Search
Close this search box.

CBSE Board Exams 2021: CBSE के नए नियम, 10 वीं बोर्ड परीक्षा में कोई भी छात्र Fail नहीं होगा

CBSE
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
Reddit
LinkedIn
Threads
Tumblr
Rate this post

CBSE Board Exams 2021: CBSE के नए नियम, 10 वीं बोर्ड परीक्षा में कोई भी छात्र Fail नहीं होगा

CBSE के छात्रों के लिए अच्छी खबर आई है। सीबीएसई बोर्ड के नए नियमों के अनुसार, अब कोई भी छात्र कक्षा 10 (CBSE Board Exams 2021) में असफल नहीं होगा। कुछ नंबरों की कमी के कारण हर साल कई बच्चे फेल हो गए और उनका पूरा साल बर्बाद हो गया। नए फैसले के बाद, उन्हें कम संख्या के बावजूद 11 वीं में पदोन्नत किया जाएगा।

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) के स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों के लिए बहुत अच्छी खबर आई है। दरअसल, स्किल इंडिया (Skill India) के उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए सीबीएसई बोर्ड (CBSE Board) ने नए नियम बनाए हैं। छात्रों को इनसे कई लाभ मिलने वाले हैं।

ये भी पढ़े:-Samsung Galaxy S21 सीरीज़ की बिक्री भारत में शुरू, 10,000 तक की छूट

ये भी पढ़े:- अब गाँवों में संपत्ति और रास्तों का विवाद हल हो जाएगा: सर्वे Google Map से किया जाएगा, जिसकी संपत्ति उनकाे मिलेंगे पट्टे

नए नियम के अनुसार, सीबीएसई छात्र अब कक्षा 10 की परीक्षा (CBSE Board Exams 2021) में असफल नहीं होंगे। कई छात्र मैथ (Math) या साइंस (Science) विषयों में फेल हो जाते हैं लेकिन अगर वे कंप्यूटर या किसी अन्य कौशल में अच्छे हैं तो केवल एक या दो विषयों में अच्छे अंक न आने पर वे असफल (Fail) नहीं होंगे। ।

छात्रों का साल बर्बाद नहीं होगा

सीबीएसई (CBSE) के ये नियम कुशल (Skilled) बच्चों के साल खराब करने से बचेंगे। कई कुशल बच्चे किसी एक विषय (Subject) में कमजोर होने के कारण असफल हो गए और उनका साल बर्बाद हो गया। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। वास्तव में, सीबीएसई (CBSE) ने अपने नियमों में कुछ नए बदलाव जोड़े हैं।

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now
Google News Follow Me

इस नए नियम को लेकर लोग तरह-तरह की प्रतिक्रिया दे रहे हैं। बच्चे इस नए नियम से बहुत खुश हैं, जबकि कुछ शिक्षक और माता-पिता भी बहुत परेशान हैं।

ये भी पढ़े:- EPFO : ये PM खाता खोलने के 5 लाभ हैं, मुफ्त बीमा के साथ कई लाभ उपलब्ध हैं

ये भी पढ़े:- Goog News : बिजनेस कमाई कराने वाले! पैसा बरसेगा जैसे ही आप शुरू करेंगे, किसी भी ट्रेनिंग की आवश्यकता नहीं होगी

नई शिक्षा नीति को लेकर कई बदलाव हो रहे हैं

सीबीएसई (CBSE) द्वारा तय किए गए कौशल आधारित शिक्षण कार्यक्रम में छात्रों की रुचि साल-दर-साल बढ़ रही है। 2020 में, जहां 20 प्रतिशत छात्रों ने कौशल-आधारित विषयों (Skill Based Learning Program) को चुना, 2021 में उनका प्रतिशत 30 था। छात्रों का रुझान कौशल विकास (Skill Development) की ओर बढ़ा है और यहां तक ​​कि अगर किसी को पुस्तक अध्ययन में अच्छा नहीं माना जाता है, तो कोई भी नहीं होगा। छात्र का नुकसान।

नई शिक्षा नीति (New Education Policy) को लेकर स्कूलों में कई बदलाव किए जा रहे हैं। हाल ही में, शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने CBSE के प्रमुख से बात की। इसमें उन्होंने स्कूलों में नई शिक्षा नीति लागू करने पर जोर दिया।

ये भी पढ़े:- UPI पिन बनाने का तरीका क्या है, ऑनलाइन लेन-देन के लिए क्यों जरूरी है, इससे जुड़ी सारी जानकारी

ये भी पढ़े:- PM Awaas Yojana: पीएम मोदी ने कहा- हमारा लक्ष्य गरीबों को घर देना है

ये भी पढ़े:- सावधान! क्या आपको यह मैसेज आया तो नहीं? गृह मंत्रालय ने Alert भी जारी किया

ये भी पढ़े:- रेलवे (Railways) ने जारी किया अलर्ट, अगर नहीं मानी तो 6 महीने की जेल होगी, भारी जुर्माना लगाया जाएगा

Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
LinkedIn
Reddit
Picture of TalkAaj

TalkAaj

Hello, My Name is PPSINGH. I am a Resident of Jaipur and Through This News Website I try to Provide you every Update of Business News, government schemes News, Bollywood News, Education News, jobs News, sports News and Politics News from the Country and the World. You are requested to keep your love on us ❤️

Leave a Comment

Top Stories