Homeअन्य ख़बरेंकारोबारPM Awas Yojana: पीएम आवास योजना के तहत घर बनाने के लिए...

PM Awas Yojana: पीएम आवास योजना के तहत घर बनाने के लिए मिल सकती है तीन गुना ज्यादा राशि, जानिए डिटेल्स

PM Awas Yojana: पीएम आवास योजना के तहत घर बनाने के लिए मिल सकती है तीन गुना ज्यादा राशि, जानिए डिटेल्स

PM Awas Yojana: पीएम आवास की राशि को बढ़ाकर चार लाख रुपये करने का प्रस्ताव किया गया है। इस योजना के तहत सिर्फ एक लाख 20 हजार रुपये ही मिल रहे हैं.

प्रधानमंत्री आवास योजना (PM Awas Yojana) के लाभार्थियों के लिए बड़ी खबर है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घर बनाने के लिए चार लाख रुपये देने का प्रस्ताव किया गया है. समिति का मानना ​​है कि अब मकान बनाने की लागत बढ़ गई है। अगर इस प्रस्ताव को मंजूरी मिल जाती है तो अब लोगों को पीएम आवास के तहत पहले से तीन गुना ज्यादा पैसा मिलेगा. आइए जानते हैं क्या है इस ऑफर में।

क्या बढ़ेगी पीएम आवास योजना की राशि?

झारखंड विधानसभा की प्राक्कलन समिति ने राज्य में प्रधानमंत्री आवास योजना (PM Awas Yojana) के तहत आवास निर्माण के लिए चार लाख रुपये की अनुशंसा की है. समिति के अध्यक्ष दीपक बिरुआ ने मानसून सत्र के अंतिम दिन प्राक्कलन समिति की रिपोर्ट सदन के पटल पर रखी। झामुमो विधायक दीपक बिरुआ का कहना है कि हर सामान के दाम बढ़े हैं. दरअसल, रेत, सीमेंट, रॉड, ईंट, गिट्टी की महंगाई से ग्रामीण इलाकों में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बन रहे मकानों की लागत बढ़ गई है.

यह भी पढ़िए| PM Kisan Samman Nidhi Yojana में हुए ये 5 बदलाव, छठा हुआ तो दोगुना होगा मुनाफा

केंद्र सरकार और राज्य सरकार से निवेदन

बिरुआ ने कहा कि बीपीएल (BPL) परिवार अपनी तरफ से 50 हजार से एक लाख रुपये नहीं दे पा रहे हैं. ऐसे में केंद्र और राज्य सरकार के सहयोग से चल रही पीएम आवास योजना (PM Awas Yojana) के तहत बन रहे मकानों की लागत 1.20 लाख रुपये से बढ़ाकर 4 लाख रुपये की जाए, ताकि व्यावहारिक रूप से मकान बन सकें और लोग आगे आएं. इसके लिए। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि राज्य सरकार राज्य का हिस्सा बढ़ाने पर विचार कर सकती है. प्राक्कलन समिति में विधायक बैद्यनाथ राम, नारायण दास, लम्बोदर महतो और अंबा प्रसाद सदस्य के रूप में उपस्थित थे।

यह भी पढ़िए | PM Kisan की नई सूची से किसका नाम हटाया गया? ऐसे चेक करें अपने पूरे गांव की लिस्ट

इस आर्टिकल को शेयर करें

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए –

TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Whatsapp से जुड़े
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Telegram से जुड़े
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Instagram से जुड़े
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Youtube से जुड़े
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप को Twitter पर फॉलो करें
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Facebook से जुड़े
TalkAaj (बात आज की) के Application Download करे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments