PM Awaas Yojana: पीएम मोदी ने कहा- हमारा लक्ष्य गरीबों को घर देना है

PM Awaas Yojana
Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp

PM Awaas Yojana: पीएम मोदी ने कहा- हमारा लक्ष्य गरीबों को घर देना है

न्यूज़ डेस्क: पीएम आवास योजना ग्रामीण (Pradhan Mantri Awaas Yojana- Gramin) योजना 20 नवंबर 2016 को शुरू की गई थी। इस योजना के तहत अब तक 1.26 करोड़ घर बनाए जा चुके हैं। इस योजना में 5.30 लाख लाभार्थी हैं, जिन्होंने वित्तीय सहायता की पहली किस्त प्राप्त की, जबकि 80 हजार ऐसे लाभार्थियों ने दूसरी किस्त प्राप्त की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने आज पीएम आवास योजना (Pradhan Mantri Awaas Yojana-Gramin) यानी PMAY-G के तहत उत्तर प्रदेश के 6.1 लाख लाभार्थियों को 2,691 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता जारी की। पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सिर्फ लाभार्थियों से मुलाकात की है।

पीएम मोदी ने कहा, ‘कुछ दिनों पहले कोरोना को हराने के लिए देश में टीकाकरण शुरू हुआ है। आज एक और अच्छा काम हुआ है। आवास योजना से गांवों की तस्वीर बदल रही है। हमारी सरकार का लक्ष्य है कि गरीबों के पास घर हो। गरीबों को घर दिए जाएं।

ये भी पढ़े:- UPI पिन बनाने का तरीका क्या है, ऑनलाइन लेन-देन के लिए क्यों जरूरी है, इससे जुड़ी सारी जानकारी

इस योजना में 5.30 लाख लाभार्थी हैं, जिन्होंने वित्तीय सहायता की पहली किस्त प्राप्त की, जबकि 80 हजार ऐसे लाभार्थियों ने दूसरी किस्त प्राप्त की। लाभार्थियों ने पीएम मोदी को भी धन्यवाद दिया। लाभार्थियों ने कहा कि उन्हें कोई उम्मीद नहीं थी कि उन्हें सरकार से इतनी बड़ी मदद मिलेगी। इसे पाकर वे बहुत खुश हैं। बातचीत के अंत में, मोदी ने लाभार्थियों की भी कामना की।

पीएम ने आगे कहा, ‘मुझे आज खुशी है कि यूपी देश के उन राज्यों में शामिल है, जहां ग्रामीण और ग्रामीण क्षेत्रों में सबसे तेजी से घरों का निर्माण किया जा रहा है। आज की घटना भी इसी गति का एक उदाहरण है। आप सभी को, विशेषकर माताओं और बहनों को बहुत-बहुत बधाई। आपका अपना घर, सपनों का घर बहुत जल्द आपके लिए उपलब्ध होने वाला है।

ये भी पढ़े:- सावधान! क्या आपको यह मैसेज आया तो नहीं? गृह मंत्रालय ने Alert भी जारी किया

पीएम मोदी ने कार्यक्रम में चित्रकूट की राजकुमारी से बात की और पूछा कि बारिश के घर में पानी आता था, लेकिन अब सरकार द्वारा पक्के मकान बनाए जा रहे हैं। साथ ही पीएम मोदी ने सहारनपुर के लाभार्थी से पूछा कि क्या आपको कोई रिश्वत देनी है, जिस पर लाभार्थी ने कहा कि अधिकारी खुद उसके घर आए थे और सभी काम किए गए थे।

ये भी पढ़े:-भारत सरकार ने व्हाट्सएप (WhatsApp) को लिखा सख्त पत्र, कहा- अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी वापस लें

पीएम ने गुरु गोविंद सिंह को भी याद किया

आज दशम गुरु श्री गुरु गोविंद सिंह जी का प्रकाश पर्व है। गुरु गोविंद सिंह को याद करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, ‘मैं इस पावन अवसर पर प्रकाश पर्व के अवसर पर देशवासियों को भी बधाई देता हूं। मैं सौभाग्यशाली हूं कि मुझे गुरु साहिब का आशीर्वाद मिला। गुरु साहिब मेरे सेवक से निरंतर सेवा लेते रहे हैं। हमें गुरु गोविंद सिंह जी के जीवन से प्रेरणा मिलती है कि वे सेवा और सच्चाई के रास्ते पर चलते हुए सबसे बड़ी चुनौती का मुकाबला करें।

ये भी पढ़े:-क्या आपको अभी तक अपना Tax refund (टैक्स रिफंड) नहीं मिला है? चेक करें कि इस तरह से पैसा कब तक आएगा!

“गरीब के घर का सपना सच हो गया”

इस दौरान सीएम योगी ने कहा कि भाजपा सरकार में देश में गरीबों को मकान उपलब्ध कराए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि यूपी के लिए सात लाख से ज्यादा घरों को मंजूरी दी गई है। पीएम आवास योजना ने हर गरीब के सामने घर का सपना सच कर दिया है।

पीएम आवास योजना क्या है?

पीएम आवास योजना ग्रामीण 20 नवंबर 2016 को शुरू की गई थी। इस योजना के तहत अब तक 1.26 करोड़ घर बनाए जा चुके हैं। PMAY-G के तहत रु। मैदानी इलाकों में प्रत्येक लाभार्थी को घर देने के लिए 1.20 लाख, जबकि पहाड़ी क्षेत्रों (नॉर्थ ईस्ट राज्यों / दुर्गम स्थानों / जम्मू और कश्मीर और लद्दाख केंद्र शासित प्रदेशों / IAP / LWE) के लोगों को 1.30 लाख की वित्तीय सहायता दी जाती है।

इसके अलावा, PMAY-G के लाभार्थियों को मनरेगा के तहत अकुशल श्रमिकों को सहायता भी दी जाती है। उन्हें शौचालय निर्माण के लिए स्वच्छ भारत मिशन-ग्रामीण के माध्यम से 12 हजार रुपये की वित्तीय सहायता दी जाती है।

ये भी पढ़े:-आस्था का शिखर: जगतपुरा 4 एकड़ में बनेगा, राज्य का सबसे ऊंचा 200 फीट का Shree Krishna Temple

ये भी पढ़े:- रेलवे (Railways) ने जारी किया अलर्ट, अगर नहीं मानी तो 6 महीने की जेल होगी, भारी जुर्माना लगाया जाएगा

Facebook
Twitter
Telegram
WhatsApp
TalkAaj

TalkAaj

Leave a Comment

Top Stories