Homeअन्य ख़बरेंकारोबारRation Card: इन नंबरों पर राशन कार्ड संबंधी समस्या की शिकायत करें,...

Ration Card: इन नंबरों पर राशन कार्ड संबंधी समस्या की शिकायत करें, पूरी सूची देखें

Ration Card: इन नंबरों पर राशन कार्ड संबंधी समस्या की शिकायत करें, पूरी सूची देखें

Ration Card: राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा पोर्टल (NFSA) पर प्रत्येक राज्य के लिए अलग-अलग टोल-फ्री नंबर दिए गए हैं। अगर आपको भी राशन कार्ड (Ration Card) से संबंधित कोई समस्या है, तो आप दिए गए नंबरों पर शिकायत करके तत्काल समाधान पा सकते हैं।

राशन कार्ड (Ration Card) एक सरकारी दस्तावेज है जिसके माध्यम से गेहूं, चावल आदि को सरकारी वितरण प्रणाली के तहत बाजार मूल्य से कम कीमत पर उचित मूल्य की दुकानों से खरीदा जा सकता है। लेकिन खाद्य वितरण के दिन शिकायतें आ रही हैं। अक्सर यह देखा जाता है कि राशन डीलर अपने कोटे के अनाज को कार्ड धारकों को देने से हिचकते हैं। अगर आप ऐसी किसी समस्या का सामना कर रहे हैं, तो आप टोल-फ्री नंबर पर शिकायत कर सकते हैं।

ये भी पढ़े:-Nitin Gadkari ने लॉन्च किया Swadesh Bazzar (स्वदेश बज़ार), बोले- Amazon से टक्कर

आप NFSA वेबसाइट पर शिकायत कर सकते हैं – राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा पोर्टल (NFSA) पर प्रत्येक राज्य के लिए अलग-अलग टोल-फ्री नंबर दिए गए हैं। आप चाहें तो एनएफएसए की वेबसाइट https://nfsa.gov.in पर जा सकते हैं। इस वेबसाइट पर मेल और फोन नंबर के माध्यम से शिकायतें दर्ज की जाती हैं। प्रत्येक राज्य का एक अलग टोल-फ्री नंबर है। बता दें कि हर राज्य में राशन कार्ड बनाने का तरीका भी अलग होता है।

ये भी पढ़े:-11 वीं, 12 वीं के छात्रों को हर महीने 5-7 हजार रुपये मिलेंगे, जानिए क्या है किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना

भ्रष्टाचार को कम करने और खाद्यान्न वितरण को सुनिश्चित करने के लिए, सरकार ने शिकायत हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं ताकि सब्सिडी वाले राशन गरीबों तक पहुंच सकें। केंद्र सरकार गरीब लोगों के लिए खाद्यान्न की जमाखोरी में शामिल राशन डीलरों से प्रभावी ढंग से निपटने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। यदि कोई राशन कार्ड (Ration Card) धारक अपना भोजन कोटा प्राप्त नहीं कर रहा है, तो वे टोल-फ्री हेल्पलाइन नंबर पर कॉल कर अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

ये भी पढ़े:- आप आसानी से पोस्ट ऑफिस (Post Office) खोल सकते हैं! अब फ्रेंचाइजी लेकर मोटी कमाई करें

राज्यवार शिकायत हेल्पलाइन नंबर यहाँ देखें

आंध्र प्रदेश – 1800-425-2977
अरुणाचल प्रदेश – 03602244290
असम – 1800-345-3611
बिहार – 1800-3456-194
छत्तीसगढ़ – 1800-233-3663
गोवा – 1800-233-0022
गुजरात – 1800-233-5500
हरियाणा – 1800-180–2087
हिमाचल प्रदेश – 1800-180-8026
झारखंड – 1800-345-6598, 1800-212-5512
कर्नाटक – 1800-425-9339
केरल – 1800-425-1550
मध्य प्रदेश – 181
महाराष्ट्र – 1800-22-4950
मणिपुर – 1800-345-3821
मेघालय – 1800-345-3670
मिजोरम – 1860-222-222-789, 1800-345-3891
नागालैंड – 1800-345-3704, 1800-345-3705
ओडिशा – 1800-345-6724 / 6760
पंजाब – 1800-3006-1313
राजस्थान – 1800-180-6127
सिक्किम – 1800-345-3236
तमिलनाडु – 1800-425-5901
तेलंगाना – 1800-4250-0333
त्रिपुरा – 1800-345-3665
उत्तर प्रदेश – 1800-180-0150
उत्तराखंड – 1800-180-2000, 1800-180-4188
पश्चिम बंगाल – 1800-345-5505
दिल्ली – 1800-110-841
जम्मू – 1800-180-7106
कश्मीर – 1800-180–7011
अंडमान और निकोबार द्वीप समूह – 1800-343-3197
चंडीगढ़ – 1800-180–2068
दादरा और नगर हवेली और दमन और दीव – 1800-233-4004
लक्षद्वीप – 1800-425-3186
पुदुचेरी – 1800-425-1082

ये भी पढ़े:- बड़ी राहत! अब जन्मजात बीमारियों का भी क्लेम मिलेगा, बीमा कंपनियां पॉलिसी ( Policy ) देने से इनकार नहीं कर सकती हैं

ये भी पढ़े:- SBI ने 44 करोड़ ग्राहकों को किया अलर्ट! मोबाइल पर मिला ये SMS तो फटाफट करें ये काम, अन्यथा एक बड़ा नुकसान होगा

Talkaaj: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें Talkaaj ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए Talkaaj फेसबुक पेज लाइक करें

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए Talkaaj टेलीग्राम पेज लाइक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments