Home अन्य ख़बरें शिक्षा CBSE की नई तकनीक: मार्कशीट केवल ऐप पर Face Reading से डाउनलोड...

CBSE की नई तकनीक: मार्कशीट केवल ऐप पर Face Reading से डाउनलोड की जाएगी, 10 वीं -12 वीं के छात्रों की होगी सुविधा

CBSE की नई तकनीक: मार्कशीट केवल ऐप पर Face Reading से डाउनलोड की जाएगी, 10 वीं -12 वीं के छात्रों की होगी सुविधा

News Desk:- केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने 10 वीं -12 वीं के छात्रों के लिए मार्कशीट और अन्य दस्तावेज डाउनलोड करने के लिए एक नई प्रणाली शुरू की है। अब छात्र बिना आधार और मोबाइल नंबर के ही डिजीलॉकर से अपने दस्तावेज डाउनलोड कर सकेंगे। बोर्ड ने दस्तावेजों को डाउनलोड करने के लिए फेशियल रिकॉग्निशन सिस्टम पेश किया है, जिसकी मदद से छात्र कहीं भी कभी भी अपने दस्तावेज डाउनलोड कर सकेंगे।

ये भी पढ़े :- WhatsApp एक नया फीचर लेकर आ रहा है, इसका था लंबे समय से इंतजार

विदेशी छात्रों की परेशानी दूर होगी

सीबीएसई के प्रवक्ता रमा शर्मा ने भास्कर को बताया कि छात्र इस नई प्रणाली को केवल डिजीलॉकर के माध्यम से एक्सेस कर पाएंगे। जो छात्र DigiLocker पासवर्ड या अपना मोबाइल नंबर भूल गए हैं या किसी अन्य कारण से DigiLocker खोलने में असमर्थ हैं, उनके लिए यह तकनीक बहुत मददगार साबित होगी। विशेषकर विदेशी छात्र, जिनके पास आधार कार्ड नहीं है, वे इस प्रणाली के माध्यम से कहीं भी अपनी मार्कशीट और प्रमाण पत्र आसानी से डाउनलोड कर सकेंगे।

ये भी पढ़े :- लोग Instant Loan के नाम पर चूना लगा रहे हैं, App के जरिए ठगी की जा रही है; ये हैं बचने के उपाय

फेशियल रिकॉग्निशन तकनीक कैसे काम करेगी?

रमा शर्मा ने कहा कि यह एक एप्लिकेशन सॉफ्टवेयर है, जिसमें मार्कशीट और सर्टिफिकेट चेहरे को पढ़ने के बाद डेटाबेस में पहले से स्टोर स्टूडेंट्स की फोटो जैसे विवरण के साथ चेहरे से मिलान करने के बाद उन्हें उपलब्ध कराया जाएगा।

छात्र इन दस्तावेजों को बाद में अपनी सुविधानुसार डाउनलोड कर सकते हैं। एक बार जब छात्र का चेहरा डेटाबेस में डिजिटल छवि से मेल खाता है, तो वे इसे एक्सेस और डाउनलोड कर सकते हैं। आवेदन अब “परीक्षा मंजूषा” और डिजिलॉकर digilocker.gov.in/cbse-certificate.html पर सभी परीक्षा रिकॉर्ड के लिए उपलब्ध है।

ये भी पढ़े :-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments