Homeटेक ज्ञानअब पसीने से पैदा होगी 24 घंटे बिजली (Electricity) , चार्ज हो...

अब पसीने से पैदा होगी 24 घंटे बिजली (Electricity) , चार्ज हो सकेगा फोन: Research

अब पसीने से पैदा होगी 24 घंटे बिजली (Electricity) , चार्ज हो सकेगा फोन: Research

टेक डेस्क | अमेरिकी वैज्ञानिकों ने उंगलियों में पहनने के लिए एक उपकरण बनाया है। इस डिवाइस से निकलने वाला पसीना बिजली पैदा करेगा और फोन को चार्ज करेगा।

अमेरिकी शोधकर्ताओं ने एक हाथ में पकड़ने वाला उपकरण खोजा है जो किसी व्यक्ति के पसीने से बिजली पैदा कर सकता है। इसे संभव बनाने के लिए वैज्ञानिकों ने डिवाइस का एक प्रोटोटाइप तैयार किया है। इसकी मदद से पसीने से पहले बिजली (Electricity)  तैयार हो जाएगी और फिर फोन चार्ज हो जाएगा। इस डिवाइस को यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया, सैन डिएगो के शोधकर्ताओं ( Research ) ने डिजाइन किया है।

ऐसे काम करती है यह तकनीक

अमेरिकी वैज्ञानिकों द्वारा तैयार किया गया उपकरण उंगलियों पर पहना जाएगा। रात को सोते या बैठे हुए पसीने के निकलने से बिजली (Electricity) पैदा होगी। इससे स्मार्टफोन चार्ज हो जाएगा। विद्युत कंडक्टर डिवाइस से जुड़े होते हैं। इसमें कार्बन फोम का इस्तेमाल किया गया है जो उंगलियों से निकलने वाले पसीने को सोख लेता है. इलेक्ट्रोड पर मौजूद एंजाइम पसीने के कणों के बीच एक रासायनिक प्रतिक्रिया शुरू करते हैं। इससे बिजली पैदा होती है। इलेक्ट्रोड के नीचे एक छोटी सी चिप लगाई जाती है, जिसे दबाने पर उपकरण बिजली पैदा करता है।

यह भी पढ़िए | PM Kisan Samman Nidhi Scheme का लाभ लेने से पहले जान लें ये पांच बदलाव

Electricity
File Photo By google

डिवाइस में लगा मैटेरियल फ्लेक्सिबल

अमेरिकी शोधकर्ता लू यिन का कहना है कि डिवाइस का आकार एक वर्ग सेंटीमीटर है। डिवाइस में प्रयुक्त मैटेरियल फ्लेक्सिबल है। इसलिए इसे उंगलियों में पहनने से असहजता महसूस नहीं होगी। आप इसे किसी भी लम्बाई के लिए पहन सकते हैं। शोधकर्ताओं का कहना है कि यह डिवाइस धीरे-धीरे बिजली पैदा करता है। स्मार्टफोन को चार्ज करने के लिए एक व्यक्ति को इस डिवाइस को करीब 3 हफ्ते तक पहनना होता है। भविष्य में इसकी चार्जिंग क्षमता को बढ़ाया जा सकता है।

यह भी पढ़िए | आपके Aadhaar Card में आपका Mobile Number और E-Mail सही है या नहीं, ऐसे जांचें

इसलिए जरूरी है उंगलियों पर चिप लगाना

यदि इसे सभी अंगुलियों में पहना जाए तो 10 गुना अधिक ऊर्जा संग्रहित की जा सकती है। डिवाइस को उंगलियों पर इसलिए पहनना क्योंकि यहां से पसीना ज्यादा आता है। पसीना आने पर शक्ति उत्पन्न होती है। उंगलियों से पसीना या नमी निकालने के लिए व्यायाम या शारीरिक गतिविधि की कोई जरूरत नहीं है। सीनियर प्रोफेसर जोसेफ वोंग का कहना है कि अगर आप उंगली की नोक पर कुछ नहीं कर रहे हों तो भी बहुत कम मात्रा में पसीना आता है। इस तकनीक की मदद से आप बिना किसी मेहनत के इससे बिजली पैदा कर सकते हैं।

इस आर्टिकल को शेयर करें

ये भी पढ़े:- 

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें और  टेलीग्राम पर ज्वाइन करे और  ट्विटर पर फॉलो करें .डाउनलोड करे Talkaaj.com पर विस्तार से पढ़ें व्यापार की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments