Homeअन्य ख़बरेंकारोबारSBI Scheme : घर है तो बुढ़ापे में नहीं होगी पैसों की...

SBI Scheme : घर है तो बुढ़ापे में नहीं होगी पैसों की समस्या, आसानी से गुजर जाएगी जिंदगी

SBI Scheme : घर है तो बुढ़ापे में नहीं होगी पैसों की समस्या, आसानी से गुजर जाएगी जिंदगी

SBI Reverse Mortgage Loan Scheme: बैंकों की रिवर्स मॉर्गेज लोन योजना (Reverse Mortgage Loan Scheme) बहुत उपयोगी है।

SBI Reverse Mortgage Loan Scheme: यह जरूरी नहीं है कि हर व्यक्ति को रिटायरमेंट के बाद पेंशन मिले और उसकी बुढ़ापा आराम से गुजर जाए। सेवानिवृत्ति की उम्र में कई लोगों को पैसों की कमी का सामना करना पड़ता है। वहीं अगर बुजुर्ग पति-पत्नी अपने घर में अकेले रह रहे हों और उनकी देखभाल करने वाला कोई न हो तो स्थिति और मुश्किल हो जाती है। ऐसे में बैंकों की रिवर्स मॉर्गेज लोन योजना (Reverse Mortgage Loan Scheme) बहुत काम की है। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) भी इस योजना को प्रदान करता है, इस योजना का लाभ उठाकर आप अपने जीवन साथी के साथ आराम से बुढ़ापा बिता सकते हैं।

रिवर्स मॉर्टगेज लोन योजना होम लोन के ठीक विपरीत काम करती है। होम लोन में हर महीने बैंक या वित्तीय संस्थान को किस्त (EMI) का भुगतान करना होता है। जबकि रिवर्स मॉर्गेज लोन योजना में वित्तीय संस्थान/बैंक हर महीने घर को गिरवी रखकर एक निश्चित राशि देते हैं। साथ ही, ऋण आवेदक को भी उसी घर में रहने की अनुमति है। यानी अगर आप घर के मालिक हैं तो बुढ़ापे में यह आपके लिए हर महीने आमदनी का जरिया बन सकता है, जिससे आपका जीवन आराम से गुजर सकता है।

यह भी पढ़िए | Amazon के साथ सिर्फ 4 घंटे काम करके हर महीने कमाएं 60 हजार रुपये, जानिए कैसे?

रिवर्स मॉर्टगेज लोन की विशेष विशेषताएं (Reverse Mortgage Loan Scheme features)

एसबीआई (SBI) की वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के मुताबिक इसमें ब्याज दरें कम हैं। प्रोसेसिंग फीस भी कम देनी होगी। यदि आप पूर्व भुगतान करते हैं, तो भुगतान करने के लिए कोई दंड नहीं है। इसमें कोई हिडन चार्ज भी नहीं है। इसमें प्रोसेसिंग फीस लोन की रकम का 0.5 फीसदी हो सकती है। इनकी कीमत कम से कम 2000 रुपये और अधिकतम 20,000 रुपये है। इस पर टैक्स एक्स्ट्रा लगता है।

यह भी पढ़िए | LPG Price | राहत की खबर! अब खाना बनाना होगा सस्ता, बढ़ती LPG महंगाई की कोई टेंशन नहीं

किसे मिल सकता है योजना का लाभ

केवल भारतीय नागरिकों को ही रिवर्स मॉर्टगेज लोन योजना ( Reverse Mortgage Loan Scheme ) का लाभ मिलेगा। यदि आप एकल उधारकर्ता हैं तो न्यूनतम आयु 60 वर्ष होनी चाहिए। अगर ज्वाइंट लोन ले रहे हैं तो जीवनसाथी की उम्र कम से कम 58 साल होनी चाहिए। यह ऋण अवधि 10-15 वर्ष के लिए है। हालांकि, कर्ज लेने वाले की उम्र पर निर्भर करता है। इसमें न्यूनतम 3 लाख रुपये और अधिकतम 1 करोड़ रुपये का ऋण लिया जा सकता है।

यह भी पढ़िए | 10 रुपये में 100 किमी दौड़ेगी ये Electric Bike, जानें कीमत समेत पूरी जानकारी

रिवर्स मॉर्टगेज लोन की कुछ विशिष्ट शर्तें

एसबीआई की वेबसाइट के अनुसार, यदि इस योजना के तहत ऋण स्वीकृत है, तो आपको ऋण समझौते और बंधक, संपत्ति बीमा प्रीमियम और सीईआरएसएआई पंजीकरण शुल्क (50 रुपये की सीमा के अधीन 5 लाख रुपये की सीमा के अधीन) पर स्टांप शुल्क का भुगतान करना होगा। या 5 लाख रुपये)। अधिक की सीमा पर 100 रुपये का शुल्क, जीएसटी अतिरिक्त) देना होगा। यहां यह जानना जरूरी है कि यदि आप इस योजना के तहत ऋण के लिए आवेदन कर रहे हैं तो घर अच्छा होना चाहिए और ऋण आवेदक के पास इसका पूरा स्वामित्व होना चाहिए। वहीं अगर आपकी संपत्ति व्यावसायिक उपयोग की है तो उस पर इस योजना का लाभ नहीं लिया जा सकता है।

इस आर्टिकल को शेयर करें

ये भी पढ़े:- 

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें और  टेलीग्राम पर ज्वाइन करे और  ट्विटर पर फॉलो करें .डाउनलोड करे Talkaaj.com पर विस्तार से पढ़ें व्यापार की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments