Homeअन्य ख़बरेंकारोबारMSP पर सरकार ने किसानों को दिया बड़ा तोहफा, खरीफ पर 50...

MSP पर सरकार ने किसानों को दिया बड़ा तोहफा, खरीफ पर 50 फीसदी तक बढ़ाई MSP

MSP पर सरकार ने किसानों को दिया बड़ा तोहफा, खरीफ पर 50 फीसदी तक बढ़ाई MSP

न्यूज़ डेस्क:- केंद्र सरकार ने किसानों को बड़ा तोहफा दिया है। खरीफ फसलों पर MSP में पचास प्रतिशत की वृद्धि। धान पर एमएसपी 1868 से बढ़ाकर 1940 रु. वहीं, अरहर दाल के एमएसपी में 62 फीसदी की बढ़ोतरी हुई।

केंद्र सरकार ने किसानों को बड़ा तोहफा देते हुए खरीफ फसलों पर  न्यूनतम समर्थन मूल्य यानी MSP (Minimum Support Prices) में पचास फीसदी की बढ़ोतरी की है. सरकार ने धान, बाजरा, अरहर का एमएसपी बढ़ाया। वहीं, सरकार ने चावल पर MSP 1868 रुपये से बढ़ाकर 1940 रुपये प्रति क्विंटल कर दिया। इसके साथ ही अरहर की दाल पर MSP में 62 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है।

किसानों की आय दोगुनी करने का वादा

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि मोदी सरकार देश के किसानों की आय दोगुनी करने के लिए प्रतिबद्ध है. आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने खरीफ विपणन सीजन 2021-22 के लिए सभी खरीफ फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य को मंजूरी दे दी है। इसका लाभ देश के करोड़ों किसानों को मिलेगा।

यह भी पढ़िए:- Big News: Bank Privatisation को लेकर, Central Bank और IOB के अलावा Bank of India भी होंगे प्राइवेट!

इस मौके पर कृषि मंत्री ने कहा कि 7 साल में किसानों के हित में कई फैसले लिए गए. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के नेतृत्व में पिछले 7 वर्षों में कृषि के क्षेत्र में एक के बाद एक कई ऐसे फैसले लिए गए, जिससे किसानों की आय बढ़ेगी, किसानों को महंगी फसलों की ओर आकर्षित किया जाएगा, किसान के घर में समृद्धि और खेती को लाभदायक बनाना। चलो एक सौदा करते हैं।

एमएसपी पर मोदी सरकार का क्रांतिकारी फैसला

इस दौरान कृषि मंत्री ने कहा कि ‘मोदी सरकार ने MSP को उत्पादन लागत के 1.5 गुना (या उत्पादन लागत पर कम से कम 50 फीसदी लाभ) के स्तर पर तय करने का क्रांतिकारी फैसला लिया है.’

यह भी पढ़िए:- Google से ऐसे करें डिलीट अपनी Search और location history, जानिए पूरी प्रक्रिया

नरेंद्र तोमर ने बताया कि ‘चल रहे खरीफ मार्केटिंग सीजन (KMS)  2020-21 (6 जून 2021 तक) के लिए पिछले साल के 736.36 LMT की तुलना में MSP पर 813.11 LMT से अधिक धान की खरीद की गई थी, ताकि KMS को अधिक से अधिक जारी किया जा सके। इससे 120 लाख किसान लाभान्वित हुए हैं।

उन्होंने यह भी कहा कि इसी तरह, ‘पिछले वर्ष की खरीद 372.23 लाख मीट्रिक टन की तुलना में अब तक 416.95 लाख मीट्रिक टन से अधिक गेहूं की खरीद की गई है, जिससे लगभग 45.67 लाख किसानों को लाभ हुआ है.’

MSP है और MSP आगे भी रहेगी

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) ने दावा किया कि MSP है और भविष्य में भी MSP रहेगा। रबी और खरीफ का MSP भी लगातार घोषित किया जा रहा है। MSP चल रहा है, MSP बढ़ रहा है और MSP पर खरीद भी बढ़ रही है.

बात करने के लिए तैयार – नरेंद्र सिंह तोमर

सरकार किसानों से बात करने को तैयार है। कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) ने कहा कि किसान अपनी आपत्ति तर्क सहित बताएं. उन्होंने यह भी कहा कि सरकार जब चाहे तब चर्चा के लिए तैयार है. पीएम मोदी की सरकार किसानों के साथ है.

धान का एमएसपी 72 रुपये बढ़ाकर 1,940 रुपये प्रति क्विंटल किया गया

उन्होंने कहा कि सरकार ने फसल वर्ष 2021-22 के लिए धान का MSP 72 रुपये बढ़ाकर 1,940 रुपये प्रति क्विंटल कर दिया है, जो पिछले साल 1,868 रुपये प्रति क्विंटल था। बाजरा जो 2020-21 में 2150 रुपये प्रति क्विंटल था अब 2250 रुपये प्रति क्विंटल हो गया है। तोमर ने कहा कि कृषि फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाया जा रहा है और भविष्य में भी यह बढ़ता रहेगा.

यह भी पढ़िए :-सावधान रहें, गलती से भी Google पर ये बातें सर्च न करें, वरना पहुंच जाएंगे जेल!

तोमर ने कहा कि सरकार प्रदर्शन कर रहे किसानों से बातचीत के लिए तैयार है. कृषि कानूनों पर अपनी चिंता को तार्किक आधार पर लाएं।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि खरीफ सीजन से पहले ही एमएसपी घोषित किया जा चुका है और इसे बढ़ा भी दिया गया है. रेलवे यातायात को और अधिक सुरक्षित बनाने के लिए रेलवे को 4जी स्पेक्ट्रम का अधिक आवंटन किया गया है। अभी तक रेलवे 2जी स्पेक्ट्रम का इस्तेमाल करता था।

इस आर्टिकल को शेयर करें

ये भी पढ़े:- 

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें और  टेलीग्राम पर ज्वाइन करे और  ट्विटर पर फॉलो करें .डाउनलोड करे Talkaaj.com पर विस्तार से पढ़ें व्यापार की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments