HomeदेशBig News : PM Modi, राष्ट्रपति और CJI सहित 10 हजार भारतीयों...

Big News : PM Modi, राष्ट्रपति और CJI सहित 10 हजार भारतीयों की जासूसी कर रहा चीन, यहां देखें लिस्ट

  • जानिए – भारत में चीन जासूसी कर रहा है, राष्ट्रपति, PM Modi, CJI, मेयर से लेकर सरपंच तक, यहां देखें लिस्ट
  • कई राजनीतिक हैवीवेट भी इस चीनी जासूसी का निशाना हैं। जिसमें पूर्व राष्ट्रपतियों, प्रधानमंत्रियों और मुख्यमंत्रियों के नाम शामिल हैं।
  • कई पूर्व सैन्य अधिकारी, राजनयिक, संवेदनशील संस्थान और भारत के कई महत्वपूर्ण मिशन भी काली नजर में हैं।

News Desk: पूर्वी लद्दाख में LAC भारत और चीन के बीच तीन महीने से तनाव में है। जिस तरह से भारतीय सेना ने चीन को अपनी सीमा में रहने के लिए मजबूर किया, उसके बाद ड्रैगन ने अन्य तरीकों से भारत के खिलाफ साजिश रचनी शुरू कर दी। अब शी जिनपिंग की सरकार भारत में डिजिटल पैठ पर काम कर रही है। लेकिन भारत ने अपनी बड़ी साजिश का पर्दाफाश किया।

1350 भारतीय राजनेताओं – सांसदों ने जासूसी की

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट से एक बड़ा खुलासा हुआ है। जिसके अनुसार, चीन भारत की बड़ी राजनीति और राजनीतिक क्षेत्र में बड़े पदों पर बैठे लोगों की जासूसी कर रहा है। इस जासूसी सूची में लगभग 1350 लोगों के नाम शामिल हैं, जिनमें प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी, पाँच प्रधान मंत्री, 40 मुख्य मंत्री, पूर्व और वर्तमान, 350 सांसद, विधायक, विधायक, महापौर, सरपंच और सेना शामिल हैं।

ये भी पढ़े:-X, Y, Z, Z + सुरक्षा क्या है, SPG Security से कैसे भिन्न है, जानिए

चीन के शेनझेन और झेनहुआ ​​इन्फोटेक जासूसी कर रहे हैं

चीनी कंपनियां शेन्ज़ेन इंफोटेक और झेनहुआ ​​इन्फोटेक उन पर जासूसी कर रही हैं। शेन्ज़ेन इन्फोटेक कंपनी चीन की सरकार की कम्युनिस्ट पार्टी के लिए यह जासूसी कर रही है। इस कंपनी का काम अन्य देशों की निगरानी करना है।

PM Modi
file Photo PTI spying China

 

किन बड़े आंकड़ों पर जासूसी की जा रही है?

वर्तमान प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी
पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी
सीडीएस बिपिन रावत
भारत के मुख्य न्यायाधीश एसए बोबडे
एचडी देवगौड़ा सहित चार पूर्व प्रधान मंत्री
24 सी.एम.
350 एमपी
16 पूर्व मुख्यमंत्री
70 मेयर, डिप्टी मेयर

ये भी पढ़े :-गरीब बच्चों को Sonu Sood का तोहफा, मां के नाम पर शुरू की छात्रवृत्ति

चीन विभिन्न दलों के लगभग 700 नेताओं पर भी नजर गड़ाए हुए है

इतना ही नहीं, बल्कि चीन द्वारा विभिन्न दलों के लगभग 700 नेताओं पर भी नजर रखी जा रही है। इसके अलावा, 460 लोग हैं जो इन नेताओं के करीबी रिश्तेदार हैं। 100 से अधिक नेताओं का एक पारिवारिक पेड़ बनाया गया है, जिसकी निगरानी की जा रही है। लगभग एक दर्जन वर्तमान और पूर्व राज्यपालों का विवरण भी रखा गया है। वहीं, कई बंदरगाहों के 200 छोटे बड़े नेता भी चीन की वॉच लिस्ट में शामिल हैं।

ये भी पढ़े :-‘हाउसफुल में काम चाहिए तो मेरे सामने कपड़े उतारो’: Sajid Khan पर यौन उत्पीड़न का आरोप

दिवंगत राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का नाम भी शामिल

यानी राजनीति के कई दिग्गज इस चीनी जासूसी के निशाने पर भी हैं। जिसमें पूर्व राष्ट्रपतियों, प्रधानमंत्रियों और मुख्यमंत्रियों के नाम शामिल हैं। जिसमें चीन की साजिश का नाम सामने आया है। इनमें दिवंगत राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, एपीजे अब्दुल कलाम भी थे।

चीनी जासूस पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हा राव और अटल बिहारी वाजपेयी से संबंधित सूचनाओं पर नजर रख रहे हैं, जिन्होंने चीन के साथ ऐतिहासिक समझौते किए हैं।

ये भी पढ़े :- Fake news के लिए पुलिस WhatsApp Group Admin और सेंडर को करेगी गिरफ्तार

चीन इन राज्यों के मुख्यमंत्रियों की निगरानी भी कर रहा है

महाराष्ट्र के उद्धव ठाकरे, पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी, ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक, झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन और दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया भी ड्रैगन की नजर में हैं। साथ ही चीन ने कमलनाथ, लालू प्रसाद यादव और मुलायम सिंह यादव जैसे कई पूर्व मुख्यमंत्रियों की भी जासूसी की है।

भारतीय राजनेता ही नहीं, कई पूर्व सेना अधिकारी, राजनयिक, संवेदनशील संस्थान और भारत के कई महत्वपूर्ण मिशन भी चीन की नज़र में हैं। यह स्पष्ट है। युद्ध का मैदान या डिजिटल मंच। चीन का डर हर जगह आ रहा है।

ये भी पढ़े:-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments