Indian Wedding Tradition: विदाई के समय चावल क्यों फेंके जाते हैं? इस प्रथा के पीछे क्या कारण है?

Why do indian bride throw rice at her vidai
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
5/5 - (1 vote)

Why do indian bride throw rice at her vidai | Indian Wedding Tradition: विदाई के समय चावल क्यों फेंके जाते हैं? इस प्रथा के पीछे क्या कारण है?

Relationships Tips: आज हम आपको विदाई के समय दुल्हन द्वारा चावल फेंकने की रस्म के पीछे का कारण बताने जा रहे हैं, जिसे जानकर आप चौंक जाएंगे, तो आइए जानते हैं कि विदाई के समय चावल क्यों फेंके जाते हैं।

Why do indian bride throw rice at her vidai: भारतीय शादी में निभाई जाने वाली हर रस्म के पीछे मान्यताएं, विश्वास और कई वैज्ञानिक पहलू मौजूद होते हैं। चाहे शादी में दूल्हा-दुल्हन को हल्दी लगाना हो या अग्नि को साक्षी मानकर 7 फेरे लेना हो। इन्हीं रस्मों में से एक है चावल फेंकने की रस्म, जिसे हर दुल्हन विदाई के वक्त निभाती है।

बेटी की विदाई एक ऐसा पल होता है जो लड़कियों के लिए बेहद भावुक कर देने वाला होता है। इस रस्म के बाद लड़की हमेशा के लिए अपना घर छोड़कर ससुराल चली जाती है। चावल फेंकने की यह रस्म नई दुल्हन द्वारा डोली या कार में बैठने से ठीक पहले की जाती है। इसलिए आपने चावल फेंकने की ये रस्म तो कई बार देखी होगी, लेकिन इसके पीछे का कारण बहुत कम लोग जानते हैं।

ऐसे में आज हम आपको विदाई के समय दुल्हन द्वारा चावल फेंकने की रस्म के पीछे का कारण बताने जा रहे हैं, जिसे जानकर आप चौंक जाएंगे, तो आइए जानते हैं (Why do indian bride throw rice at her vidai) विदाई के समय चावल क्यों फेंके जाते हैं…….

आज की बड़ी खबरें देखे

कैसे होती है चावल फेंकने की रस्म

जब कोई लड़की शादी के बाद विदा होती है तो उस समय चावल फेंकने की प्रथा होती है। ऐसे में नई दुल्हन चावल को अपने दोनों हाथों में लेती है और सिर के ऊपर से पीछे की ओर फेंकती है। ऐसा बिना पीछे देखे 5 बार करना है। इस समय लड़की की मां और अन्य महिलाएं फेंके गए चावल को नीचे गिरने से बचाती हैं. फिर वह इन चावलों को घर में संभालकर रखती है।

चावल फेंकने की रस्म क्यों की जाती है?

हिंदू धर्म में लड़कियों को मां लक्ष्मी का रूप माना जाता है। ऐसे में जब वह शादी के समय विदा होती है तो चावल के रूप में अपने परिवार को धन, समृद्धि और आशीर्वाद देकर जाती है। इस वजह से घर की महिलाएं इन चावलों को संभालकर रखती हैं। वहीं, विदाई के समय दुल्हन अपने मामा को बुरी नजर से बचाने के लिए उनके सिर पर चावल भी फेंकती है। इस रस्म के जरिए दुल्हन अपने परिवार से मिले प्यार, सम्मान और कृतज्ञता को व्यक्त करती है।

शादियों में चावल ही क्यों फेंके जाते हैं?

चावल भारत के प्रमुख खाद्य पदार्थों में से एक है। चावल के मूल जीवनदायी गुणों के कारण इसे शुभता, समृद्धि और उर्वरता का प्रतीक माना जाता है। इसके पीछे लोगों का मानना है कि इससे नकारात्मकता दूर होती है। इसी वजह से पूजा-पाठ, धार्मिक और विवाह जैसे शुभ कार्यों में चावल को शामिल किया जाता है।

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी घरेलू नुस्खों और सामान्य जानकारियों पर आधारित है. इसे अपनाने से पहले चिकित्सीय सलाह जरूर लें. TALKAAJ NEWS इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

joinwhatsapp

click here
NO: 1 हिंदी न्यूज़ वेबसाइट Talkaaj.com (बात आज की)

Talkaaj

हिंदी समाचार, ब्रेकिंग न्यूज हिंदी में सबसे पहले पढ़ें Talkaaj.com (बात आज की) पर। सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट टॉकआज (Talkaaj) पर पढ़ें मनोरंजन, खेल जगत, बिज़नेस, सरकारी योजनायें , पैसे कैसे कमाए, टेक्नोलॉजी ,ऑटो हटके खबरें से जुड़ी ख़बरें। Follow us On Social Media For The Latest Big News?

Posted by TalkAaj.com

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Google News Follow Me
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
LinkedIn
Picture of TalkAaj

TalkAaj

हैलो, मेरा नाम PPSINGH है। मैं जयपुर का रहना वाला हूं और इस News Website के माध्यम से मैं आप तक देश और दुनिया से व्यापार, सरकरी योजनायें, बॉलीवुड, शिक्षा, जॉब, खेल और राजनीति के हर अपडेट पहुंचाने की कोशिश करता हूं। आपसे विनती है कि अपना प्यार हम पर बनाएं रखें ❤️

Leave a Comment

Top Stories