Home विदेश 29 दिनों के बाद Armenia और Azerbaijan में शांति लौटेगी, इस देश...

29 दिनों के बाद Armenia और Azerbaijan में शांति लौटेगी, इस देश ने कराया संघर्ष विराम

29 दिनों के बाद Armenia और Azerbaijan में शांति लौटेगी, इस देश ने कराया संघर्ष विराम

World Desk: अर्मेनिया (Armenia) और Azerbaijan (अज़रबैजान) के बीच 29 दिनों तक चलने वाले युद्ध के शांत होने की उम्मीद है। दोनों देश आधी रात से संघर्ष विराम लागू करने पर सहमत हुए हैं। पहले अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और फिर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ट्विटर पर दी जानकारी दी

अर्मेनिया (Armenia) और Azerbaijan (अज़रबैजान) के बीच 29 दिनों तक चलने वाले युद्ध के शांत होने की उम्मीद है। दोनों देश आधी रात से युद्धविराम लागू करने पर सहमत हुए हैं। पहले अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और फिर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ट्विटर पर यह जानकारी दी।

आर्मेनिया और अजरबैजान दुनिया के नक्शे पर दो छोटे देश हैं। लेकिन नागोर्नो काराबाख पर लगभग एक महीने से इन दोनों देशों के बीच इतना भीषण युद्ध चल रहा है। जिसकी वजह से दुनिया की नजर इन दोनों देशों पर टिकी हुई थी। यह दावा किया जा रहा है कि अब तक इस युद्ध में दोनों तरफ के लगभग 5000 लोग मारे जा चुके हैं।

ये भी पढ़े:- ये बेस्ट लैपटॉप (Laptops) 25 हजार से कम कीमत के, विवरण देख खरीदने का होगा मन

माइक पोम्पिओ ने समझौते के बारे में जानकारी दी

दोनों देशों के बीच समझौता करने के कई प्रयासों के बाद, युद्ध के बादलों को कटते देखा जा रहा है। अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पाओ म्पियो ने जानकारी दी है कि दोनों देश संघर्ष विराम के लिए सहमत हो गए हैं। वास्तव में, अमेरिका ने अर्मेनिया और अजरबैजान के विदेश मंत्री और OSCE मिन्स्क समूह के साथ गहन बातचीत की। ताकि नागबोर्न करबाख के संघर्ष को समाप्त करने के करीब पहुंच सके।

अमेरिका सहित तीन देशों ने एक संयुक्त बयान जारी किया

अर्मेनिया के विदेश मंत्री ज़ोहराब मन्नत्सक्यानन और अजरबैजान के विदेश मंत्री जेहुन ब्य्रामोव आधी रात के युद्धविराम को लागू करने और पालन करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। अमेरिका ने भी दोनों देशों के साथ एक संयुक्त बयान जारी किया है। जिसमें कहा गया है कि 10 अक्टूबर को अर्मेनिया और अजरबैजान मास्को में मानवीय युद्ध विराम के लिए सहमत हुए। इसे लागू करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

ये भी पढ़े :-Android उपयोगकर्ता ध्यान दें! इन 21 ऐप्स को लेकर जारी अलर्ट, आपके फोन के लिए खतरनाक है!

ट्रंप ने समझौते का स्वागत किया

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प, जिन्होंने दोनों देशों के बीच संघर्ष विराम का नेतृत्व किया, ने भी संघर्ष विराम से कई लोगों की जान बचाने की उम्मीद जताई। ट्रम्प ने अर्मेनियाई प्रधान मंत्री निकोलस पशिनेन और अज़रबैजान के राष्ट्रपति इल्हाम अलीयेव को युद्ध विराम पर बधाई दी। उन्होंने कहा कि इससे कई लोगों की जान बच जाएगी।

समझौता का शक?

वर्तमान में, आर्मेनिया और अजरबैजान अमेरिका, रूस और फ्रांस जैसी शक्तियों के दबाव के कारण युद्ध विराम के लिए सहमत हुए हैं। लेकिन इस बात में संदेह है कि यह संघर्षविराम आखिर कब तक चल पाएगा। वास्तव में
तुर्की इस क्षेत्र का एक देश है, जो इस क्षेत्र में शांति नहीं चाहता है।

ये भी पढ़े : अब, कटे-फटे नोटों को मुफ्त में बदलें, आपको पूरा पैसा वापस मिलेगा, बस बैंक (Bank) जाकर यह काम करना होगा!

तुर्की आग में घी डाल रहा है

तुर्की, जिसने अजरबैजान पर हमले के लिए अजरबैजान और आतंकवादियों की एक सेना को हथियार दिए, अब अजरबैजान की मांग पर अपनी सेना भेजने के लिए तैयार है। ऐसी स्थिति में, विशेषज्ञों का मानना ​​है कि तुर्की फिर से दोनों देशों के बीच युद्ध की आग में घी डाल सकता है।

दोनों देशों में युद्धविराम पहले भी विफल रहा

इससे पहले भी दोनों देश संघर्ष विराम के लिए सहमत हुए हैं … लेकिन यह युद्ध विराम 10 मिनट भी नहीं चला और उसके बाद दोनों देशों ने एक-दूसरे पर गोलाबारी शुरू कर दी। नए युद्ध विराम से एक दिन पहले, अर्मेनिया और अजरबैजान ने एक-दूसरे के क्षेत्रों को निशाना बनाया। कुछ समय के लिए, इस युद्ध से दोनों देशों को भारी नुकसान हुआ है और सैकड़ों लोग मारे गए हैं। इस स्थिति में संघर्ष विराम आम नागरिकों के लिए बहुत अच्छी खबर है, लेकिन युद्धविराम की उम्र को लेकर भी लोग डरे हुए हैं।

ये भी पढ़े :- भारत में लॉन्च से पहले Jio की 5G टेस्टिंग सफल, जानिए 5G के बारे में सबकुछ

ये भी पढ़े :- न बिजली का बिल होगा, न वोटर का, न डीएल का, न पैन का, न आईडी का, फिर भी Aadhar card पर पता बदलिये, जानिए कैसे

ये भी पढ़े :- लोग Instant Loan के नाम पर चूना लगा रहे हैं, App के जरिए ठगी की जा रही है; ये हैं बचने के उपाय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

सरकार Home Loan पर 2.67 लाख रुपये का लाभ दे रही है

सरकार Home Loan पर 2.67 लाख रुपये का लाभ दे रही है यह शादियों का मौसम है, अगर आपकी भी शादी होने वाली है और...

रजनीकांत (Rajinikanth) जनवरी में अपनी राजनीतिक पार्टी लॉन्च करेंगे

रजनीकांत (Rajinikanth) जनवरी में अपनी राजनीतिक पार्टी लॉन्च करेंगे Talkaaj Desk: रजनीकांत (Rajinikanth) का यह फैसला इसलिए भी बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि तमिलनाडु चुनाव 2021(Tamil...

85 वर्षीय बुजुर्ग अपनी जमीन PM Modi के नाम करना चाहती हैं, वजह है भावुक करने वाली

85 वर्षीय बुजुर्ग अपनी जमीन PM Modi के नाम करना चाहती हैं, वजह है भावुक करने वाली 85 साल की बिट्टन देवी यूपी के मैनपुरी जिले...

MDH ग्रुप के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी का निधन, 98 वर्ष की आयु में अंतिम सांस ली

MDH ग्रुप के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी का निधन, 98 वर्ष की आयु में अंतिम सांस ली MDH समूह के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी (Mahashay...

Recent Comments