Maruti Cars Safety Rating Review In Hindi: गलती से भी न खरीदें Maruti की ये 4 कारें, खतरे में पड़ जाएगी पूरे परिवार की जान!

Maruti Cars Safety Rating Review In Hindi
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp

Maruti Cars Safety Rating: गलती से भी न खरीदें Maruti की ये 4 कारें, खतरे में पड़ जाएगी पूरे परिवार की जान!

Maruti Cars Safety Rating: मारुति सुजुकी भारत की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी है। यह सबसे ज्यादा कारें बेचता है। यानी साफ तौर पर कहा जा सकता है कि देश का एक बड़ा हिस्सा मारुति सुजुकी ( Maruti Suzuki ) की कारों पर भरोसा करता है और उसकी कारें खरीदना चाहता है।

लेकिन, सुरक्षा को ध्यान में रखकर कार खरीदने वालों के लिए मारुति सुजुकी की कुछ कारें बिल्कुल भी अच्छी नहीं होती हैं। तो आइए, आज हम आपको मारुति सुजुकी (Maruti Suzuki) की 4 ऐसी कारों के बारे में बताते हैं, जिन्हें ग्लोबल एनकूप से बेहद खराब सेफ्टी रेटिंग मिली है।

आपके लिए | Mahindra Thar 5 Door मार्केट में आते ही मच जाएगा तहलका, मिलेगे कई बेहतरीन फीचर्स 

मारुति स्विफ्ट, इग्निस और एस-प्रेसो की सेफ्टी रेटिंग ( Safety Rating of Maruti Swift, Ignis and S-Presso )

मारुति स्विफ्ट ( Maruti Swift ), इग्निस( Ignis ) और एस-प्रेसो ( S-Presso ), तीनों कारों का हाल ही में नए और अपडेटेड ग्लोबल एनसीएपी क्रैश टेस्ट मानकों के तहत परीक्षण किया गया था। इसमें स्विफ्ट हैचबैक को एडल्ट प्रोटेक्शन और चाइल्ड प्रोटेक्शन में 1 स्टार जबकि इग्निस और एस-प्रेसो को एडल्ट प्रोटेक्शन में 1 स्टार और चाइल्ड प्रोटेक्शन में 0 स्टार मिला है।

आपके लिए | हाईवे पर सफर करने वालों की मौज, नहीं देना होगा Toll Tax; जानिए क्या है नियम

Swift ने एडल्ट और चाइल्ड ऑक्यूपेंट प्रोटेक्शन में क्रमश: 34 में से 19.19 और 49 में से 16.68 स्कोर किया। मारुति इग्निस (Maruti Ignis) ने एडल्ट ऑक्यूपेंट प्रोटेक्शन में 34 में से 16.48 प्वाइंट्स और चाइल्ड ऑक्यूपेंट प्रोटेक्शन में 49 में से 3.86 प्वाइंट्स हासिल किए।

मारुति एस-प्रेसो ( Maruti S-Presso ) की बात करें तो इसने एडल्ट ऑक्यूपेंट प्रोटेक्शन में 34 में से 20.03 अंक हासिल किए, जबकि चाइल्ड ऑक्यूपेंट प्रोटेक्शन में इसे 49 में से केवल 3.52 अंक मिले।

आपके लिए | Alto-Swift से भी ज्यादा बिकी Tata की ये सस्ती कार, मिलते है कई शानदार फीचर्स

मारुति वैगनआर की सेफ्टी रेटिंग ( Safety Rating of Maruti WagonR )

Maruti WagonR का अभी नए और अपडेटेड ग्लोबल एनसीएपी क्रैश टेस्ट मानकों के तहत परीक्षण किया जाना बाकी है। हालांकि, पुराने मानक के तहत अक्टूबर 2019 में इसका परीक्षण किया गया था, जिसमें ग्लोबल एनसीएपी ने इसे दो सितारा सुरक्षा रेटिंग दी थी। हैचबैक ने एडल्ट और चाइल्ड ऑक्युपेंट प्रोटेक्शन में क्रमश: 17 में से 6.93 और 49 में से 16.33 स्कोर किया।

Posted by Talkaaj.com

click here

Talkaaj

RELATED ARTICLES

आपके लिए | Maruti Alto 800 सिर्फ 36000 देकर घर ले जाएं देश की सबसे सस्ती कार

आपके लिए | DL, RC, PUC और Insurance नही है, फिर भी नहीं कटेगा Challan, जानिए अपने अधिकार

आपके लिए | Helmet पहनने को लेकर नियम बदले, इसका नहीं रखा ध्यान तो कटेगा भारी Challan! जानिए नियम

आपके लिए | PAN Card है तो पढ़ लीजिए ये खबर, नहीं तो देना होगा 10,000 रुपये का जुर्माना या हो सकती है जेल

आपके लिए | सिर्फ 32,000 देकर घर लाएं Maruti Alto, मिलेगे कई शानदार फीचर्स और 32Km का धासू माइलेज

आपके लिए | Tata Tigor को सिर्फ 4,111 रुपये देकर घर लाएं, मिलते है शानदार फीचर्स और ग़जब का माइलेज 

आपके लिए | Maruti Wagon R को 20,000 देकर ले जाए घर, 35Km का ग़जब माइलेज और फीचर्स भी हैं शानदार

आपके लिए | नए ट्रैफिक नियम को जानें वरना पड़ जाओगे बड़ी मुसीबत में, यहां जानिए और पहले से सतर्क हो जाएं

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…

🔥🔥 Join Our Group For All Information And Update, Also Follow me For Latest Information🔥🔥

🔥 WhatsApp                       Click Here
🔥 Facebook Page                  Click Here
🔥 Instagram                  Click Here
🔥 Telegram Channel                   Click Here
🔥 Koo                  Click Here
🔥 Twitter                  Click Here
🔥 YouTube                  Click Here

Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
Print

Leave a Comment

Top Stories

PAN Card Users

PAN Card Users सावधान! सरकार ने दी चेतावनी इन लोगों को देना होगा 10,000 का जुर्माना या होगी जेल, जानिए वजह

PAN Card Users सावधान! सरकार ने दी चेतावनी इन लोगों को देना होगा 10,000 का जुर्माना या होगी जेल, जानिए वजह PAN Card Users :

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker

Refresh Page