Lal Kitab ke Upay: लाल किताब के 32 सिद्ध अचूक टोटके और उपाय

Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
5/5 - (1 vote)

Lal Kitab ke Upay: लाल किताब के 32 सिद्ध अचूक टोटके और उपाय

लाल किताब में पारंपरिक और स्थानीय सांस्कृतिक अनुभवों पर आधारित समाधान सुझाए गए हैं। इसमें एक ओर वास्तुशास्त्र की बात की गई है तो दूसरी ओर सामुद्रिक शास्त्र की चर्चा की गई है। आइए जानते हैं ऐसे कौन से 32 उपाय हैं जिन्हें करने से सभी प्रकार की परेशानियां दूर हो सकती हैं और घर में सुख, शांति, समृद्धि और धन आ सकता है।

1. नाक और कान छिदवाएं: अपनी कुंडली जांचने के बाद बुधवार के दिन किसी शुभ समय में अपनी नाक छिदवाएं या गुरुवार को गुरु को दान कर दें। नाक में चांदी का तार और कान में सोने का तार 43 दिन तक रखें।

2. सुरमा लगाएं: काला और सफेद सूरमा घर में रखें और आंखों में भी लगाएं। कुंडली के अनुसार 5 ग्राम सुरमा की डली गाड़ने की भी सलाह दी जाती है।

3. चांदी की डिब्बी: घर की तिजोरी या अलमारी में चांदी की डिब्बी में पानी भरकर ढक्कन रखें। जब भी पानी सूख जाए तो उसे तुरंत दोबारा भर दें।

4. ठोस चांदी का हाथी : घर में कम से कम 150 ग्राम ठोस चांदी का हाथी रखें।

5. पत्थर की घट्टी : घर में एक छोटा सा पत्थर का घड़ा रखें।

6. शहद : मिट्टी के बर्तन में शहद भरकर, ढककर घर में किसी उचित स्थान पर रख दें।

7. चांदी का टुकड़ा : चांदी का एक चौकोर टुकड़ा अपने पास रखें या घर की तिजोरी में रखें।

8. गुड़ : घर में देशी गुड़ रखें और समय-समय पर थोड़ा-थोड़ा खाते रहें।

9. कुत्ता : कुत्ते को प्रतिदिन रोटी खिलाते रहें।

10. कंबल: सफेद और काले रंग का दोरंगा कंबल मंदिर में दान करें या किसी गरीब व्यक्ति को दे दें।

11. अन्न दान करें : पेड़, चींटी, पक्षी, गाय, कुत्ता, कौआ, कछुआ, मछली, बूढ़ा, अनाथ, कन्या, अपंग मनुष्य आदि जानवरों के लिए भोजन और पानी की व्यवस्था करें।

12. छाया दान करें: शनि से संबंधित कार्य जैसे व्यभिचार, शराब पीना, ब्याज का धंधा करना और किसी भी मनुष्य या प्राणी पर अत्याचार नहीं करना चाहिए। यदि आप प्रत्येक शनिवार को छाया दान नहीं कर सकते तो कम से कम 11 शनिवार को छाया दान करें।

13. नारीलय का उपाय: एक पानी वाला नारियल लें, उसे अपने ऊपर और परिवार के सदस्यों के ऊपर से 21 बार वारकर आग में जला दें।

14. नारियल का दूसरा उपाय: 6 नारियल लें और उनके ऊपर से 21 बार इस प्रकार वारकर बहते जल में बहा दें।

15. तकिए के पास लोटा रखें : रात को सोते समय तांबे के लोटे में पानी भरकर तकिए के पास रखें और सुबह उठते ही लोटे को बाहर निकाल दें या कीकर के पेड़ पर रख दें। ऐसा कम से कम 43 दिन तक करें और इससे अधिक दिनों तक भी करते रहें तो कोई परेशानी नहीं है।

16. पुजारी को दान करें: मंदिर के पुराने पुजारी या शिक्षक को पीले वस्त्र, धार्मिक पुस्तक या पीले खाद्य पदार्थ दान करें।

17. सिक्का उपाय: किसी के अंतिम संस्कार के समय श्मशान से लौटते समय अपनी पीठ के पीछे कुछ सिक्के फेंक दें और घर आकर स्नान कर लें। रात को सोते समय अपने सिरहाने एक तांबे का सिक्का रखें। सुबह उस सिक्के को किसी श्मशान में फेंक आएं।

Bhagwan Jagannath: 15 दिनों तक बीमार रहते हैं भगवान जगन्नाथ, जानिए इसके पीछे की वजह..??

18. सिक्के दान करें: किसी सफाई कर्मचारी को कुछ सिक्के दान करें।

19. तांबे के सिक्के का उपाय: तांबे के एक गोल सिक्के में छेद करके उसे लाल या सफेद धागे में पिरोकर गले में धारण करें।

20. जल में प्रवाहित करें : बहते जल में रेवड़ी, बताशा, शहद या सिन्दूर प्रवाहित करें।

21. कन्याओं को भोजन खिलाएं : नवरात्रि या बुधवार के दिन कन्याओं को हरा वस्त्र और हरी चूड़ियां दान करें और उन्हें भोजन कराएं। या 21 शुक्रवार को 9 वर्ष से कम उम्र की 5 कन्याओं को खीर और मिश्री बांटें।

तुलसी जी एक पौधा नहीं बल्कि जीवन का हिस्सा हैं… जानें Tulsi से जुड़ें रहस्य!

22. सेंधा नमक : सोते समय अपना सिर पूर्व दिशा की ओर रखें तथा सेंधा नमक के कुछ टुकड़े अपने शयनकक्ष में एक कटोरी में रखें।

23. दही स्नान : शुक्रवार के दिन 100 ग्राम दही पानी में मिलाकर स्नान करें और जब भी स्नान करें तो लकड़ी के तख्ते पर बैठकर करें।

24. तिलक : माथे पर चंदन या केसर का तिलक लगाएं। बेहतर होगा कि आप ऐसा कम से कम 43 दिनों तक करें और नियमित रूप से लगाते रहें।

25. कपूर : घर में सुबह और शाम कपूर जलाएं और सुगंधित वातावरण बनाए रखें।

26. वृक्षों में जल चढ़ाना : पीपल, बरगद, नीम और केले की जड़ में प्रतिदिन जल चढ़ाएं।

27. चांदी का गिलास : चांदी या तांबे के गिलास में ही पानी पियें। अगर मौसम ठंडा है तो तांबे के गिलास का प्रयोग करें।

28. पीतल के बर्तन : घर की रसोई में पीतल और तांबे के बर्तन प्रचुर मात्रा में होने चाहिए।

29. रिश्तों का सम्मान करें: सभी रिश्तों और संबंधों का सम्मान करें।

Mahamrityunjay Mantra: महामृत्युंजय मंत्र का जप करने के ये 5 बड़े चमत्कारी फायदे।

30. हनुमान चालीसा : प्रतिदिन हनुमान मंदिर जाकर हनुमान चालीसा का पाठ करें। हनुमानजी को चोला चढ़ाएं। अगर आप हर दिन नहीं जा सकते तो हर मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को मंदिर जाएं। -एकादशी, प्रदोष या गुरुवार का व्रत रखें।

31. अच्छा आचरण बनाए रखें: अपने या दूसरों के प्रति कठोर शब्द न बोलें। झूठ मत बोलो या गाली मत दो. घरेलू विवादों से बचें. मन में बुरे विचार न लायें. हमेशा सकारात्मक सोचे।

32. वास्तु : घर का निर्माण वास्तु के अनुसार करें। यदि यह वास्तु के अनुसार नहीं बना है तो इसे ठीक करा लें। घर से वास्तु दोष दूर करने के लिए कपूर बहुत महत्वपूर्ण है। यदि सीढ़ियाँ, शौचालय या दरवाजा गलत दिशा में बना हो तो प्रत्येक स्थान पर एक कपूर की छड़ी रखें। वहां रखा कपूर चमत्कारिक रूप से वास्तु दोष दूर कर देगा

Lal Kitab ke Upay: बिजनेस में सफलता के लिए करें ये लाल किताब उपाय, दूर होंगी आर्थिक परेशानियां

और पढ़िए –धर्म आस्था से जुड़ी अन्य बड़ी ख़बरें यहां पढ़ें

(देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले पढ़ें Talkaaj (बात आज की) पर , आप हमें FacebookTwitterInstagramKoo और  Youtube पर फ़ॉलो करे.)

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Google News Follow Me
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
LinkedIn
TalkAaj

TalkAaj

हैलो, मेरा नाम PPSINGH है। मैं जयपुर का रहना वाला हूं और इस News Website के माध्यम से मैं आप तक देश और दुनिया से व्यापार, सरकरी योजनायें, बॉलीवुड, शिक्षा, जॉब, खेल और राजनीति के हर अपडेट पहुंचाने की कोशिश करता हूं। आपसे विनती है कि अपना प्यार हम पर बनाएं रखें ❤️

Leave a Comment

Top Stories