Homeअन्य ख़बरेंकारोबारइस देश की Currency की कीमत डॉलर से कई गुना ज्यादा, ट्रक...

इस देश की Currency की कीमत डॉलर से कई गुना ज्यादा, ट्रक ड्राइवर को मिलती है 70 लाख रुपए सैलरी!

इस देश की Currency की कीमत डॉलर से कई गुना ज्यादा, ट्रक ड्राइवर को मिलती है 70 लाख रुपए सैलरी!

कुवैत की Currency वैल्यू के मामले में सबसे मजबूत मानी जाती है। कुवैत में दीनार प्रचलन में है। अगर इसकी तुलना भारतीय करेंसी से की जाए तो एक कुवैती दीनार की कीमत भारत में 253 रुपये के बराबर होती है।

बढ़ती महंगाई आम लोगों के लिए चिंता का विषय है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में भी रुपये के मुकाबले डॉलर का दबदबा है। भारत में सबसे बड़ी मुद्रा 2000 रुपये है। ऐसे में आइए जानते हैं किस देश की करेंसी वैल्यू मजबूत है।

कुवैत की Currency सबसे स्ट्रॉन्ग

कुवैत की करेंसी वैल्यू के मामले में सबसे मजबूत मानी जाती है। कुवैत में दीनार प्रचलन में है। अगर इसकी तुलना भारतीय करेंसी से की जाए तो एक कुवैती दीनार की कीमत भारत में 253 रुपये के बराबर होती है। वहीं, डॉलर की तुलना में एक कुवैती दीनार 3.29 के बराबर है। यानी यह अमेरिकी डॉलर के मूल्य से 3 गुना ज्यादा है। इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि यह दीनार कितना महंगा है।

यह भी पढ़िए| इस देश में छपते थे भगवान राम (Ram) की तस्वीर वाले नोट, इतनी थी 1 मुद्रा की कीमत

कुवैत की मुद्रा इतनी महंगी क्यों है?

कुवैत एक छोटा सा देश है, जो भौगोलिक रूप से इराक और सऊदी अरब के बीच स्थित है। कुवैत की मुद्रा के अधिक शक्तिशाली और अधिक मूल्य के पीछे कई कारण हैं। दरअसल, कुवैत के पास दुनिया में तेल का बहुत बड़ा भंडार है और माना जाता है कि उसके पास 9 फीसदी तेल भंडार है। कुवैती दीनार पहली बार 1960 में लॉन्च किया गया था, जब इसे ब्रिटिश साम्राज्य से स्वतंत्रता मिली थी, और उस समय यह एक पाउंड के बराबर था।

कुवैत की अर्थव्यवस्था की मजबूती के कारण

कुवैत तेल निर्यात पर बहुत अधिक निर्भर है जो देश के राजस्व का लगभग 95% योगदान देता है। कुवैत की स्थिर अर्थव्यवस्था भी मुद्रा के उच्च मूल्य के कारणों में से एक है। इसके अलावा, यह एक तेल समृद्ध देश है, जिसके क्षेत्र में 9% वैश्विक तेल भंडार स्थित है। कुवैत प्रति व्यक्ति उच्च जीडीपी वाले देशों की सूची में आठवें स्थान पर है। पर्याप्त तेल उत्पादन ने कुवैत के धन को बढ़ाने और कुवैती दीनार के मूल्य का समर्थन करने में मदद की है, एक प्रमुख कारण है कि मुद्रा का मूल्य अधिक है।

यह भी पढ़िए | Ajab-Gazab: इतिहास के सबसे अमीर आदमी की कहानी, जिसकी दौलत का आज तक आंकलन नहीं किया गया

यह भी पढ़िए| Sunroof Cars: कम दाम में सनरूफ वालीं ये 5 कारें आपको आएंगी पसंद, देखें कीमत और फीचर्स

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए –

TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Whatsapp से जुड़े
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Telegram से जुड़े
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Instagram से जुड़े
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Youtube से जुड़े
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप को Twitter पर फॉलो करें
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Facebook से जुड़े
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप को Google News पर फॉलो करें



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments