बुरी खबर! पुरानी वाहनों (Vehicles) का रजिस्ट्रेशन होगा रद्द, देखें नया आदेश

Vehicles
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp

बुरी खबर! पुरानी वाहनों (Vehicles) का रजिस्ट्रेशन होगा रद्द, देखें नया आदेश

अगर आप बिना सब्सिडी के डीजल वाहन (Vehicles) को EV में बदलना चाहते हैं तो इसकी कीमत 2-3 है। इस काम में हर दिन नई-नई कंपनियां आ रही हैं, जिससे आने वाले समय में डीजल वाहन को ईवी में बदलने की लागत में और कमी आने की उम्मीद है।

डीजल वाहनों (Vehicles) को लेकर दिल्ली सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (NGT) के निर्देशों के बाद, दिल्ली सरकार 1 जनवरी, 2022 को 10 साल पूरे करने वाले सभी डीजल वाहनों का पंजीकरण रद्द कर देगी। हालांकि, सरकार ऐसे वाहनों के लिए अनापत्ति प्रमाण पत्र (NOC) जारी करेगी ताकि वे अन्य जगहों पर दोबारा रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। अगर किसी डीजल वाहन ने अपनी 15 साल की अवधि पूरी कर ली है, तो उसे सरकार से एनओसी नहीं मिलेगी। यानी ऐसे वाहनों का कहीं भी रजिस्ट्रेशन नहीं हो सकता है।

यह भी पढ़िए| सिर्फ 37 हजार देकर घर ले जाएं लंबा माइलेज देने वाली Maruti Alto 800, EMI बस इतनी होगी

दिल्ली परिवहन विभाग ने इस बारे में विस्तार से जानकारी दी है. परिवहन विभाग की ओर से जारी एक आदेश के अनुसार ऐसे डीजल वाहनों के लिए कोई एनओसी जारी नहीं की जाएगी, जिन्होंने पंजीकरण के 15 साल या उससे अधिक समय पूरा कर लिया है। ऐसे में इन पुराने वाहनों को कबाड़ कर देना ही एकमात्र रास्ता बचा है? ऐसी बात नहीं है। कुछ ऐसे तरीके हैं जिनसे इन वाहनों को दिल्ली में चलाया जा सकता है।

NGT के आदेश पर अमल

सबसे पहले जानते हैं कि मामला क्या है। दरअसल, राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (NGT) ने जुलाई 2016 में दिल्ली-एनसीआर (राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र) में 10 साल से पुराने डीजल वाहनों और 15 साल से पुराने पेट्रोल वाहनों के पंजीकरण और चलने पर रोक से संबंधित निर्देश जारी किए थे. हालांकि, इन वाहनों को भी चलाने में सक्षम बनाया जा सकता है, जिसके लिए कुछ बदलाव करने होंगे। पहला उपाय डीजल वाहन को इलेक्ट्रिक वाहन में बदलना है। अगर आप अपने 10 साल से ज्यादा पुराने वाहन को ईवी में बदलते हैं तो दिल्ली में चला सकते हैं। डीजल वाहन को EV में बदलने के लिए आपको 2-3 रुपये खर्च करने पड़ सकते हैं।

यह भी पढ़िए| महज 30 दिनों में इस Car की धुआंधार मांग से हिला बाजार, कम बजट में प्रीमियम फीचर्स के साथ देती है 26 kmpl का माइलेज

EV में कनवर्ट करें

अब अगर आपके पास 15 साल पुराना डीजल वाहन है और आप इसे दूसरे राज्य में ले जाने के लिए बेचना नहीं चाहते हैं, तो ईवी में कनवर्ट करना ही एकमात्र उपाय है। इस बारे में खुद दिल्ली सरकार कह चुकी है। सरकार का कहना है कि पुराने डीजल वाहन को ईवी में बदलकर दिल्ली में चलाया जा सकता है। दिल्ली सरकार पहले ही डीजल वाहनों को इलेक्ट्रिक वाहनों में बदलने के लिए सब्सिडी की घोषणा कर चुकी है। अभी सब्सिडी की घोषणा नहीं हुई है और इस पर नियम बनाए जा रहे हैं।

यह भी पढ़िए| 1.5 लाख की Sports Bike लगती है कार जैसी सुविधाएं, लेकिन कीमत है सिर्फ 77500

अगर आप बिना सब्सिडी के डीजल वाहन को EV में बदलना चाहते हैं तो इसकी कीमत 2-3 है। इस काम में हर दिन नई-नई कंपनियां आ रही हैं, जिससे आने वाले समय में डीजल वाहन को ईवी में बदलने की लागत में और कमी आने की उम्मीद है।

ग्राहकों के पास दो विकल्प हैं

ऐसे ग्राहकों के पास फिलहाल दो ही विकल्प हैं। पहला विकल्प यह है कि उस राज्य को दिल्ली से बाहर किसी रिश्तेदार के नाम पर रजिस्टर कराकर उस राज्य में वाहन भेज दिया जाए। या कार को किसी कार डीलर को बेच दें जो इसे दूसरे राज्य में ले जाएगा। लेकिन इसके रजिस्ट्रेशन पर भारी खर्च आएगा क्योंकि दूसरे राज्य में रजिस्ट्रेशन पर 2 लाख तक का खर्च आ सकता है. यह उस राज्य के टैक्स और नियमों पर निर्भर करेगा। लेकिन ध्यान रहे कि इससे आपको कोई फायदा नहीं होगा क्योंकि वह कार दिल्ली से बाहर किसी राज्य में जाएगी। बेचोगे तो पैसा मिल सकता है, लेकिन 10 साल पुरानी कार 1-1.5 लाख से ज्यादा में नहीं बिकेगी।

यह भी पढ़िए| शानदार मौका, 4 लाख से कम में घर लाएं यह 7 सीटर Car!

एक अन्य उपाय पुराने वाहन को ईवी में बदलना है। अगर आप 2-3 लाख रुपये खर्च कर किसी पुराने वाहन को ईवी में तब्दील करते हैं तो आप दिल्ली में ड्राइव कर सकेंगे। इससे डीजल नहीं लगेगा और कार बिजली से चलेगी। साथ ही दिल्ली सरकार आपको ईवी में बदलने के लिए सब्सिडी देगी।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए –

TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Whatsapp से जुड़े
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Telegram से जुड़े
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Instagram से जुड़े
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Youtube से जुड़े
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप को Twitter पर फॉलो करें
TalkAaj (बात आज की) के समाचार ग्रुप Facebook से जुड़े

Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
TalkAaj

TalkAaj

Leave a Comment

Top Stories

Rakhi

Sawan Purnima के दिन क्यों मनाया जाता है Rakhi का त्योहार,पढ़ें राखी की रोचक कहानियां | The Significance of Raksha Bandhan in India

Sawan Purnima के दिन क्यों मनाया जाता है Rakhi का त्योहार,पढ़ें राखी की रोचक कहानियां | The Significance of Raksha Bandhan in India Rakhi का