Homeअन्य ख़बरेंकारोबारSukanya Samriddhi Yojana: तीन बेटियों वालों की लॉटरी लगी, सुकन्या समृद्धि योजना...

Sukanya Samriddhi Yojana: तीन बेटियों वालों की लॉटरी लगी, सुकन्या समृद्धि योजना पर मोदी सरकार देगी विशेष छूट, चेक करें पूरी डिटेल

Sukanya Samriddhi Yojana: तीन बेटियों वालों की लॉटरी लगी, सुकन्या समृद्धि योजना पर मोदी सरकार देगी विशेष छूट, चेक करें पूरी डिटेल

Sukanya Samriddhi Yojana: सुकन्या समृद्धि योजना में फिलहाल 7.6 फीसदी ब्याज मिलता है। इसमें निवेश करने वालों को सालाना 1.50 लाख रुपये तक की आयकर छूट मिलती है।

यदि आप एक बेटी के पिता हैं तो आप बहुत भाग्यशाली हैं। आपकी खुशियों को और बढ़ाने के लिए केंद्र की मोदी सरकार Sukanya Samriddhi Yojana भी चला रही है। सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) में निवेश एक बेहतर विकल्प है। जिसके तहत बेटी के नाम सुकन्या खाता खोलकर उसमें हर साल एक निश्चित राशि जमा करने पर भविष्य में एकमुश्त राशि का लाभ मिलता है। बेटियों की उच्च शिक्षा, विवाह आदि के लिए इस योजना में निवेश कर बड़ी राशि एकत्र की जा सकती है।

यह भी पढ़िए | RBI: ATM से पैसे निकालने के लिए खत्म हुई Debit Card की झंझट, RBI ने बैंकों को दिए ये निर्देश

केंद्र सरकार ने ज्यादा से ज्यादा लोगों को जोड़ने के लिए इस योजना में कई अहम बदलाव किए हैं। अभी तक इस योजना का लाभ दो बेटियों वाले माता-पिता को ही मिलता था। लेकिन अब सरकार ने एक नया बदलाव किया है और तीन बेटियों के माता-पिता को भी इस योजना का लाभ मुहैया कराया है. सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) में फिलहाल 7.6 फीसदी ब्याज मिलता है। इसमें निवेश करने वालों को सालाना 1.50 लाख रुपये तक की आयकर छूट मिलती है।

यह भी पढ़िए | LIC IPO: इंतजार हुआ खत्म और आ गया बंपर कमाई का मौका, खुल गया देश का सबसे बड़ा IPO

क्या हैं बदलाव

  • अब 3 बेटियों वाले माता-पिता को भी Sukanya Samriddhi Yojana में शामिल किया गया है। इस योजना में निवेश करने वाले माता-पिता को पहले केवल दो बेटियों के खाते पर आयकर से छूट मिलती थी। अब तीसरी बेटी के लिए इसे बदलकर छूट लागू कर दी गई है।
  • दूसरा महत्वपूर्ण बदलाव खाते के संचालन को लेकर है। अब तक खाताधारक बेटी 10 साल की उम्र के बाद ही अपना खाता संचालित कर सकती थी। लेकिन अब वह 18 साल की उम्र पूरी करने के बाद ही ऐसा कर पाएगी। बेटी के 18 साल की उम्र होने तक केवल उसके माता-पिता या अभिभावक ही खाते का संचालन कर सकेंगे।
  • अब हर साल निवेश करने की बाध्यता भी खत्म हो गई है। पहले नियम यह था कि अगर इस खाते में हर साल कम से कम 250 रुपये जमा नहीं किए जाते तो खाता डिफॉल्ट हो जाता। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. परिपक्वता तक जमा की गई राशि पर ब्याज का भुगतान किया जाएगा।
  • अब खाता बंद करने को लेकर बदलाव किए गए हैं। इस योजना का खाता बंद किया जा सकता है यदि बेटी की परिपक्वता से पहले मृत्यु हो जाती है या उसका पता बदल जाता है। लेकिन अब बेटी को जानलेवा बीमारी होने पर भी खाता बंद कराया जा सकता है.

यह भी पढ़िए | FASTag बंद करेगी सरकार, नेविगेशन सिस्टम से वसूला जाएगा टोल टैक्स, जानें सरकार का प्लान

यह भी पढ़िए | WhatsApp का बंपर धमाका! इस फीचर के इस्तेमाल से सभी को पैसे मिल रहे हैं, आप भी उठा सकते हैं फायदा

यह भी पढ़िए| UPI पेमेंट कर देगा बर्बाद! अगर आप भी कर रहे हैं ये 5 गलतियां; पढ़ें और सतर्क रहें

ध्यान दें :- ऐसे ही केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई नई या पुरानी सरकारी योजनाओं की जानकारी हम सबसे पहले अपने इस वेबसाइट Talkaaj.com के माध्यम से देते हैं तो आप हमारे वेबसाइट को फॉलो करना ना भूलें ।

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे Like और share जरूर करें ।

इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ने के लिए धन्यवाद…

Posted by Talkaaj 

🔥🔥 Join Our Group For All Information And Update, Also Follow me For Latest Information🔥🔥

🔥 WhatsApp                       Click Here
🔥 Facebook Page                  Click Here
🔥 Instagram                  Click Here
🔥 Telegram                  Click Here
🔥 Koo                  Click Here
🔥 Twitter                  Click Here
🔥 YouTube                  Click Here
🔥 ShareChat                  Click Here
🔥 Daily Hunt                   Click Here
🔥Google News                  Click Here

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments