Swami Vivekananda Yuva Sashaktikaran Yojana में युवाओं को 10 लाख टैबलेट और 25 लाख स्मार्टफोन दिये जायें, ऐसे करे आवेदन?

Swami Vivekananda Yuva Sashaktikaran Yojana
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
5/5 - (1 vote)

Swami Vivekananda Yuva Sashaktikaran Yojana में युवाओं को 10 लाख टैबलेट और 25 लाख स्मार्टफोन दिये जायें, ऐसे करे आवेदन?

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना 2023: युवा को दिए जाएंगे, 10 लाख टैबलेट और 25 लाख स्मार्टफोन, ऑनलाइन आवेदन, पात्रता, दस्तावेज, अधिकारिक वेबसाइट, हेल्पलाइन नंबर, ताज़ा खबर, स्टेटस, अंतिम तिथि (Swami Vivekananda Yuva Sashaktikaran Yojana UP) (Kya hai, Eligibility, Documents, Helpline Toll Free Number, Online Apply, Official Website, Latest News, Status, Last Date)

उत्तर प्रदेश की फायर ब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ की बीजेपी सरकार राज्य के विभिन्न समुदायों के लिए कई तरह की कल्याणकारी योजनाएं शुरू करती रहती है। इसी क्रम में अब सरकार ने छात्रों को लाभ देने के लिए एक महत्वपूर्ण योजना शुरू की है. सरकार ने इस योजना का नाम स्वामी विवेकानन्द जी के नाम पर रखा है। योजना का पूरा नाम स्वामी विवेकानन्द युवा सशक्तिकरण योजना उत्तर प्रदेश है। सरकार ने योजना के माध्यम से टैबलेट और स्मार्टफोन वितरित करने का निर्णय लिया है। इस योजना के लिए पात्र सभी छात्रों को जल्द ही टैबलेट और स्मार्टफोन मिलेंगे। आइए लेख में पूरी जानकारी प्राप्त करें कि स्वामी विवेकानन्द युवा सशक्तिकरण योजना क्या है और स्वामी विवेकानन्द युवा सशक्तिकरण योजना के लिए आवेदन कैसे करें।

Swami Vivekananda Yuva Sashaktikaran Yojana 2023

योजना का नाम स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना (Swami Vivekananda Yuva Sashaktikaran Yojana)
राज्य उत्तर प्रदेश
शुरू की गई मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा
उद्देश्य छात्र छात्राओं को निशुल्क स्मार्टफोन या टैबलेट उपलब्ध कराना
लाभ मिलेगा 35 लाख युवाओं को
लाभार्थी राज्य के छात्र
आधिकारिक वेबसाइट https://digishakti.up.gov.in/
हेल्पलाइन नंबर 9205706235

Swami Vivekananda Yuva Sashaktikaran Yojana Kya Hai

उत्तर प्रदेश के वर्तमान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा उत्तर प्रदेश के युवाओं के लिए विवेकानन्द जी के नाम पर स्वामी विवेकानन्द युवा सशक्तिकरण योजना प्रारम्भ की गई है। सरकार का कहना है कि वह इस योजना के तहत पात्र युवाओं को स्मार्टफोन और टैबलेट वितरित करेगी। इस योजना का लाभ उठाने वाले युवाओं को सरकार की ओर से सैमसंग, लावा और एसर कंपनियों के टैबलेट और स्मार्टफोन दिए जाएंगे।

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना बजट

सरकार ने इस योजना के लिए 3600 करोड़ रुपये का बजट जारी किया है और मोबाइल निर्माता कंपनी के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं. इस योजना से 25 लाख से अधिक युवा लाभान्वित होंगे, जिसमें लड़के और लड़कियां दोनों शामिल होंगे।

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना का उद्देश्य

हमने आपको ऊपर बताया कि योजना के जरिए युवाओं को मुफ्त टैबलेट और स्मार्टफोन दिए जाएंगे। इस प्रकार आप समझ सकते हैं कि योजना का मुख्य उद्देश्य लाभार्थी युवाओं को मुफ्त टैबलेट और स्मार्टफोन वितरित करना है। क्योंकि आप जानते हैं कि आज के समय में स्मार्टफोन या इलेक्ट्रॉनिक गैजेट हर किसी के लिए काफी जरूरी हो गया है। क्योंकि अगर लोगों के पास स्मार्टफोन या इलेक्ट्रॉनिक गैजेट है तो वे घर बैठे कई सरकारी योजनाओं की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। ऐसे में लोग सरकारी योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ उठा सकेंगे, साथ ही अपने स्मार्टफोन या टैबलेट का उपयोग कर शिक्षा संबंधी किसी भी प्रकार की जानकारी ऑनलाइन प्राप्त कर सकेंगे। ऐसे में टैबलेट और स्मार्टफोन पढ़ाई में तेजी से उपयोगी होते जा रहे हैं।

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना लाभ एवं विशेषताएं क्या है

  • इस योजना के तहत छात्रों को डिजिटल योजना के तहत टैबलेट और स्मार्टफोन प्राप्त करने के लिए कहीं भी आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है।
  • जिस कॉलेज या स्कूल में छात्र पढ़ते हैं, उसका प्रबंधन अपने छात्रों का नामांकन डेटा उपलब्ध कराएगा, जिसे पोर्टल पर अपलोड किया जाएगा।
  • छात्रों का डेटा अपलोड होने के बाद उसका सत्यापन किया जाएगा और इसके बाद सत्यापन में पास होने वाले छात्र अपने टैबलेट या स्मार्टफोन की स्थिति ऑनलाइन जान सकेंगे।
  • यदि छात्र की जानकारी में किसी भी प्रकार की विसंगति या समस्या है तो छात्र इसकी जानकारी अपने कॉलेज के नोडल अधिकारी को दे सकता है।
  • योजना के तहत छात्रों को टैबलेट या स्मार्टफोन पाने के लिए ₹1 भी जमा करने की जरूरत नहीं है। स्मार्टफोन और टैबलेट मुफ्त बांटे जाएंगे.
  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश पर यह योजना उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिलों में शुरू की गई है.

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना पात्रता (Eligibility)

  • योजना का लाभ केवल उत्तर प्रदेश के मूल निवासी युवाओं को ही दिया जायेगा।
  • योजना से लड़के और लड़कियों दोनों को लाभ होगा।
  • योजना का लाभ लेने के लिए विद्यार्थी को स्नातक, स्नातकोत्तर, तकनीकी शिक्षा, स्वास्थ्य शिक्षा, कौशल विकास प्रशिक्षण एवं डिप्लोमा की पढ़ाई करना आवश्यक है।
  • आवेदक व्यक्ति के परिवार की वार्षिक आय ₹ 2,00,000 से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • जो छात्र पहले किसी स्मार्टफोन या टैबलेट वितरण योजना का लाभ ले चुके हैं, उन्हें इस योजना के लिए पात्र नहीं माना जाएगा।

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना दस्तावेज (Documents)

  • आधार कार्ड
  • शैक्षणिक योग्यता संबंधी दस्तावेज
  • आय प्रमाण पत्र
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना आधिकारिक वेबसाइट (Official Website)

इस लेख में हमने आपको यह जानकारी प्रदान की है कि विवेकानन्द युवा शक्तिकरण योजना क्या है और इस योजना के तहत आपको कैसे लाभ मिलेगा। अगर आप योजना के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं।

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना फॉर्म pdf (Form pdf)

अगर आप यह स्कीम लेना चाहते हैं. तो इसके लिए आपको बता दें कि इसके लिए किसी भी प्रकार का फॉर्म भरने की जरूरत नहीं है। अगर आप इसके लिए पात्र हैं तो आपको सरकार की ओर से ही इस योजना का लाभ मिलना शुरू हो जाएगा। क्योंकि इस योजना के लिए आवेदन करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

स्वामी विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना ऑनलाइन आवेदन (Online Apply)

सबसे अच्छी बात यह है कि यूपी विवेकानन्द युवा सशक्तिकरण योजना का लाभ पाने के लिए आपको कुछ भी करने की जरूरत नहीं है। न तो आपको ऑफलाइन आवेदन करना है और न ही ऑनलाइन आवेदन करना है, क्योंकि योजना के लिए पात्र छात्रों की सूची कॉलेज, संस्थान या विश्वविद्यालय या स्कूल विभाग द्वारा संबंधित विभाग को भेजी जाएगी और चयन होने के बाद एक संदेश भेजा जाएगा। विद्यार्थियों को भेजा गया। या ईमेल के माध्यम से या कॉलेज में नोटिस लगाकर जानकारी दी जाएगी कि उन्हें योजना का लाभ कब मिलेगा और एक तारीख तय करके उसी दिन योजना के तहत मुफ्त मोबाइल और टैबलेट भी वितरित किए जाएंगे।

स्वामी विवेकानंद युवा शक्तिकरण योजना में टेबलेट और स्मार्टफोन कब मिलेगा (Latest Update)

इस योजना के तहत जल्द ही 2023-24 के पहले चरण में नवंबर महीने से उच्च शिक्षा संस्थानों में पढ़ने वाले छात्रों को स्मार्टफोन उपलब्ध कराए जाएंगे। सरकार ने योजना का लाभ अगले 5 साल तक बढ़ाने का फैसला किया है.

स्वामी विवेकानंद युवा शक्तिकरण योजना हेल्पलाइन नंबर (Helpline Number)

आर्टिकल को पूरा पढ़ने के बाद आपको पता चल गया होगा कि विवेकानंद युवा सशक्तिकरण योजना के तहत छात्रों को कैसे लाभ मिलेगा और इस योजना का उद्देश्य क्या है। नीचे हमने आपको योजना का हेल्पलाइन नंबर भी दिया है। हेल्पलाइन नंबर पर कॉल करके आप अपनी समस्या का समाधान पा सकते हैं या योजना से संबंधित शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

9205706235

सरकारी योजनायें यहां क्लिक करें
अधिकारिक वेबसाइट यहां क्लिक करें

 अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ)

  • डिजिशक्ति योजना क्या है?

उत्तर: उत्तर प्रदेश के युवाओं को तकनीकी रूप से सशक्त बनाने के लिए, उत्तर प्रदेश सरकार ने डिजिशक्ति योजना शुरू की है, जिसके तहत उत्तर प्रदेश के विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों में शैक्षणिक सत्र 2021-22 में पढ़ने वाले छात्रों और सरकार द्वारा चुने गए किसी भी अन्य हितधारक को टैबलेट और स्मार्टफोन वितरित किए जाएंगे। इसके अतिरिक्त, इस योजना के तहत लाभार्थियों को उनके सशक्तिकरण के लिए डिवाइस के वितरण के साथ-साथ शैक्षिक व करियर संबंधी जानकारी भी प्रदान की जाएगी।

  • इस योजना के लिए कौन-कौन योग्य हैं?

उत्तर: स्नातक, स्नातकोत्तर, डिप्लोमा, कौशल विकास और उच्च शिक्षा, तकनीकी शिक्षा, तकनीकी शिक्षा (डिप्लोमा), आईटीआई, उत्तर प्रदेश के सरकारी या निजी विश्वविद्यालयों/कॉलेजों/संस्थानों से चिकित्सा शिक्षा के पाठ्यक्रमों के शैक्षणिक सत्र 2021-22 में अध्ययन करने वाले छात्र एवं अन्य हितधारक जो उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चुने गए हैं, इस योजना के लिए योग्य होंगे।

  • मैं शैक्षणिक सत्र 2021-22 में उत्तर प्रदेश में पढ़ रहा हूं, लेकिन मैं दूसरे राज्य से हूं। क्या मैं इस योजना के लिए पात्र हूँ?

उत्तर: हाँ, आप पात्र हैं। कोई भी छात्र जो शैक्षणिक सत्र 2021-22 में उत्तर प्रदेश में पढ़ रहा है, इस योजना के लिए पात्र हैं, चाहे उनका मूल राज्य या राष्ट्रीयता कुछ भी हो। अर्थात उक्त शैक्षणिक सत्र में उत्तर प्रदेश में पढ़ने वाले विभिन्न देशों के छात्र भी इस योजना के लिए पात्र हैं।

  • मैं उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूँ परंतु वर्तमान में दूसरे राज्य में पढ़ रहा हूँ। क्या मैं इस योजना के लिए पात्र हूँ?

उत्तर: नहीं, आप पात्र नहीं हैं। यह योजना केवल शैक्षणिक वर्ष 2021-22 में उत्तर प्रदेश में पढ़ने वाले छात्रों के लिए है।

  • क्या छात्रों को लाभ पाने के लिए इस या किसी पोर्टल पर पंजीकरण करना होगा?

उत्तर: योजना का लाभ उठाने के लिए छात्रों को किसी पोर्टल पर पंजीकरण या आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है। उन्हें उनके संबंधित कॉलेज/संस्थान/विश्वविद्यालय परिसर द्वारा एसएमएस/ईमेल/नोटिस/आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से स्थिति के बारे में सूचित किया जाएगा।

  • इस पोर्टल का उपयोग कौन-कौन कर सकता है और वे खुद को कैसे पंजीकृत कर सकते हैं?

उत्तर: विश्वविद्यालय/बोर्ड/सोसाइटी/परिषद, कॉलेज/संस्थान, जिला प्रशासन स्तर पर नोडल अधिकारी, यूपीडेस्को और समय-समय पर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा अधिकृत अन्य निकाय इस पोर्टल का उपयोग कर सकते हैं एवं उपयोगकर्ताओं को पोर्टल पर खुद को पंजीकृत कराने की आवश्यकता नहीं है। सॉफ्टवेयर के अधिकृत उपयोगकर्ताओं द्वारा लॉगिन बनाया जाएगा जिसके पश्चात संबंधित उपयोगकर्ताओं को उनके लॉगिन विवरण उनके पंजीकृत मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी पर भेजे जाएंगे।

हालांकि, शैक्षिक व करियर संबंधी जानकारी बिना किसी लॉगिन या पंजीकरण के पोर्टल पर उपलब्ध रहेगी।

  • पोर्टल पर छात्रों का डेटा जमा करने की प्रक्रिया क्या है?

उत्तर: छात्रों का डाटा जमा करने के लिए पोर्टल पर छात्रों को कोई पंजीकरण नहीं करना है। डेटा संस्थान द्वारा अपने विश्वविद्यालयों के माध्यम से प्रदान किया जाना है। इसके लिए एक तकनीकी प्रक्रिया तैयार की गयी है। सभी विश्वविद्यालयों/कॉलेजों/संस्थानों और अन्य शैक्षिक निकायों को ईमेल/अधिसूचना/नोटिस/आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से प्रक्रिया के बारे में सूचित किया जाएगा।

  • क्या छात्रों को टैबलेट/स्मार्टफोन प्राप्त करने के लिए कोई शुल्क देना होगा?

उत्तर: लाभ प्राप्त करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा ।

  • डिवाइस के वितरण की समय सारिणी या योजना से संबंधित कोई अन्य जानकारी जानने के लिए छात्रों को कहाँ संपर्क करना चाहिए?

उत्तर: छात्रों को सलाह है कि वे खुद को सूचित रखने के लिए डिजिशक्ति के आधिकारिक पोर्टल और अपने कॉलेज/संस्थान/विश्वविद्यालय की आधिकारिक वेबसाइट को नियमित रूप से देखते रहें। छात्र, अधिक जानकारी के लिए अपने संबंधित कॉलेज/संस्थान/विश्वविद्यालय परिसर से भी संपर्क कर सकते हैं।

  • इस योजना के लिए मेरा डाटा मेरे संस्थान/विश्वविद्यालय द्वारा भेजा गया है। मुझे अपनी डिवाइस की अपेक्षा कब तक करनी चाहिए?

उत्तर: अब तक (28 दिसंबर, 2021, शाम 5 बजे) विभिन्न संस्थानों/विश्वविद्यालयों द्वारा 37,08,713 छात्रों का डाटा पोर्टल पर अपलोड किया जा चुका है और हितधारकों द्वारा इस डेटा को निरंतर अपलोड भी किया जा रहा है। पहले चरण में यथा मार्च 2022 तक, सभी पाठ्यक्रमों के अंतिम वर्ष के छात्रों और 1 वर्ष अथवा उससे कम अवधि वाले पाठ्यक्रमों के छात्रों को उपकरणों का वितरण किया जाएगा। इसके बाद अन्य छात्रों को वितरण अगले चरण में पूर्ण किया जाएगा।

  • इस योजना के तहत प्रदान किए गए उपकरणों की विशिष्टता क्या होगी?

उत्तर: इस योजना के लिए वर्तमान में तीन ओईएम (सैमसंग, एसर और लावा) डिवाइसों की आपूर्ति कर रहे हैं। उनकी संबंधित विशिष्टताएं इस प्रकार हैं:

    • सैमसंग स्मार्टफोन:
      मॉडल: A03/A03s
      विशिष्टता: रैम 3 जीबी, रोम 32 जीबी, ऑक्टा कोर प्रोसेसर, 8 मेगापिक्सल बैक कैमरा, 5 मेगापिक्सल फ्रंट कैमरा, 5000 एमएएच बैटरी, 1 टीबी तक स्टोरेज बढ़ाने की क्षमता
    •  लावा स्मार्टफोन:
      मॉडल: LE000Z93P (Z3)
      विशिष्टता: रैम 3 जीबी, रोम 32 जीबी, क्वाड कोर प्रोसेसर अथवा उससे अधिक, 8 मेगापिक्सल बैक कैमरा, 5 मेगापिक्सल फ्रंट कैमरा, 5000 एमएएच बैटरी, 16 जीबी या उससे अधिक स्टोरेज बढ़ाने की क्षमता
    •  सैमसंग टैबलेट:
      मॉडल: A7 Lite LTE-T225
      विशिष्टता: रैम 3 जीबी, रोम 32 जीबी, ऑक्टा कोर प्रोसेसर, 8 मेगापिक्सल बैक कैमरा, 2 मेगापिक्सल फ्रंट कैमरा, 5100 एमएएच बैटरी
    •  लावा टैबलेट:
      मॉडल: T81n
      विशिष्टता: रैम 2 जीबी, रोम 32 जीबी, क्वाड कोर प्रोसेसर, 8 मेगापिक्सल बैक कैमरा, 5 मेगापिक्सल फ्रंट कैमरा, 5100 एमएएच बैटरी
    •  एसर टैबलेट:
      मॉडल: Acer One 8 T4-82L
      विशिष्टता: रैम 2 जीबी, रोम 32 जीबी, क्वाड कोर प्रोसेसर, 8 मेगापिक्सल बैक कैमरा, 2 मेगापिक्सल फ्रंट कैमरा, 5100 एमएएच बैटरी
  • आप मेरी डिवाइस से क्या जानकारी प्राप्त करते हैं?

उत्तर: हम आपकी डिवाइस से कोई व्यक्तिगत जानकारी प्राप्त नहीं करते हैं। आपकी डिवाइस के IMEI नंबर को आपके संस्थान इनरोलमेंट नंबर के साथ मैप किया गया है, जिसका उपयोग आपको DigiShakti Adhyayan App के माध्यम से शैक्षिक व करियर संबंधी जानकारी प्रदान करने के लिए किया जाएगा।

  • क्या आप मेरी ब्राउज़र हिस्ट्री देख सकते हैं?

उत्तर: नहीं, हम आपकी ब्राउज़र हिस्ट्री को ट्रैक नहीं करते हैं। निम्नलिखित व्यक्तिगत जानकारियों को स्पष्ट रूप से ट्रैक नहीं किया जाता है:

    • कॉल व वेब ब्राउज़िंग हिस्ट्री
    • ईमेल एवं एसएमएस/टेक्स्ट मैसेज
    • संपर्क विवरण
    • कैलेंडर
    • पासवर्ड
    • तस्वीरें, साथ ही वो सामग्री भी जो फोटो ऐप एवं कैमरा रोल में मौजूद हैं
    • फाईल्स एवं फोन नंबर
    • ऐप एवं आपकी व्यक्तिगत प्रोफाइल का डेटा
  • यदि आप किसी व्यक्तिगत जानकारी को ट्रैक नहीं करते हैं, तो आपको एमडीएम की आवश्यकता क्यों है?

उत्तर: डिवाइस के एंटरप्राइज़ परिनियोजन के लिए एमडीएम का प्रयोग किया गया है। यह सुनिश्चित करता है कि डिवाइस में एंटरप्राइज़ ग्रेड सुरक्षा सुविधाएँ उपलब्ध हैं एवं साथ ही यह डिवाइस को डेटा हानि, धोखाधड़ी से रोकता है और मैलवेयर को रोकता है। यदि डिवाइस चोरी हो जाती है तथा उपयोगकर्ता डिवाइस के चोरी की रिपोर्ट करता है तो एडमिन द्वारा रिमोट के माध्यम से डिवाइस को लॉक किया जा सकता है। एमडीएम, शैक्षिक सामग्री और करियर से संबंधित सामग्री को सीधे डिवाइस तक पहुंचाने में मदद करता है, जो उपयोगकर्ता को नवीनतम सरकारी नीतियों से अपडेट रहने में मदद करता है।

  • मैं कैसे सुनिश्चित करूं कि मेरा डेटा सुरक्षित है?

उत्तर: कृपया नीचे दिए गए अपने संबंधित ओईएम के लिंक पर क्लिक करें तथा अपलोड की गई फाइल में प्रदान की गई प्रक्रिया का पालन करें। इससे आप यह जांच सकते हैं कि आपका डेटा कैसे संरक्षित किया जाता है एवं कौनसी डेटा नीतियां डिवाइस में लागू होती हैं।

Swami Vivekananda Yuva Sashaktikaran Yojana में युवाओं को 10 लाख टैबलेट और 25 लाख स्मार्टफोन दिये जायें, ऐसे करे आवेदन?

(देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले पढ़ें Talkaaj (बात आज की) पर , आप हमें FacebookTwitterInstagramKoo और  Youtube पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

Posted by TalkAaj.com

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Google News Follow Me
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
Print
TalkAaj

TalkAaj

Talkaaj.com is a valuable resource for Hindi-speaking audiences who are looking for accurate and up-to-date news and information.

Leave a Comment

Top Stories