Homeधर्म आस्थाMahashivratri : शिवरात्रि के दिन इन कार्यों को करना एक महापाप माना...

Mahashivratri : शिवरात्रि के दिन इन कार्यों को करना एक महापाप माना जाता है, भोलेनाथ नाराज होते हैं

Mahashivratri : शिवरात्रि के दिन इन कार्यों को करना एक महापाप माना जाता है, भोलेनाथ नाराज होते हैं

शिवरात्रि पर ऐसा न करें, ये पाप हैं

यूं तो श‍िवजी बड़े भोले हैं अगर श्रद्धा से आप एक बार ऊं नम: श‍िवाय ही जप लें तो वह प्रसन्‍न हो जाते हैं। लेक‍िन हम इस आर्टिकल में आपको श‍िवपुराण में बताई गयी, जिन्हें महापाप की श्रेणी में रखा गया है। आइए जानते हैं ताकि आप शिवरात्रि (Mahashivratri) के दिन भूलकर भी यह काम न करें …

महापाप इसे भी मानते हैं

किसी के लिए न केवल गलत करना, बल्कि सोचना भी पाप है। अगर आप शिवरात्रि (Mahashivratri) की पूजा कर रहे हैं, तो इस दिन इस बात का विशेष ध्यान रखें। क्योंकि किसी के लिए न केवल बुरा करना गलत है बल्कि सोचना भी गलत है। सनातन धर्म ऐसी मान्यता है कि किसी को भी किसी भी व्यक्ति के बारे में अपनी सोच में गलत भावनाएं नहीं लानी चाहिए।

ये भी पढ़े:- EPFO से जुड़ी हर समस्या का अब होगा फटाफट समाधान, इन व्हाट्सएप नंबरों पर करें तुरंत शिकायत

यह व‍िचार तो है महापाप जानें क्‍यों

जैसे, किसी को भी दूसरों के पति या पत्नी पर बुरी नज़र नहीं रखनी चाहिए। लेकिन शिवरात्रि (Mahashivratri) के दिन ऐसा करना न भूलें। ऐसा माना जाता है कि ऐसा करना या इसे पाने की इच्छा करना भी पाप है। इसके अलावा, दूसरों के धन को अपना बनाने की सोचना भी भगवान शिव की नजर में एक अपराध है।

ऐसा बिल्कुल न करें, शिवजी नाराज हो जाएंगे

शिवरात्रि (Mahashivratri) के दिन भी गुरु, माता-पिता, पत्नी या पूर्वजों का अपमान नहीं करना चाहिए। इसके अलावा, गुरु का पत्नी के साथ संबंध रखना, शराब पीना और दान की हुई चीजें या पैसे वापस लेना भी बहुत बड़ा पाप माना जाता है। इसलिए ऐसा करने से बचें अन्यथा शिवजी कभी क्षमा नहीं करते हैं।

ये भी पढ़े:- असम में बने कामाख्या मंदिर (Kamakhya Temple) का एक अनोखा इतिहास है, इन बातों को जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे

यह भी माना जाता है कि महापाप से सावधान रहना चाहिए

शिवरात्रि (Mahashivratri) के अवसर पर, गलत तरीके से दूसरे की संपत्ति हड़पना, ब्राह्मण या मंदिर की वस्तुओं को चोरी करना या गलत तरीके से हथियाना भी पाप माना जाता है। इसके अलावा, सज्जनों को कष्ट देना या एकमुश्त लोगों को भी भारीता की श्रेणी में आता है।

Talkaaj: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें Talkaaj ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए Talkaaj फेसबुक पेज लाइक करें

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए Talkaaj टेलीग्राम पेज लाइक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments