Homeअन्य ख़बरेंशिक्षा12 के बाद क्या करे Arts वाले- 12th के बाद बेस्ट कोर्स...

12 के बाद क्या करे Arts वाले- 12th के बाद बेस्ट कोर्स | Best Course After 12th

12 के बाद क्या करे Arts वाले- 12th के बाद बेस्ट कोर्स | Best Course After 12th

12 ke baad kya kre – 12वीं के बाद अक्सर स्टूडेंट्स के मन में यह सवाल घूमता रहता है कि 12th ke baad kya kren। अगर आपके मन में यह शंका है कि 12वीं Arts के बाद कौन सा कोर्स करना चाहिए। 12वीं आर्ट्स के बाद सबसे अच्छा कोर्स कौन सा है, यानी 12वीं आर्ट्स के बाद कौन से बेहतरीन कोर्स हैं, जो आपको करने चाहिए। आजकल हर छात्र कोर्स के तुरंत बाद नौकरी पाना चाहता है। लेकिन अब बात आती है कि कौन से जॉब ओरिएंटेड कोर्स हैं। जो वर्तमान समय में काफी लोकप्रिय है, और उनके पास नौकरी की बहुत ही आकर्षक संभावनाएं भी हैं। Best course after 12th arts stream.

Table of Contents

12 के बाद क्या करे आर्ट्स स्ट्रीम वाले (12 ke baad kya kre arts stream wale)

इस पोस्ट में हम आपको 12वीं Arts के बाद टॉप 10 कोर्सेज (Top 10 Course after 12th) के बारे में बताएंगे। ये कोर्स बहुत लोकप्रिय हैं। अगर आप ये कोर्स किसी अच्छे कॉलेज और मेहनत से करते हैं तो आपको आसानी से नौकरी मिल जाएगी।

12वीं आर्ट्स स्ट्रीम के बाद टॉप कोर्स (Top Course after 12th arts stream)

बैचलर इन मास कम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म (Bachelor in Mass Communication and Journalism)

यह कोर्स 3 साल की अवधि का है। इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप मीडिया में करियर बना सकते हैं। जैसे अखबारों और पत्रिकाओं में पत्रकार, टीवी पत्रकार, टीवी एंकर, जनसंपर्क अधिकारी, कंटेंट राइटर, फिल्म निर्देशक, न्यूज चैनल में कैमरामैन, न्यूज चैनल में कंटेंट राइटर, फिल्म स्क्रिप्ट राइटर, फिल्म वीडियो एडिटर, न्यूज चैनल में वीडियो एडिटर हैं। कंटेंट राइटर, इवेंट मैनेजर आदि के क्षेत्र में ऑनलाइन वेब पोर्टल में नौकरी के भरपूर अवसर। अधिक जानकारी के लिए आगे पढ़ें-

यह भी पढ़िए | Education : 12वीं के बाद ये हैं करियर के बेहतरीन विकल्प, ग्रोथ के मौके के साथ सैलरी भी अच्छी 

बैचलर इन फैशन डिजाइनिंग (Bachelor in Fashion Designing)

फैशन डिजाइनिंग इन दिनों युवाओं में काफी लोकप्रिय है। क्योंकि जिस तरह से लोग नए ट्रेंड और फैशन के कपड़े और एक्सेसरीज पहनना पसंद करते हैं, उसी तरह इस सेक्टर में भी करियर की संभावनाएं बढ़ रही हैं। फैशन डिजाइनिंग का कोर्स पूरा करने के बाद आप लाइफस्टाइल एक्सेसरीज और कपड़ों के निर्माण में अपना करियर चुन सकते हैं। यहां आप एक्सपोर्ट हाउस, गारमेंट स्टोर, ज्वैलरी हाउस, टेक्सटाइल मिल, बुटीक फैशन डिजाइनर, पैटर्न मेकर, फैशन कोऑर्डिनेटर, गारमेंट स्टोर चेन, फैशन स्टाइलिश, फैशन मर्चेंडाइजिंग, फैशन कोरियोग्राफर आदि के रूप में करियर बना सकते हैं। फैशन डिजाइनिंग कोर्स के बारे में अधिक जानकारी के लिए और करियर, आगे पढ़ें-

बैचलर इन एनीमेशन (Bachelor in Animation)

एनिमेशन आज के समय में काफी लोकप्रिय कोर्स है। इसका कारण यह है कि वर्तमान में मनोरंजन उद्योग में इसका अधिक उपयोग किया जाता है। एक समय था जब एनिमेशन का इस्तेमाल सिर्फ हॉलीवुड फिल्मों में ही किया जाता था। तब सीमित अवसर थे। लेकिन अब एनिमेशन का इस्तेमाल बॉलीवुड फिल्मों, ऐड फिल्मों में भी किया जाता है। इसके अलावा कार्टून फिल्मों ने धूम मचा रखी है। एनिमेशन के क्षेत्र में आपके पास फिल्म प्रोडक्शन हाउस, टीवी न्यूज चैनल, डिजिटल फिल्म मेकिंग आदि में करियर के अपार अवसर हैं। इस क्षेत्र में आने के लिए रचनात्मकता और कल्पनाशीलता का होना बहुत जरूरी है। अधिक जानकारी के लिए और पढ़ें-

यह भी पढ़िए | Facebook Se Paise Kaise Kamaye | How To Earn Money From Facebook

बैचलर ऑफ परफॉर्मिंग आर्ट्स (Bachelor of Performing Arts)

वर्तमान समय में परफॉर्मिंग आर्ट्स भी एक बहुत अच्छा करियर विकल्प है। इस कोर्स को पूरा करने के बाद फिल्म उद्योग में कोरियोग्राफर, डांसर, अभिनेता, थिएटर कलाकार, फिल्म अभिनेता, टीवी धारावाहिक अभिनेता, एंकरिंग और संगीत के रूप में करियर के अवसर हैं। परफॉर्मिंग आर्ट्स आज के युवाओं का पसंदीदा कोर्स है। परफॉर्मिंग आर्ट्स कोर्स और करियर के बारे में अधिक जानने के लिए पढ़ें

बैचलर ऑफ होटल मैनेजमेंट (Bachelor of Hotel Management)

यदि आप में सेवा सत्कार की भावना है तो आप इस क्षेत्र में कदम रख सकते हैं। इस क्षेत्र में भी करियर की काफी संभावनाएं हैं। इस कोर्स के माध्यम से आपको होटल मैनेजर, होटल मैनेजर ऑपरेशंस के निदेशक, होटल फ्लोर सुपरवाइजर आदि के रूप में काम करने का अवसर मिल सकता है। इस उद्योग में बहुत ही आकर्षक वेतन मिलता है। आगे पढ़ें..

बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लिकेशन (Bachelor of Computer Application)

जिन छात्रों की 12वीं के बाद कंप्यूटर साइंस में रुचि है तो ऐसे छात्रों के लिए BCA यानी बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन कोर्स बहुत अच्छा विकल्प है। यह 3 साल का कोर्स है। इस कोर्स के बाद आप कंप्यूटर साइंस में महारत हासिल करने के बाद सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग, सॉफ्टवेयर डेवलपर, गेम डिजाइनर, सॉफ्टवेयर प्रोग्रामर आदि के तौर पर काम कर सकते हैं। देश के साथ-साथ विदेशों में भी कंप्यूटर साइंस में रोजगार के भरपूर अवसर हैं। आगे पढ़ें…

बैचलर इन इवेंट मैनेजमेंट (Bachelor in Event Management)

इवेंट मैनेजमेंट आज के समय में एक बहुत ही लोकप्रिय करियर विकल्प है। इस कोर्स के जरिए आप कोई बड़ा फंक्शन आयोजित कर सकते हैं। एक इवेंट मैनेजर के रूप में, शाही शादी समारोह, टीवी शो समारोह, कॉर्पोरेट सेमिनार, फिल्म पुरस्कार, फैशन शो, संगीत लॉन्च आदि जैसे बड़े कार्यों के आयोजन की जिम्मेदारी होती है। पिछले कुछ वर्षों में, इसमें करियर के अधिक अवसर बढ़े हैं, अधिक पढ़ें…।

यह भी पढ़िए | Mass Communication Course kya hai | मास कम्युनिकेशन कोर्स क्या है | What is mass communication course

बैचलर इन इंटीरियर डिजाइनिंग (Bachelor in Interior Designing)

इंटीरियर डिजाइनिंग उन छात्रों के लिए एक अच्छा कोर्स है जिनके पास बेहतर रचनात्मक दिमाग और बेहतर डिजाइनिंग कौशल है। इंटीरियर डिजाइनर का काम घर, ऑफिस, सामान आदि को आकर्षक लुक देना होता है। इंटीरियर डिजाइनिंग कोर्स के बाद आप फिल्मों और टीवी सीरियल्स में सेट डिजाइनर के तौर पर भी काम कर सकते हैं। इस समय इस क्षेत्र में रोजगार की अपार संभावनाएं हैं। आगे पढ़ें…

बैचलर इन फाइन आर्ट्स (Bachelor in Fine Arts)

आर्ट्स स्ट्रीम के छात्रों के लिए फाइन आर्ट एक बहुत अच्छा कोर्स है। ललित कला पाठ्यक्रम के माध्यम से आपको कई क्षेत्रों में नौकरी के अवसर मिलते हैं। इस कोर्स के जरिए आप एनिमेशन, इलस्ट्रेटर, फिल्म सेट डिजाइनर, आर्ट प्रोफेशनल, आर्ट डायरेक्टर आदि के तौर पर करियर बना सकते हैं। आगे पढ़ें…

बैचलर इन ट्रेवल एंड टूरिज्म मैनेजमेंट (Bachelor in Travel and Tourism Management)

साल 2020 तक भारतीय ट्रैवल मार्केट के 48 अरब डॉलर तक पहुंचने की उम्मीद है। इसलिए आने वाले दिनों में इस सेक्टर में जॉब के और भी मौके हैं। मौजूदा समय में ट्रैवल और टूरिज्म में करियर के कई विकल्प हैं। इस क्षेत्र में आपको ट्रैवल एजेंसी, एयरलाइंस, होटल इंडस्ट्री, टूरिस्ट गाइड, ट्रांसलेटर, टूरिज्म प्रमोशन, सरकारी पर्यटन विभाग जैसे कई सेक्टरों में नौकरी के अवसर मिलते हैं। आगे पढ़ें…

बैचलर इन साइकोलॉजी (Bachelor in Psychology)

मनोविज्ञान में भी अवसरों की कमी नहीं है। यह सेक्टर रोजगार के कई अवसरों से भरा हुआ है। इस क्षेत्र में सामाजिक मनोविज्ञान, नैदानिक ​​मनोविज्ञान, औद्योगिक मनोविज्ञान, उपभोक्ता मनोविज्ञान आदि के क्षेत्र में आसानी से नौकरी मिल सकती है। आगे पढ़ें…

बैचलर नेचुरोपैथी एंड योगा साइंस (Bachelor Naturopathy And Yoga Science)

अगर आप बिना बायोलॉजी के 12वीं में डॉक्टर बनना चाहते हैं तो BNYS यानी बैचलर ऑफ नेचुरोपैथी एंड योग साइंस आपके लिए बहुत अच्छा कोर्स है। इस कोर्स के बाद आप आयुर्वेदिक डॉक्टर बन सकते हैं। वर्तमान में प्राकृतिक चिकित्सक अंग्रेजी दवाओ का उपयोग नहीं कर सकते हैं। अब लोगों की धारणा बदलने लगी है। कई लोगों ने बीमारियों के इलाज के लिए अंग्रेजी दवाओं की जगह योग का सहारा लेना शुरू कर दिया है, क्योंकि यह पूरी तरह से सुरक्षित है। इसलिए इस क्षेत्र में रोजगार के अवसर बढ़ रहे हैं। आप अस्पताल में काम कर सकते हैं, या यहां तक ​​कि अपना क्लिनिक भी शुरू कर सकते हैं। आगे पढ़ें…

बैचलर इन फुटवियर डिजाइन (Bachelor in Footwear Design)

फुटवियर डिजाइनिंग में करियर का दायरा पिछले कुछ वर्षों में तेजी से बढ़ा है। अब लोग नए-नए डिजाइन के आकर्षक जूतों के शौकीन हैं। इसलिए फुटवियर डिजाइन में भी करियर के काफी मौके हैं। इस क्षेत्र में आप प्रबंधन विभाग जैसे डिजाइन, निर्माण, बिक्री और विपणन, गुणवत्ता नियंत्रण आदि में नौकरी पा सकते हैं। आगे पढ़ें…

बैचलर इन फिल्म मेकिंग (Bachelor in Film Making)

फिल्म इंडस्ट्री में करियर बनाने के इच्छुक लोग। फिल्म मेकिंग कोर्स उन लोगों के लिए काफी मददगार साबित हो सकते हैं। आप फिल्म इंडस्ट्री के जिस भी सेक्टर में जाना चाहते हैं, उससे जुड़ा कोर्स करें। मसलन अगर आप एक्टिंग में जाना चाहते हैं तो एक्टिंग का कोर्स करें या डायरेक्शन में जाना है तो डायरेक्शन का कोर्स करें। आगे पढ़ें…

यह भी पढ़िए:- News Portal kaise Shuru kare | How To Start News Portal | ऐसे शुरू करें लाखों रुपये कमाने वाला न्यूज पोर्टल

बैचलर एयरपोर्ट ग्राउंड स्टाफ (Bachelor Airport Ground Staff)

एविएशन सेक्टर में करियर बनाने वाले युवाओं के लिए एयरपोर्ट ग्राउंड स्टाफ कोर्स बहुत अच्छा कोर्स है। इसमें आप एयरपोर्ट ग्राउंड स्टाफ एयरपोर्ट पर गतिविधियों को नियंत्रित करते हैं। इसमें आप डिप्लोमा से लेकर सर्टिफिकेट, डिग्री कोर्स तक कर सकते हैं। आगे पढ़ें…

बैचलर इन ब्रांड मैनेजमेंट (Bachelor in Brand Management)

आज के समय में हर कंपनी का प्रयास होता है कि उसका उत्पाद बाजार में एक अच्छी पहचान बने। इसके लिए कंपनी काफी पैसा भी लगाती है। किसी भी उत्पाद को एक अच्छा ब्रांड बनाने में ब्रांड मैनेजर की अहम भूमिका होती है। ब्रांड प्रबंधन का पूरा काम विज्ञापन पर निर्भर है। इस समय इस क्षेत्र में रोजगार के कई विकल्प हैं। आगे पढ़ें…

बैचलर ऑफ मीडिया मैनेजमेंट (Bachelor of Media Management)

मीडिया समाज का चौथा स्तंभ है। हमें हर तरह की जानकारी मीडिया के माध्यम से ही मिलती है। आज मीडिया एक बड़ा धंधा बन गया है। इस बिजनेस के जरिए लोग नाम और कीमत दोनों कमा रहे हैं। वर्तमान समय में समाचार चैनलों, समाचार पत्रों की बाढ़ आ गई है। उन्हें अपना व्यवसाय ठीक से चलाने के लिए एक प्रबंधन विभाग की आवश्यकता होती है। जिसमें मीडिया मैनेजर की अहम भूमिका होती है। आगे पढ़ें…

बैचलर इन एडवरटाइजिंग (Bachelor in Advertising)

आज विज्ञापन का जमाना है। आप जो देखते हैं वह बिकता है। आज के समय में सभी कंपनियां अपने उत्पाद को लोकप्रिय बनाने की कोशिश करती हैं। कोई उत्पाद या कंपनी केवल विज्ञापन के कारण ही प्रसिद्ध होती है। इसी वजह से आज इस क्षेत्र में सबसे चमकदार करियर बनाया जा सकता है। आगे पढ़ें…

बैचलर इन पब्लिक रिलेशन (Bachelor in Public Relations)

वर्तमान समय में हर कंपनी या संस्था जनता की नजरों में अपनी छवि बनाना चाहती है। इसके लिए सभी कंपनियां और संस्थान जनसंपर्क अधिकारी नियुक्त करते हैं, जिससे जनता की नजर में उनकी छवि बेहतर होती है। आगे पढ़ें…

12वीं के बाद बेस्ट डिप्लोमा कोर्स (Best diploma course after 12th)

अब हम आपको 12वीं कला के बाद कुछ लोकप्रिय डिप्लोमा कोर्स के बारे में बताते हैं। क्योंकि कुछ छात्रों के पास इतना समय नहीं होता है कि उन्हें स्नातक की डिग्री करने में 3 साल लग जाते हैं। तो यहां हम आपको 12वीं आर्ट्स के बाद डिप्लोमा कोर्स के बारे में बताएंगे। क्योंकि डिप्लोमा कोर्स की अवधि 1 से 2 साल की होती है और फीस भी कम।

  • डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन (Diploma in Mass Communication)
  • डिप्लोमा इन टीवी एंकरिंग (Diploma in TV Anchoring)
  • डिप्लोमा इन कंप्यूटर हार्डवेयर इंजीनियरिंग (Diploma in Computer Hardware Engineering)
  • डिप्लोमा इन एयरपोर्ट ग्राउंड स्टाफ (Diploma in Airport Ground Staff)
  • डिप्लोमा इन एविएशन मैनेजमेंट (Diploma in Aviation Management)
  • डिप्लोमा इन एयरहोस्टेस (Diploma in Airhostess)
  • डिप्लोमा इन एनीमेशन (Diploma in Animation)
  • डिप्लोमा इन फोटोग्राफी (Diploma in Photography)
  • डिप्लोमा इन सिनेमेटोग्राफी (Diploma in Cinematography)
  • डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट एंड केटरिंग टेक्नोलॉजी (Diploma in Hotel Management and Catering Technology)
  • डिप्लोमा ईन वीडियो एडिटिंग (Diploma in Video Editing)
  • डिप्लोमा इन वेब डिजाइनिंग (Diploma in Web Designing)
  • डिप्लोमा इन डिजिटल मार्केटिंग (Diploma in Digital Marketing)
  • डिप्लोमा इन डिजिटल मीडिया (Diploma in Digital Media)
  • डिप्लोमा इन कंटेंट राइटिंग (Diploma in Content Writing)
  • डिप्लोमा इन फैशन डिजाइनिंग (Diploma in Fashion Designing)
  • डिप्लोमा इन फुटवियर डिजाइनिंग (Diploma in Footwear Designing)
  • डिप्लोमा इन डिजिटल फ़िल्म मेकिंग (Diploma in Digital Film Making)
  • डिप्लोमा इन फ़िल्म प्रोडक्शन (Diploma in Film Production)

यह भी पढ़िए:- इलेक्ट्रॉनिक मीडिया क्या है? | What Is Electronic Media

12वीं कला के बाद शॉर्ट टर्म या सर्टिफिकेट कोर्स (Short term or Certificate course after 12th arts)

कुछ छात्र 12वीं या 10वीं के बाद शॉर्ट टर्म कोर्स करना चाहते हैं, उनकी अवधि 3 से 6 महीने तक होती है। अक्सर छात्र परीक्षा के बाद गर्मी की छुट्टी में इन कोर्स में शामिल हो जाते हैं क्योंकि परीक्षा के बाद उन्हें लगभग 3 महीने की छुट्टी मिलती है और इस बीच उन्हें कुछ नया सीखने को भी मिलता है। इन कोर्स के जरिए आप 8 से 10 हजार या इससे ज्यादा की जॉब भी पा सकते हैं।

  • सर्टिफिकेट कोर्स इन फोटोग्राफी (Certificate Course in Photography)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन कंप्यूटर एप्लिकेशन (Certificate Course in Computer Application)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन फोटोशॉप (Certificate Course in Photoshop)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन डीटीपी (Certificate Course in DTP)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन हार्डवेयर एंड नेटवर्किंग (Certificate Course in Hardware and Networking)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन केटरिंग टेक्नोलॉजी (Certificate Course in Catering Technology)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन डांसिंग (Certificate Course in Dancing)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन एंकरिंग (Certificate Course in Anchoring)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन एक्टिंग (Certificate Course in Acting)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन प्लांट प्रोडक्शन (Certificate Course in Plant Production)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन एनीमेशन (Certificate Course in Animation)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन ग्राफ़िक डिज़ाइन (Certificate Course in Graphic Design)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन वीडियो एडिटिंग (Certificate Course in Video Editing)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन वौइस् ओवर आर्टिस्ट (Certificate Course in Voice over Artist)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन डिजिटल फ़िल्म मेकिंग (Certificate Course in Digital Film Making)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन स्क्रिप्ट राइटिंग (Certificate Course in Script Writing)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन कैमरा एंड लाइटिंग (Certificate Course in Camera and Lighting)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन सिनेमाटोग्राफी (Certificate Course in Cinematography)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन साउंड इंजिनीरिंग (Certificate Course in Sound Engineering)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन डिस्क जॉकी (Certificate Course in Disc Jockey)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन मोबाइल रिपेरिंग (Certificate Course in Mobile Repairing)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन मेकअप आर्टिस्ट (Certificate Course in Makeup Artist)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन क्रिएटिव राइटिंग (Certificate Course in Creative Writing)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन डिजिटल मार्केटिंग (Certificate Course in Digital Marketing)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन कंटेंट राइटिंग (Certificate Course in Content Writing)
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन ब्यूटीशियन (Certificate Course in Beautician)

इस आर्टिकल को शेयर करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments