Home देश शादी हो गई है तो सरकार देगी 5 लाख, जल्दी करे यहाँ आवेदन | Inter Caste Marriage Yojana Jankari In Hindi

शादी हो गई है तो सरकार देगी 5 लाख, जल्दी करे यहाँ आवेदन | Inter Caste Marriage Yojana Jankari In Hindi

Intercaste Marriage Yojana 2023 | दलित और स्वर्ण जातियों के बीच भेदभाव को खत्म करने के लिए केंद्र और राज्य सरकार लगातार काम कर रही हैं और योजना चला रही हैं. अंतरजातीय विवाह योजना (Inter-caste marriage scheme ) के तहत वे लोग लाभ उठा सकते हैं जो Inter caste Marriage करते हैं। यहां जानिए इसके लिए आवश्यक दस्तावेज और पात्रता के साथ शर्तें।

by TalkAaj
A+A-
Reset
Inter Caste Marriage Yojana Me Apply Kaise Kare
5/5 - (1 vote)

Inter Caste Marriage Yojana Jankari In Hindi | शादी हो गई है तो सरकार देगी 5 लाख, जल्दी करे यहाँ आवेदन

Inter-caste marriage scheme 2023:  केंद्र और राज्य सरकार दोनों अंतरजातीय विवाह (Inter caste Marriage) को बढ़ावा देने और 2 जातियों के बीच भेदभाव को खत्म करने के लिए एक योजना चला रही है। इसके तहत स्वर्ण जाति के लोग दलित से शादी करने पर सरकारी योजना का लाभ उठा सकते हैं।

आज की बड़ी खबरें देखे

इसके लिए केंद्र सरकार पहली बार शादी करने वाले लोगों को लाखों रुपये दे रही है. वहीं उत्तर प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा, महाराष्ट्र के अलावा कई राज्य सरकारें Inter Caste marriage Yojana चला रही हैं। यहां जानें अंतरजातीय विवाह योजना (Inter caste Marriage Yojana) के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया और जरूरी दस्तावेजों के अलावा सभी जानकारियां।

READ ALSO | Pradhan Mantri Awas Yojana Online आवेदन शुरू हुए, ऐसे करे आवेदन

अंतरजातीय विवाह योजना के लाभ- Benefits of Intercaste Marriage Scheme

डॉ. अंबेडकर फाउंडेशन के तहत अंतरजातीय विवाह योजना (Inter caste Marriage Yojana) का लाभ उठा सकते हैं। इसके मुताबिक, दलित से शादी करने पर स्वर्ण जाति की ओर से केंद्र सरकार 2.5 लाख रुपये देती है. पहली बार यह योजना 2013 में शुरू की गई थी। इसके अलावा, हरियाणा सरकार 2.5 लाख रुपये की वित्तीय सहायता भी प्रदान करती है। महाराष्ट्र और यूपी सरकार इस योजना के तहत 50000 रुपये और 2.5 लाख रुपये देती है। राजस्थान सरकार भी इस योजना के तहत 5 लाख रुपये देती है. हाल ही में इस रकम में बढ़ोतरी की गई है.

READ ALSO | Amul, Post office या Aadhar की फ्रेंचाइजी (Franchise) लेकर अपना कारोबार शुरू करें हर महीने लाखों की कमाई, तरीका जानिए

अंतरजातीय विवाह योजना के लिए पात्रता एवं शर्तें- Eligibility and Conditions for Intercaste Marriage Yojana

अंतरजातीय विवाह योजना का लाभ केवल वही लोग उठा सकते हैं जिन्होंने हाल ही में दलित समुदाय में शादी की हो। इसके लिए हिंदू विवाह अधिनियम 1955 के अनुसार विवाह का पंजीकरण कराना आवश्यक है। पहली बार विवाह करने पर इसका लाभ केवल एक बार ही उठाया जा सकता है। जिन लोगों ने इस योजना के तहत राज्य या केंद्र से एक लाभ लिया है, उनके खाते से एक लाभ राशि काट ली जाएगी।

इन दस्‍तावेजों की पड़ेगी जरूरत

  • हिंदू विवाह अधिनियम 1955 के तहत विवाह का पंजीकरण कराने के बाद जारी किया गया विवाह प्रमाण पत्र होना आवश्यक है।
  • आवेदन के साथ दलित समुदाय के दंपत्ति का जाति प्रमाण पत्र संलग्न करना अनिवार्य है।
  • ऐसा दस्तावेज भी संलग्न करना होगा, जिससे यह पता चल सके कि यह कपल की पहली शादी है।
  • आवेदन के साथ कानूनी तौर पर शादीशुदा होने का शपथ पत्र जरूरी है।
  • आय प्रमाण पत्र और संयुक्त बैंक खाते का विवरण देना आवश्यक है।

READ ALSO | ई-श्रम कार्ड योजना में ऐसे करें रजिस्ट्रेशन, हर महीने 3000 मिलेगे!

अंतरजातीय विवाह योजना के लिए आवेदन कैसे करें- How to apply for Intercaste Marriage Yojana

केंद्र सरकार द्वारा जारी अंतरजातीय विवाह योजना (Intercaste Marriage Scheme) का लाभ लेने के लिए शादी के एक साल के भीतर आवेदन करना जरूरी है। ऑफलाइन आवेदन करने के लिए फॉर्म भरकर डॉ. अंबेडकर फाउंडेशन को भेजें। इसके अलावा ऑनलाइन अंतरजातीय विवाह योजना के लिए आवेदन करने के लिए वेबसाइट http://ambedkarfoundation.nic.in/ पर जाएं। राजस्थान सरकार की इस योजना के लिए www.sje.rajasthan.gov.in पर जाएं। इसी तरह आप अलग-अलग राज्यों की वेबसाइट पर जाकर भी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं.

कई राज्‍य सरकारें भी चला रही हैं स्‍कीम

आपको बता दें कि अंतरजातीय विवाह (Intercaste Marriage) को बढ़ावा देने के लिए यह योजना केंद्र सरकार ही नहीं बल्कि राज्य सरकारें भी चला रही हैं। हरियाणा सरकार की ओर से हरियाणा अंतर्जातीय विवाह योजना (Intercaste Marriage Yojana) के तहत एक लाख रुपये की आर्थिक सहायता। उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र सरकार की ओर से इस योजना के तहत Intercaste Marriage करने वाले जोड़े को 50000 रुपये और डॉ भीमराव अम्बेडकर कोष के तहत 2.5 लाख रुपये की राशि दी जाती है। वहीं इस योजना के तहत राजस्थान सरकार द्वारा 5 लाख रुपये की सहायता प्रदान की जाती है, जिसमें से 3 लाख 75 हजार रुपये राज्य सरकार द्वारा और 1 लाख 25 हजार रुपये केंद्र सरकार द्वारा प्रदान किया जाता है।

और पढ़िए – बिज़नेस से जुड़ी अन्य बड़ी ख़बरें यहां पढ़ें

Screenshot 5NO: 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट Talkaaj.com (बात आज की)
देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले पढ़ें Talkaaj (बात आज की) पर फॉलो करें Talkaaj News को FacebookTelegramTwitterInstagramKoo.
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Google News Follow Me

You may also like

Leave a Comment

Hindi News:Talkaaj पर पढ़ें हिन्दी न्यूज़ देश और दुनिया से, जाने व्यापार, सरकरी योजनायें, बॉलीवुड, शिक्षा, जॉब, खेल और राजनीति के हर अपडेट. Read all Hindi … Contact us: [email protected]

Edtior's Picks

Latest Articles

All Right Reserved. Designed and Developed by Talkaaj

Talkaaj.com पर पढ़ें हिन्दी न्यूज़ देश और दुनिया से, जाने व्यापार, सरकरी योजनायें, बॉलीवुड, शिक्षा, जॉब, खेल और राजनीति के हर अपडेट. Read all Hindi