Search
Close this search box.

OTT पर बदलाव का क्या होगा असर? 5 आसान बिंदुओं को समझें

OTT
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
Reddit
LinkedIn
Threads
Tumblr
Rate this post

OTT पर बदलाव का क्या होगा असर? 5 आसान बिंदुओं को समझें

भारत सरकार (Indian Government)  ने OTT प्लेटफॉर्म के लिए नए आईटी अधिनियम (IT Act) के तहत नए नियामक नियम (Regulation rules) जारी किए हैं। इसका निश्चित रूप से मीडिया (Media) पर प्रभाव पड़ेगा।

New Social Media Guidelines : भारत सरकार ने OTT के लिए आईटी अधिनियम (IT Act) के तहत नए नियामक नियम (Regulation Rules) जारी किए हैं, अर्थात् शीर्ष मीडिया सेवाओं पर। देश में पिछले कुछ वर्षों से आपत्तियां उठ रही थीं कि जिस तरह से ओटीटी कंटेंट (OTT Content) शुरू हो रहा है, उससे लगता है कि जल्द ही ऐसा कुछ होगा। केंद्रीय मंत्रियों रविशंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) और प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने नई दिल्ली में राष्ट्रीय मीडिया केंद्र में इसके बारे में जानकारी दी। आइए जानते हैं कि इन नए नियामकों में क्या बदलाव आए हैं।

ये भी पढ़े:- Facebook-Twitter से लेकर Netflix-Amazon Whatsapp तक, सभी के लिए नियम सख्त हो गए हैं, 24 घंटे में हटानी होगी आपत्तिजनक पोस्ट

1.स्ट्रीमिंग और समाचार मीडिया पर नजर रखी जाएगी

सरकार ने ओटीटी (OTT) और सोशल मीडिया को अलग रखा है। इसके साथ, स्ट्रीमिंग सेवाओं और डिजिटल समाचार मीडिया को आईटी अधिनियम के दायरे में शामिल किया गया है। नए नियामकों में सरकारी अधिकारियों की निगरानी शामिल है। इसके प्रभाव को मीडिया की स्वतंत्रता को सीमित करने के रूप में भी माना जा सकता है। इसके साथ ही, मॉनिटरिंग बॉडी को एक तरह का सेंसर माना जा सकता है। इससे ओटीटी (OTT) की सामग्री पर भी प्रभाव पड़ेगा।

2.आपत्तिजनक सामग्री को हटाने की समय सीमा

अब सबसे बड़ा बदलाव यह है कि अब नेटफ्लिक्स जैसी ओटीटी (OTT) कंपनियों को अधिकारियों द्वारा आपत्ति जताने पर 36 घंटे के भीतर सामग्री को हटाना होगा। इसमें सामग्री अदालत या सरकार के लिए आपत्तिजनक हो सकती है। यही नहीं, अश्लील सामग्री का समय 34 घंटे है। अब तक जो प्लेटफ़ॉर्म अपनी सामग्री के बारे में अपने नियम बना रहे थे, अब उनके लिए नियम सख्त हो गए हैं। इसी समय, सरकार के ट्वीट और पोस्ट को अधिक बारीकी से देखा जाएगा।

ये भी पढ़े:- आप आसानी से पोस्ट ऑफिस (Post Office) खोल सकते हैं! अब फ्रेंचाइजी लेकर मोटी कमाई करें

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now
Google News Follow Me

3.सोशल मीडिया पर भी जानकारी साझा करनी होगी

अब सोशल मीडिया (Social Media) को 72 घंटों के भीतर जांच अधिकारियों के साथ अपनी जानकारी साझा करनी होगी। इसका प्रभाव यह होगा कि अब तक जो प्लेटफ़ॉर्म जानकारी साझा करने के बारे में अपने फैसले ले रहे थे, वे अब नए नियमों के दायरे में आएंगे और उन्हें जानकारी साझा करनी होगी। इसे एक बड़े कदम के रूप में देखा जा रहा है। भारत में पहली बार, एक पानी के नीचे बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया गया था।

4.अब कंपनियों के पास ये अनुपालन अधिकारी होंगे

कंपनियों को अब एक मुख्य अनुपालन अधिकारी नियुक्त करना होगा जो कानून के कार्यान्वयन के समन्वय के लिए एक कार्यकारी के रूप में कार्य करेगा। इसके साथ ही एक शिकायत निवारण अधिकारी भी नियुक्त करना होगा। उन्हें भारतीय नागरिक होना आवश्यक है और स्थानीय स्तर पर नियुक्त करना होगा। इसका असर यह होगा कि सरकार अब स्थानीय स्तर पर इन मामलों का सीधे निपटारा कर सकती है। यह उसी तरह है जैसे विदेशी कंपनियों के भारत में स्थानीय कार्यालय हैं जो देश में व्यापार करते हैं।

ये भी पढ़े:- RBI ने बैंकों के नाम पर फर्जी कॉल और संदेशों पर चिंता व्यक्त की, शेयर किए ये सेफ्टी टिप्स

5. पहले प्रोड्यूसर की जानकारी रखनी होगी

कानून और व्यवस्था की स्थिति में, सरकार के इशारे पर इन प्लेटफार्मों को एक विषय बनाने के लिए सरकार को पहले निर्माता की जानकारी देनी होगी। यह सीधे व्हाट्सएप ( WhatsApp ), टेलीग्राम ( Telegram ), सिग्नल ( Signal ) जैसी सेवाओं को प्रभावित करेगा। इससे एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन कमजोर हो जाएगा।

इन नियमों से यह स्पष्ट है कि सरकार ऐसी व्यवस्था चाहती है कि वह आपत्तिजनक सामग्री को छोड़ने से रोक सके, इसके अलावा, यदि किसी चल रही सामग्री पर कोई आपत्ति है, तो उसे हटाना आसान हो। सरकार की मंशा चाहे कितनी भी स्पष्ट क्यों न हो, एक बार फिर निजता बनाम सरकारी हस्तक्षेप जैसी बहसें देखी जा सकती हैं।

ये भी पढ़े:- चेतावनी! लीक हुए इन Popular Apps के 300 मिलियन यूजर्स का पासवर्ड, लिस्‍ट में आपका नाम भी तो नहीं

Talkaaj: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें Talkaaj ऐप

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए Talkaaj फेसबुक पेज लाइक करें

लेटेस्ट न्यूज़ से अपडेट रहने के लिए Talkaaj टेलीग्राम पेज लाइक करें

Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
LinkedIn
Reddit
Picture of TalkAaj

TalkAaj

Hello, My Name is PPSINGH. I am a Resident of Jaipur and Through This News Website I try to Provide you every Update of Business News, government schemes News, Bollywood News, Education News, jobs News, sports News and Politics News from the Country and the World. You are requested to keep your love on us ❤️

Leave a Comment

Top Stories