो और भी लोगों की जान जा सकती थी। बिल्डिंग में फंसे कई लोग दमकलकर्मियों के बताए रास्ते पर चलते हुए बिल्डिंग की छत पर पहुंच गए, जिससे वे दम घुटने वाले धुएं से बच गए।

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि मौतों का सबसे बड़ा कारण यह था कि बिल्डिंग के अंदर जमीन पर आने का कोई रास्ता नहीं था। जो रास्ते थे, वे बंद थे, जिसकी वजह से लोगों का दम घुट गया। अंदर मौजूद लोग बाहर नहीं निकल पाए। और उनकी मौत हो गई।

कुवैत के मंत्री ने नगर निगम के अधिकारियों को निलंबित किया

कुवैत टाइम्स के अनुसार, लोक निर्माण और नगर पालिका मंत्री डॉ. नूरा अल-मशान ने बुधवार को मंगाफ क्षेत्र में एक इमारत में लगी आग की जांच लंबित रहने तक अल-अहमदी नगर पालिका शाखा के प्रशासकों को निलंबित कर दिया।

कुवैत समाचार एजेंसी (KUNA) को दिए गए एक बयान में, डॉ. अल-मशान ने पुष्टि की कि उन्होंने नगर पालिका को मामले की पूरी जांच करने का निर्देश दिया है। अपनी ओर से, कुवैत नगर पालिका के महानिदेशक सऊद अल-डब्बूस ने पीड़ितों के परिवारों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की, उन्होंने पुष्टि की कि आग के कारणों का पता लगाने के लिए जांच शुरू कर दी गई है।

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now
Google News Follow Me

‌इमारत के मालिक को गिरफ्तार करने का आदेश

कुवैत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, कुवैत के उप प्रधान मंत्री शेख फहद अल-यूसुफ अल-सबाह ने घटनास्थल का दौरा किया। उन्होंने इमारत के मालिक को गिरफ्तार करने का आदेश दिया। शेख फहद, जो आंतरिक और रक्षा मंत्रालय भी संभालते हैं, ने कहा “दुर्भाग्य से रियल एस्टेट मालिकों का लालच ही ऐसी घटनाओं का कारण बनता है”।

अधिकारियों के बयान

अधिकारियों ने कहा कि आग पर काबू पा लिया गया है और वे इसके कारणों की जांच कर रहे हैं। एक वरिष्ठ पुलिस कमांडर ने स्टेट टीवी को बताया, “जिस इमारत में आग लगी थी, उसमें कामगार रहते थे और वहां बड़ी संख्या में कामगार थे। दर्जनों लोगों को बचाया गया, लेकिन दुर्भाग्य से आग से निकले धुएं के कारण कई लोगों की मौत हो गई।”

इमारत में 200 कामगार रहते थे

कुवैत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, छह मंजिला इमारत के बाहरी हिस्से पर कालिख देखी गई, जिसमें 196 कामगार रहते थे। तेल से समृद्ध कुवैत में बड़ी संख्या में विदेशी कामगार हैं, जिनमें से कई दक्षिण और दक्षिण पूर्व एशिया से हैं और ज्यादातर निर्माण या सेवा उद्योगों में काम करते हैं। जनरल फायर डिपार्टमेंट के एक सूत्र के अनुसार, पीड़ितों की मौत ग्राउंड फ्लोर पर आग लगने के बाद उठते धुएं से हुई। ओवैहान ने कहा कि फोरेंसिक टीमें घटनास्थल पर काम कर रही हैं और अब तक तीन शवों की पहचान हो चुकी है।

पीएम मोदी ने जताया दुख

कुवैत में हुई इस घटना पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुख जताया है, पीएम मोदी ने अपने ई-मेल पर लिखा, “कुवैत शहर में आग लगने की घटना दुखद है। मेरी संवेदनाएं उन सभी लोगों के साथ हैं जिन्होंने अपने प्रियजनों को खो दिया है। मैं प्रार्थना करता हूं कि जो लोग घायल हुए हैं वे जल्द ठीक हो जाएं। कुवैत में भारतीय दूतावास स्थिति पर करीब से नजर रख रहा है। वह प्रभावितों की मदद के लिए वहां के अधिकारियों के साथ मिलकर काम कर रहा है। पीड़ितों को हर संभव मदद मुहैया कराई जाएगी।”

जानें कब लगी आग?

यह घटना स्थानीय समयानुसार सुबह 6 बजे (भारतीय समयानुसार सुबह करीब 9 बजे) हुई।

आग लगने का वीडियो देखें:-

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने जताया दुख, सरकार ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा, “कुवैत शहर में आग लगने की घटना की खबर सुनकर गहरा सदमा लगा है। कथित तौर पर 40 से अधिक लोगों की मौत हो गई है और 50 से अधिक लोग अस्पताल में भर्ती हैं। हमारे राजदूत कैंप में गए हैं। हम आगे की जानकारी का इंतजार कर रहे हैं।”

कुवैत में भारतीय दूतावास ने हेल्पलाइन नंबर जारी कर बताया है कि आग लगने की घटना में कुछ भारतीय मजदूर भी शामिल हैं, दूतावास उन सभी को हर संभव सहायता प्रदान कर रहा है। वहां के स्थानीय मीडिया ने बताया कि इमारत में मलयालम लोगों की एक बड़ी आबादी रहती है। हालांकि, अधिकारियों की ओर से अभी आधिकारिक पुष्टि का इंतजार है।

click here 1(देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले पढ़ें Talkaaj (बात आज की) पर, आप हमें FacebookTwitterInstagramKoo और  Youtube पर फ़ॉलो करे)

You may also like

Leave a Comment

TalkAaj (Aaj Ki Baat)

TalkAaj पर पढ़ें हिन्दी न्यूज़ देश और दुनिया से, जाने व्यापार, मनोरंजन, सरकारी योजना ,शिक्षा, जॉब, खेल और राजनीति के हर अपडेट. Read all Hindi …
Contact us: Talkaajnews@gmail.com

Edtior's Picks

Latest Articles

Top 10 Mobile Brands in India 2024 Best Places To Visit In Singapore 2024 ये बैंक दे रहा सबसे सस्‍ता पर्सनल लोन ‘Pak में जैसे PM बदलते हैं, वैसे बीवियां…’ शोएब की तीसरी शादी से डरी एक्ट्रेस! Relationship Tips In Hindi The 10 Richest States in America Best Camera Mobile Phones Under 30,000 (2023) OTT: ए-रेटेड फिल्में जो सिनेमाघरों में हुई हिट कोलकाता देश का सबसे सुरक्षित शहर क्यों है? Top 10 Wealthiest States in the US