PM Modi (पीएम मोदी) चंडीगढ़, रोहतांग में अटल टनल का उद्घाटन किया

PM Modi
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp

PM Modi (पीएम मोदी) चंडीगढ़, रोहतांग में अटल टनल का उद्घाटन किया

Talkaaj Desk:- रोहतांग में स्थित, यह 9.02 किलोमीटर लंबी सुरंग मनाली को लाहौल स्फीति से जोड़ती है। इस सुरंग की वजह से मनाली और लाहौल स्फीति घाटी पूरे सालों एक-दूसरे के साथ जुड़े रह सकेंगे। इससे पहले, बर्फबारी के कारण लाहौल स्फीति घाटी को देश के बाकी हिस्सों से साल के 6 महीने काट दिया जाता था।

लाहौल घाटी के निवासियों के लिए आज एक बड़ा दिन है। सामरिक दृष्टिकोण से, अटल सुरंग ‘का उद्घाटन होने जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज दुनिया की सबसे बड़ी अटल सुरंग का उद्घाटन किया

ये भी पढ़े :- Armenia और Azerbaijan में युद्ध तेज हो गया, 4 हजार से अधिक सैनिक शहीद हो गए, अब घरों में आग के गोले बरस रहे हैं

पीएम मोदी विशेष विमान से चंडीगढ़ पहुंचे हैं। इसके बाद वह रोहतांग जाएंगे। पीएम मोदी सुबह 9:10 बजे एमआई -17 हेलीकॉप्टर द्वारा मनाली के रूप में हेलीपैड पहुंचेंगे। इसके बाद मोदी सड़क मार्ग से सास गेस्ट हाउस जाएंगे। दक्षिण पोर्टल सुबह 9:35 बजे निकलेगा और उद्घाटन समारोह सुबह 10 बजे से रात 11:45 बजे तक चलेगा। इसके बाद 11:50 बजे नॉर्थ पोर्टल टनल के रास्ते पहुंचेंगे। 12 से 12:45 बजे तक सिसु में एक जनसभा करेंगे, 12:50 बजे सुरंग के रास्ते सोलंगनाला वापस आएंगे और भाजपा नेताओं को संबोधित करेंगे।

ये भी पढ़े :- Hathras Case Live Updates: हाथरस मामले में योगी सरकार की बड़ी कार्रवाई, SP, DSP और इंस्पेक्टर सस्पेंड, होगा नार्को टेस्ट

अटल टनल महत्वपूर्ण है

रोहतांग में स्थित, यह 9.02 किलोमीटर लंबी सुरंग मनाली को लाहौल स्फीति से जोड़ती है। इस सुरंग की वजह से मनाली और लाहौल स्फीति घाटी पूरे साल एक-दूसरे के साथ जुड़े रह सकेंगे। इससे पहले, बर्फबारी के कारण लाहौल स्फीति घाटी को देश के बाकी हिस्सों से साल के 6 महीने काट दिया जाता था।

आपको बता दें कि ‘अटल सुरंग’ का निर्माण पीर पंजाल की पहाड़ियों में अत्याधुनिक तकनीक की मदद से किया गया है। यह समुद्र तट से 10,000 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। अटल सुरंग के बनने के कारण मनाली और लेह के बीच की दूरी 46 किलोमीटर कम हो गई है और दोनों स्थानों के बीच यात्रा का समय 4 से 5 घंटे कम हो जाएगा।

ये भी पढ़े :- Fake news के लिए पुलिस WhatsApp Group Admin और सेंडर को करेगी गिरफ्तार

घोड़े की नाल का आकार

अटल सुरंग का आकार ‘घोड़े की नाल की तरह है। इसका दक्षिणी किनारा मनाली से 25 किलोमीटर की दूरी पर समुद्र तल से 3060 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है, जबकि उत्तरी छोर लाहौल घाटी में टेलिंग और सिसु गाँव के पास समुद्र तल से 3071 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है।

10.5 मीटर चौड़ी इस सुरंग पर 3.6 x 2.25 मीटर का फायरप्रूफ इमरजेंसी एग्जिट गेट बनाया गया है। अटल सुरंग ‘के साथ, प्रतिदिन 3000 कारें और 1500 ट्रक 80 किमी की गति से निकल सकेंगे।

सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

‘अटल सुरंग’ में सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं। हर 150 मीटर पर टेलीफोन प्रदान किया गया है ताकि आपातकाल में संपर्क स्थापित किया जा सके। हर 60 मीटर पर अग्निशामक यंत्र रखे जाते हैं। सीसीटीवी 250 की दूरी पर उपलब्ध है।

हवा की गुणवत्ता जांचने के लिए हर 1 किलोमीटर पर मशीनें लगाई जाती हैं। गौरतलब है कि रोहतांग दर्रे के तहत इसे बनाने का निर्णय 3 जून 2000 को लिया गया था। इसकी आधारशिला 26 मई 2002 को रखी गई थी।

ये भी पढ़े :-

Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
TalkAaj

TalkAaj

Leave a Comment

Top Stories

Maruti Alto 2022

इस दिन मार्केट में धूम मचाने आएगी Maruti Suzuki Alto 2022, लॉन्च से पहले जानें कीमत, फीचर्स और स्पेसिफिकेशन की पूरी डिटेल

इस दिन मार्केट में धूम मचाने आएगी Maruti Suzuki Alto 2022, लॉन्च से पहले जानें कीमत, फीचर्स और स्पेसिफिकेशन की पूरी डिटेल Maruti Alto 2022 :

New Helmet Rules in India

New Helmet Rules: बाइक-स्कूटी वाले हो जाओ सावधान! हेलमेट पहना है फिर भी कटेगा चालान, जानिए ऐसा क्यों?

New Helmet Rules: बाइक-स्कूटी वाले हो जाओ सावधान! हेलमेट पहना है फिर भी कटेगा चालान, जानिए ऐसा क्यों? New Helmet Rules in India: सिर्फ हेलमेट