Iran Nuclear program: कहां रुकेगा ईरान… समझौते से 27 गुना बढ़ा यूरेनियम भंडार, टेंशन में न्यूक्लियर वर्ल्ड पावर

Iran Nuclear program
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
5/5 - (1 vote)

कहां रुकेगा ईरान… समझौते से 27 गुना बढ़ा यूरेनियम भंडार, टेंशन में न्यूक्लियर वर्ल्ड पावर

Iran Nuclear program: संयुक्त राष्ट्र (UN) की न्यूक्लियर वॉचडॉग संस्था IAEA ने ईरान की परमाणु हथियार बनाने की क्षमता पर चिंता व्यक्त की है। ईरान और इंटरनेशनल ऑटोमिक एनर्जी एजेंसी (IAEA) के बीच 2015 से संघर्ष चल रहा है। 2015 में ईरान और आईएईए के बीच ईरान के परमाणु कार्यक्रम को सीमित करने के बदले अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंधों में रियायतें देने का समझौता हुआ था। लेकिन पिछले 8 सालों से दोनों एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाते आ रहे हैं. हाल ही में IAEA ने दावा किया था कि ईरान ने अपने यूरेनियम भंडार में तेजी से बढ़ोतरी की है.

IAEA ने कहा कि ईरान का यूरेनियम भंडार अनुमानित भंडार से कहीं अधिक है. यूरेनियम भंडार तेहरान और विश्व शक्तियों के बीच 2015 के समझौते में निर्धारित सीमा से 27 गुना अधिक हो गया है। एएफपी की रिपोर्ट के मुताबिक, 10 फरवरी तक ईरान का कुल यूरेनियम भंडार 5,525.5 किलोग्राम था। यह नवंबर की पिछली तिमाही रिपोर्ट से 1,038.7 किलोग्राम अधिक है। हालाँकि, रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि ईरान ने अपने हथियार ग्रेड यूरेनियम भंडार को थोड़ा कम कर दिया है।

ईरान और संयुक्त राष्ट्र के बीच बढ़ता तनाव

हाल के दिनों में ईरान और IAEA के बीच तनाव बढ़ गया है. हाल के वर्षों में, ईरान ने अपने परमाणु कार्यक्रम की निगरानी करने वाली एजेंसियों और अन्य उपायों पर प्रतिबंध लगा दिया है, जिससे ईरान और IAEA के बीच सहयोग धीरे-धीरे कम हो गया है। आईएईए प्रमुख राफेल ग्रॉसी ने तेहरान से एजेंसी के साथ ईमानदारी से सहयोग करने की अपील की है, क्योंकि दोनों पक्षों के बीच संबंध लगातार खराब हो रहे हैं। ग्रॉसी ने यह भी कहा कि इन चिंताओं को ईरान के साथ बातचीत और आपसी सहयोग के जरिए हल किया जा सकता है।

IAEA कैसे काम करता है?

अंतर्राष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी परमाणु ऊर्जा के शांतिपूर्ण उपयोग के लिए दुनिया भर के देशों के लिए काम करती है। यह संस्था परमाणु ऊर्जा का उत्पादन करने वाले देशों पर नज़र रखती है। क्या परमाणु ऊर्जा का इस्तेमाल खतरनाक हथियार बनाने में किया जा रहा है? लगभग 178 देश IAEA संधि का हिस्सा हैं। ईरान पर परमाणु बम बनाने के लिए अपने यूरेनियम कार्यक्रम का उपयोग करने का आरोप लगाया गया है।

(देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले पढ़ें Talkaaj (बात आज की) पर , आप हमें FacebookTwitterInstagramKoo और  Youtube पर फ़ॉलो करे.)

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Google News Follow Me
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
LinkedIn
TalkAaj

TalkAaj

हैलो, मेरा नाम PPSINGH है। मैं जयपुर का रहना वाला हूं और इस News Website के माध्यम से मैं आप तक देश और दुनिया से व्यापार, सरकरी योजनायें, बॉलीवुड, शिक्षा, जॉब, खेल और राजनीति के हर अपडेट पहुंचाने की कोशिश करता हूं। आपसे विनती है कि अपना प्यार हम पर बनाएं रखें ❤️

Leave a Comment

Top Stories