Google Map छोड़ अब OLA Maps पर शिफ्ट हुई OLA, जानिए नए फीचर्स और फायदे

by ppsingh
121 views
Google Map छोड़ अब OLA Maps पर शिफ्ट हुई OLA, जानिए नए फीचर्स और फायदे

Ola Maps:

कैब एग्रीग्रेटर ओला के फाउंडर भाविश अग्रवाल ने सोशल नेटवर्किंग साइट पर खुद की इन-हाउस नेविगेशन सर्विस ‘ओला मैप्स’ के लॉन्च का ऐलान किया है। कंपनी ने अब गूगल मैप को छोड़कर अपने नए ओला मैप पर शिफ्ट कर लिया है।

Ola का बड़ा कदम:

देश की प्रमुख कैब एग्रीगेटर ओला ने आज अपने इन-हाउस नेविगेशन सिस्टम, ओला मैप्स (Ola Maps) को लॉन्च किया। कंपनी ने गूगल मैप्स (Google Maps) का इस्तेमाल बंद कर दिया है और अब पूरी तरह से अपने द्वारा बनाए गए ओला मैप्स का उपयोग करेगी। यह घोषणा ओला के फाउंडर भाविश अग्रवाल ने सोशल नेटवर्किंग साइट ‘X’ पर की। उन्होंने कहा कि अब कंपनी ने गूगल मैप्स को पूरी तरह से छोड़कर अपने इन-हाउस नेविगेशन सिस्टम, ओला मैप्स पर शिफ्ट कर लिया है।

भाविश अग्रवाल का बयान:

भाविश अग्रवाल ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट में कहा, “पिछले महीने Azure से बाहर निकलने के बाद, अब हम Google Maps से पूरी तरह से बाहर निकल चुके हैं। हम सालाना 100 करोड़ रुपये खर्च करते थे, लेकिन अब हमने अपने इन-हाउस Ola Maps का उपयोग करके इसे शून्य कर दिया है! अपना Ola ऐप चेक करें और जरूरत पड़ने पर अपडेट करें।”

टेक्निकल डिटेल्स:

अग्रवाल ने आगे बताया, “जो लोग यह जानना चाहते हैं कि हमने ओला मैप्स में क्या-क्या फीचर्स जोड़े हैं और हमने ओपन सोर्स कम्यूनिटी से क्या लाभ उठाया है, उनके लिए इस सप्ताहांत में एक डिटेल्ड तकनीकी ब्लॉग पब्लिश किया जाएगा। आशा है कि आप सभी इसे पढ़कर आनंद लेंगे!”

OLA Maps की सुविधाएं:

कंपनी ओला मैप्स (OLA MAP) में कई अत्याधुनिक सुविधाएं जोड़ने पर काम कर रही है, जैसे कि स्ट्रीट व्यू, न्यूरल रेडिएंस फील्ड्स (NERFs), इनडोर इमेज, 3D मैप्स और ड्रोन मैप्स। इसके अलावा, क्रुत्रिम AI द्वारा प्रदान की जाने वाली क्लाउड सेवाओं में ओला मैप्स के लिए एप्लीकेशन प्रोग्रामिंग इंटरफ़ेस (API) भी शामिल होगा। API एक प्रकार का सॉफ्टवेयर इंटरफ़ेस है, जिसका उपयोग दो या दो से अधिक कंप्यूटर प्रोग्राम या कंपोनेंट्स एक दूसरे से कम्यूनिकेशन करने के लिए करते हैं।

Krutrim AI के साथ साझेदारी:

हाल ही में ओला ने अपने IT वर्कलोड को माइक्रोसॉफ्ट के एज़्योर से क्रुत्रिम (Krutrim) के क्लाउड पर शिफ्ट किया था। इसके बाद ही ओला ने यह बड़ा कदम उठाया है। अब कंपनी के कैब्स में इन-हाउस ओला मैप्स का इस्तेमाल किया जाएगा। क्रुत्रिम क्लाउड अपने AI कंप्यूटिंग इंफ्रास्ट्रक्चर पर GPU सर्विस प्रदान करता है, जिससे इंटरप्राइजेज और डेवलपर्स अपने मॉडल को ट्रेनिंग देकर इसे और बेहतर बना सकते हैं। 22 मई को अग्रवाल ने पोस्ट किया कि ओला ने एक सप्ताह के भीतर अपना पूरा कार्यभार Azure से हटा लिया है।

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now
Google News Follow Me

इस प्रकार, ओला ने अपने इन-हाउस मैपिंग सिस्टम को लॉन्च कर एक बड़ी सफलता हासिल की है। इससे न केवल कंपनी को आर्थिक लाभ होगा, बल्कि यूजर्स को भी अधिक सुविधाएं और सटीकता मिलेगी। ओला का यह कदम नेविगेशन तकनीक में एक महत्वपूर्ण परिवर्तन है, जो अन्य कंपनियों को भी प्रेरित कर सकता है।

talkaaj

#NO: 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट Talkaaj.com (आज की बात )

(देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले पढ़ें Talkaaj (बात आज की) पर, आप हमें FacebookTwitterInstagramKoo और  Youtube पर फ़ॉलो करे)

You may also like

Leave a Comment

www.talkaaj.com_ (2)

TalkAaj (Aaj Ki Baat)

TalkAaj पर पढ़ें हिन्दी न्यूज़ देश और दुनिया से, जाने व्यापार, मनोरंजन, सरकारी योजना ,शिक्षा, जॉब, खेल और राजनीति के हर अपडेट. Read all Hindi …


Contact us: [email protected]

Edtior's Picks

Latest Articles

New Mahindra Scorpio Classic की 3 बड़ी कमियां Maruti Suzuki Alto K10 All Variant Prices : नई मारुति ऑल्टो के हर वेरिएंट की कीमत, ये वाला है सबसे सस्ता World scrambles to update their iPhones, iPads and Macs after Apple revealed hackers could ‘exploit’ security flaw granting them access to EVERYTHING from bank accounts, social media, private photos, emails and personal contacts Big News : Jennifer Lopez and Ben Affleck ‘Clearly in Love’ Ahead of Wedding Party in Ga., Says Spa Owner Big News : Japanese fashion designer Hanae Mori dies aged 96